बीमार सेक्सी कज़िन की मस्त चुदाई की

Hindi Stories NewStoriesBDBangla choti golpo

Sexy Cousin ki chudai story:- हेलो रीडर्स ये मेरी पहली स्टोरी है. मेरा नाम जस्सी है. मैं पंजाब से हूं. मैं २३ साल का हूं. ये स्टोरी मेरी और मेरी कजिन रूह की है कैसे मैंने अपनी कज़िन रूह को मस्त तरीके से चोदा. तो चलिए शुरू करते है।

Sexy Cousin ki chudai story hindi

मेरी कजिन रूह की उम्र 32 साल है और वह 5 साल से मैरिड है. उसका 2 साल का एक बेबी है और उसका घर भी हमारे घर से नज़दीक ही है. वो दिखने में पूरी गोरी और हॉट है. उसके बूब्स और गांड दोनों पूरे भरे हुए है किसी का भी उसे देख के उसकी लेने का मन करे. दिखने में किसी एक्ट्रेस से कम नहीं है. ये स्टोरी आज से 6 महीने पहले की है. मैं और रूह व्हाट्सप्प पे काफी चैट करते रहते थे. हम बहुत क्लोज थे ये बात घर में सब को पता थी. इवन जीजा को भी पता थी. वो मुझसे बहुत बातें शेयर करती थी. पर कुछ समय से वो काफी उदास सी रहने लगी थी. मैंने कई बार पूछा पर उसने कहा नहीं सब ठीक है.

एक दिन मुझे रूह का कॉल आया और उसने कहा की उसको बहुत ज्यादा सिर मे दर्द था. उसके घर पे भी कोई नहीं था. जीजा दुसरे शहर में थे और उसके सास ससुर किसी शादी पे गए थे. मैंने उसको कहा की आता हूं मैं, और जाने से पहले जीजा को कॉल किया. वो बोले की 5-7 दिन लगेंगे उन्हें आने में. फिर मैं वहाँ से निकला और रूह को कॉल किया कि मैं आ रहा हूँ. उसने कहा कि आ जाओ जल्दी. मैं फ़ास्ट बाइक चलाने लगा. मेरे मन में रूह के रिगार्डिंग उस टाइम वैसे कुछ गलत नहीं था. मैं रूह के बारे में सोच रहा था और उसके घर पहुंचा तो दरवाज़ा पहले से ही खुला था.

मैं अंदर गया तो रूह बेड पे हलकी-हलकी नींद ले रही थी. उसने पतली सी टी-शर्ट और शॉर्ट्स पहनी थी. उस टी-शर्ट से उसके बूब्स के साफ़-साफ़ दर्शन हो रहे थे. पहले तो मैं देख के शोक्ड हो गया. फिर मैंने रूह को ना उठाने का सोचा और देखा उसका बेबी उसी की साइड में सो रहा था. मैं उसके पाँव के पास बैठा और पाँव दबाने लगा. रूह ने कहा की उसे पूरी बॉडी में पेन है और मैं उसको डॉक्टर के पास ले चलूँ. मेरी पहचान का एक डॉक्टर है. तो मैंने उसे कॉल करके घर ही बुला लिया क्यूंकि रूह और बेबी को लेके जाना मुश्किल था. फिर रूह को जल्दी से कुछ और पहनने को दिया. क्यूंकि जो मुझे दिख रहा था मैं नहीं चाहता था कि डॉक्टर को भी दिखे. फिर थोड़े टाइम बाद डॉक्टर ने चेक किया और मुझे बताने लगा की उसका फीवर हाई था और रूह का ख़याल रखने की ज़रुरत थी. तो रूह ने मुझे रात को वही रुकने को कहा.

मैंने हां कह दिया. फिर बाहर से खाना मंगवाया और रूह को खिलाया एंड मेडिसिन दे दी. रूह पसीने की वजह पूरी भीग गयी. उसने लूस टी-शर्ट पहनी थी जो बिलकुल चिपक गयी थी. उसके बड़े-बड़े बूब्स साफ़ दिखने लगे. मेरा ध्यान उसके गोल-गोल बूब्स पे था जो बिना ब्रा के बहुत बड़े लग रहे थे. मैं तो बस उसके बूब्स का वही पे दीवाना हो गया. थोड़ी देर बाद उसने मुझे कहा की उसको वोमिट आ रही है तो मैं उसको वाशरूम ले चलूँ. मैंने उसको उठाया और कमर से पकड़ा और उसको धीरे-धीरे वाशरूम ले गया. वो वोमिट करने की कोशिश कर रही थी पर हो नहीं रही थी. वो झुक के बैठ गयी जिसकी वजह से उसका लोवर नीचे हो गया और मुझे उसकी गांड दिखने लगी. मैंने खुद पे कण्ट्रोल किया और उसको वहाँ से उठाया. फिर बेड पे ले गया और लिटा दिया.

वो कुछ ऐसे लेटी कि मेरा हाथ उसके नीचे आ गया. मैं हाथ निकालता उससे पहले उसने करवट ले ली. जिसकी वजह से उसका बूब बिलकुल मेरे हाथ में था. मुझे हाथ निकालते हुए पता नहीं क्या हुआ, मैंने उसका बूब ज़ोर से दबा दिया. उसके मुँह से पेन में आह निकली और मैं जल्दी से बाहर चला गया. इतने में बेबी रोने लग गया. शायद उसको भूख लग गयी थी. मैं बहाने से बाहर जाके लंड हिला के वापस आया तो देखा रूह बेबी को अपना दूध पिला रही थी. मैं अंदर बैठा पर शायद वो वीक फील कर रही थी तो उसने मुझे देख के अपने बूब्स कवर नहीं किये.

मैंने पहली बार उसके नंगे बूब्स देखे. इतने वाइट और बड़े बूब्स और पिंक निप्पल. मेरा मन था कि मै भी उसके बूब्स चूस लू. मै उसके बूब्स देखता रहा जो उसने भी नोटिस किया. फिर रात हो गयी तो हम एक ही बेड पे सो रहे थे. मैंने उसको मेडिसिन दी. बेबी झूले में सो रहा था और मैं और रूह बेड पे. तकरीबन एक घंटे बाद रूह को मेडिसिन की वजह से गर्मी लगने लगी. वो पसीने से भर गयी. उसने मुझे चेक किया तो मैं सोने का नाटक कर रहा था. उसने मुझे सोता हुआ देख अपनी टी-शर्ट निकाल दी और बूब्स को आज़ाद कर दिया और सो गयी.

क्यूंकि वो सुबह जल्दी उठती थी और मैं लेट. तो उसे लगा होगा मेरे उठने से पहले वो तैयार हो जाएगी. पर मैं तो पहले से जगा हुआ था. मैंने थोड़ा वेट किया और थोड़ी देर बाद उससे बिलकुल चिपक के लेट गया. वो काफी गहरी नींद में थी. मैंने पहली बार उसके बूब्स पे हलके से हाथ रखा. क्या सॉफ्ट बूब थे. मेरे एक हाथ में पूरा भी नहीं आ रहा था. मैंने धीरे-धीरे उसको दबाना शुरू किया. आअह्ह्ह क्या मज़ा आ रहा था. फिर मैंने अपना लोवर उतार दिया और उसका हाथ अपने लंड पे रखा. क्या टच था मेरा लंड पूरा तम्बू बन गया. फिर मैंने उसके निप्पल पे अपने लिप्स लगाए.

उफ्फ्फ्फ़ मुझे करंट सा लगा. मैं धीरे-धीरे दबाने और चूसने लगा. मुझे पता ही नहीं लगा मैं इतना खो गया कि धीरे-धीरे से मैं कब उसका पूरा बूब ज़ोर से दबाने लगा कि उसका दूध भी निकल आया. मैंने बूब चूस-चूस के रेड कर दिया. वो नींद में आह आह कर रही थी. फिर मैंने उसके हाथ से अपना लंड हिलाया और पानी निकाल दिया. फिर मुझे कब नींद आ गयी पता ही नहीं चला. मैं ऐसे नंगा ही सो गया.

सुबह को उठ के क्या हुआ मैं रूह के कितना और क्लोज हुआ ये आपको नेक्स्ट पार्ट में पता चलेगा. तो मिलते है नेक्स्ट पार्ट में.

Read More Cousin Sister Sex Stories

See also  Bewafa Wife Sex Story, मेरे सामने किसी और से चुदती है

Leave a Comment