दीदी चुदाई के लिए तड़प रही थी चोद कर मैंने शांत किया

Hindi Stories NewStoriesBDnew bangla choti kahini

कई बार कुछ ऐसा हो जाता है और उस समय यह समझ नहीं आता है कि क्या करना चाहिए क्या नहीं करना चाहिए। मेरे साथ ऐसा हुआ था आज से 3 दिन पहले मुझे समझ ही नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं। आखिर मुझे वह सब करना पड़ा जो एक भाई अपने बहन के साथ नहीं करता। आज मैं आपको अपनी सेक्स कहानी जो मेरी बहन के साथ है वह बताने वाला। कैसे मैंने अपनी बहन को चोद कर उनके गर्मी शांत किया था। आप लोगों को अजीब लग रहा होगा पर उस समय मैं क्या करता मेरे पास और कोई चारा नहीं था इस वजह से जो मुझे अच्छा लगा मैंने वही किया।

यह सब क्यों और कैसे हुआ था वह अब आपको मैं सीधे-सीधे शब्दों में बताने जा रहा हूं। मेरा नाम राकेश है मेरी बहन का नाम रानी है। मैं रानी दीदी उनको बोलता हूं वह मेरे से 3 साल बड़ी है। हम दोनों बड़े ही फ्रेंडली स्वभाव के हैं। एक ही कमरे में सोते हैं अलग अलग बैड है। मम्मी पापा दोनों निचले फ्लोर पर सोते हैं और हम दोनों भाई बहन ऊपर के फ्लोर पर सोते हैं। हम दोनों ही पढ़ाई कर रहे हैं अभी तक। दीदी काफी ज्यादा हॉट और सेक्सी है यूट्यूब पर वह सेक्सी वीडियो बनाते हैं आप हैरान हो जाओगे अगर आप उनका वीडियो देख लोगे तो इतनी सेक्सी है दोस्तों क्या बताऊं।

इंस्टाग्राम पर उनके 50,000 फोल्लोवर हैं। जब भी वह कोई भी वीडियो डालती है तो बहुत ज्यादा कमेंट होने लगता है उस वीडियो पर। दीदी को यह सब बहुत अच्छा लगता है इस वजह से वह और भी सेक्सी सेक्सी पोज देकर एक से एक हॉट और सेक्सी रील बनाते हैं और सोशल मीडिया पर डालकर लोगों को गर्म करते रहती है। मेरे लिए तो यह सब आम बातें हैं मैं रोजाना देखता हूं। पर जो लोग पहली बार मेरी दीदी का वीडियो देखते हैं वह लोग पागल हो जाते हैं ऐसे से कमेंट करते हैं दीदी तो खुश होती है पर मुझे बहुत गुस्सा आता है। यह तो मैंने अपने दीदी के बारे में बताया कि वह कैसी है वह क्या काम करते हैं अब मैं सीधे कहानी पर आता हूं।

हॉट सेक्सी गोरी लाल लाल होंठ बड़ी-बड़ी चूचियां गोल गोल गांड मोटी जांग, ऐसा किसी लड़की का हो तो कोई भी आदमी बिना मूठ मारे नहीं रह सकता है। मैं सच बताता हूं दोस्तों मैं खुद अपनी बहन को देखकर उनके बारे में सोच कर उनकी चुचियों को देखकर कई बार मैंने रजाई के अंदर हस्तमैथुन करके अपनी अंतर्वासना को शांत किया था पर 1 दिन ऐसा हुआ जो मुझे ऐसा करने की नौबत ही नहीं आई सीधा लंड ही उनके चूत में घुसा दिया था।

1 दिन की बात है मेरे मम्मी पापा दोनों शादी में गए हुए थे रात को 1:11 बज गए थे मैं नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर सेक्स कहानियां पढ़ रहा था रजाई में मुंह अंदर करके , मेरी दीदी क्या कर रही थी वह मुझे नहीं पता। एकदम से मेरे कानों में आवाज आई मैं डर गया मुझे लगा कि दीदी को कुछ हो गया है मैं जैसे ही रजाई से अपना मुंह निकाला। मेरी दीदी रजाई फेंक चुकी थी वह नंगी थी अपना हाथ चूत पर और दूसरा हाथ अपनी चुचियों पर रखकर मसल रही थी और चूत को सहला रही थी। दांत उसके पीस रहे थे जोर-जोर से वह हिल रही थी ऐसा लग रहा था उसको ठंड लग गया। वह थरथरा रहे थे काँप रही थी। मुझे समझ नहीं आ रहा था कि आखिर उनको हो क्या गया।

मैं जल्दी से रजाई हटाया पर उनके बेड के पास जाकर खड़ा हो गया उनकी आंखें सफेद हो रही थी उनके होंठ लाल हो गए थे। वह बहुत ज्यादा बेचैन थी हाथ पैर काफी ज्यादा हिल रहा था मुंह से तरह-तरह की आवाजें निकाल रही थी। रह रहे कि उनकी आंखें बंद हो रही थी पूरा पलंग हिल रहा था। मैं तुरंत पूछा उनको कि रानी दीदी क्या हो गया आपको ऐसा क्यों कर रहे हो। वह कुछ नहीं बोली मेरा हाथ पकड़ कर अपने चूत पर रख दिया। अपनी टांगे फैला दी मुझे ऊपर आने को बोली। और मेरा उंगली अपने चूत के अंदर डलवाने लगी।

मैं समझ गया इनको कोई बीमारी हो गई है हिस्टीरिया की बीमारी। उनके चूत में मैंने उंगली डालने और निकालने शुरू की वह और भी ज्यादा थरथर आने लगी। उनके दांत एक दूसरे से बज रहे थे। दीदी ने मुझे इशारे से अपनी चुचियों को दबाने के लिए बोली। मैंने तुरंत ही उनकी दोनों बड़ी बड़ी चूचियों को अपने हाथ में ले लिया और जोर जोर से मसलने लगा। फिर वह अपने चूत पर अपना हाथ रख दे और वह खूब रगड़ने लगी। मैं कभी उनके चुचियों को दबाता कभी उनके चूत में उंगली करता , जैसे ही मैं उनकी चूत में उंगली करता हूं चुचियों को दबाता तो वह सर हिलाकर कहती थी हां ऐसा ही कर।

क्या बताऊं दोस्तों हॉट सेक्सी गोरी भले ही मेरी बहन है इस हालात में देख कर मुझसे रहा नहीं गया मेरा लैंड खड़ा हो गया। मैंने तुरंत ही अपने कपड़े उतार दिए , और अपनी बहन को चोदने के लिए तैयार हो गया। मैंने दोनों चुचियों को पहले दबाना शुरू किया। फिर उनके हॉट शरीर को छूने लगा अंगों को महसूस करने लगा। उनके गाल पर चुम्मा लेने लगा उनके होंठ पर चुम्मा लेने लगा। वह मुझे अपनी बाहों में भर ली उनकी बड़ी-बड़ी चूचियां टाइट चूचियां मेरे छाती से चिपक रही थी मैं पागल हुए जा रहा था।

दीदी ने अपने टांगें फैला दी और मुझे चूत चाटने के लिए बोली। मैं तुरंत ही अपना जीभ निकाला और दीदी की चूत को चाटने लगा। जैसे ही मैं चाटना शुरू किया दीदी और भी ज्यादा पागल हो गई मेरे बाल को पकड़ ले और मुझे अपनी चूत में बार-बार धक्के देकर रगड़ रही थी। दीदी की चूत काफी ज्यादा गीली हो गई थी गरम गरम पानी निकल रहा था मैं उनकी चूत के पानी को चाट रहा था जो काफी नमकीन लग रहा था मैं काफी ज्यादा सेक्सी हो गया था उस समय।

दीदी तभी शांत नहीं हो रही थी उन्होंने टांगों को अलग अलग किया और मुझे चोदने के लिए बोला। मैंने तुरंत अपना लंड निकालकर दीदी के चूत के छेद पर लगाया और जोर से घुसा दिया। दीदी मचल उठी जोर जोर से धक्के दे देकर उनके चुचियों को मसलते हुए मैं अपना पूरा लंड उनकी चूत के अंदर घुसा रहा था और फिर बाहर निकाल रहा था। उनके मुंह से तरह-तरह के सेक्सी आवाज निकल रही थी वह अपने होंठ को खुद अपने दांतों से काट रही थी। मैं जोर जोर से धक्के दे देकर उनको चोद रहा था।

फिर वह तुरंत घोड़ी बन गई मुझे पीछे से चोदने के लिए बोली मैं अपना लंड उनके गांड के तरफ से उनके चूत के छेद पर लगाया और जोर से घुसाने लगा मेरी दीदी बहुत ज्यादा खुश हो गई अब वह शांत हो गई थी पर मजे ज्यादा लेने लगी थी। शायद उनको चुदाई की बीमारी लग गई है इस वजह से वह ऐसा कर रही थी अब वह शांत हो गई अब वह सिर्फ चोदना चाह रहे थे मुझसे मजे लेना चाह रहे थे। मैं जोर-जोर से उनके चूत में अपना लंड उनके गांड के तरफ से घुसा रहा था उनके चूतड़ पर मैं थप्पड़ मार मार के उन को चोद रहा था। फिर वह मुझे नीचे लिटा दी मेरे ऊपर चल गई मेरा लंड पकड़ कर चूसना शुरू कर दिया फिर वह 10 मिनट तक लैंड को चूसने के बाद। लंड पकड़ कर अपने चूत के छेद पर रख कर बैठ गई।

मेरा पूरा लंड उनकी चूत में समा गया अब वह जोर-जोर से चुदवाने लगे। मैं उनकी चुचियों को मसल ता हुआ मैं नीचे से धक्के दे देकर अपना पूरा लंड उनकी चूत के अंदर घुसा रहा था। उसके बाद हम दोनों एक दूसरे को एक से एक अच्छे अच्छे पोज देकर खुश कर रहे थे। करीब डेढ़ घंटे के चुदाई के बाद मेरे दीदी शांत हो गई और मैं भी शांत हो गया। हम दोनों से रजाई के अंदर नंगे ही सो गए क्योंकि ऐसे भी पापा मम्मी उस दिन आने वाले नहीं थे।

दीदी मुझे अपनी बाहों में ले ली और आई लव यू बोल कर मुझे 7:00 सुलाली मैं उनके चूचियों को मसलते हुए पूरी रात उनके जिस्म को टटोल ते हुए। बीच-बीच में लंड उनकी चूत में घुस आते हुए पूरी रात मजे से काटा। उस रात में ने करीब 6 बार उनको चोदा था हम दोनों पूरी रात जगे ही रहे थे। उस दिन के बाद तो हम दोनों की लॉटरी लग गई है जल्दी-जल्दी हम लोग खाना खाकर अपने कमरे में आ जाते हैं और मम्मी पापा को भी कहते हैं जल्दी सो जाओ जल्दी सो जाने से सेहत अच्छी रहती है।

मम्मी पापा भी हम दोनों की बात आजकल मानते हैं वह लोग भी जल्दी सो जाते हैं और हम दोनों जल्दी अपने कमरे में आकर एक दूसरे के जिस्म के साथ खेलते हैं और चुदाई करते हैं। नॉनवेज स्टोरी पर ये मेरी पहली कहानी है मैं दूसरी कहानी जल्द ही आपको सुनाने वाला हूँ। तब तक के लिए धन्यवाद।

See also  भाभी को चोदकर प्रेगनेंट किया देवर – एक जबरदस्त हॉट और मजेदार सेक्स कहानी

Leave a Comment