ममेरी बहन को पूरी रात चोदा

Hindi Stories NewStoriesBDnew bangla choti kahini

Mameri Bahan Sex Kahani : हेलो फ्रेंड्स, आज मैं आपको एक बहुत ही सेक्सी कहानी सुनाने जा रहा हूं। यह कहानी मेरे और मेरी चचेरी बहन के बीच सेक्स संबंध की है। मेरी मां मेरी बहन बहुत ही हॉट और सेक्सी है। खूबसूरती इतनी की मत पूछिए, पूरी रात मैंने उनको मजा दिया था। पर अफसोस इस बात का है कि बस एक रात के लिए ही था। वो रात मेरी इतनी हसीन थी कि आज भी मैं उस रात को याद करके खुश होता हूं। शायद मेरी जिंदगी की सबसे खूबसूरत रात में से एक रात थी। तो आइए जानते हैं उस रात की कहानी कैसे मैंने अपने मन मेरी बहन को जबरदस्त तरीके से पूरी रात उनको खुश किया।

मेरा नाम विक्रम है और मेरी मां मेरी बहन का नाम ममता, ममता और मेरे बीच ज्यादा उम्र का फासला नहीं है मैं उससे मात्र 3 साल बड़ा हूं। मेरी शादी नहीं हुई और उसकी शादी हो गई है बस फर्क इतना ही है। मैं दिल्ली के पालम इलाके में रहता हूं। मैं एक बड़ी मल्टीनेशनल कंपनी में काम करता हूं। मेरी बहन जर्मनी में रहती है। क्योंकि उसका पति जर्मनी में ही सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। साल में एक बार इंडिया आती है। दिल्ली से फ्लाइट होने की वजह से वह धनबाद से दिल्ली मेरे पास ही आई। उसकी राजधानी ट्रेन थी तो मैं उसको लेने के लिए नई दिल्ली रेलवे स्टेशन गया था। मैं अकेला ही एक फ्लैट में रहता हूं।

ममता की फ्लाइट दूसरे दिन दिन में 12:00 बजे थी। यानी कि वह 1 दिन पहले ही आ गई थी। जब एक लड़के के यहां कोई जवान लड़की या औरत रुकने के लिए आए तो उसको कितनी खुशी होते हैं वह आप सभी को पता है। मुझे भी बहुत खुशी हुई थी। दिन भर तो किसी तरीके से कट गया शाम को 5:00 बजे हम दोनों बाहर खाना खाने के लिए गए। ममता को भी कोई बच्चा नहीं हुआ है। तो हम दोनों एक कपल के तरीके से बाहर निकले घूमने के लिए खाना खाने के लिए। जब आप किसी के साथ समय बिताते हैं तो दिल की बातें भी निकलती है।

ममता ने भी अपने दिल की बात मुझसे शेयर की, उसने कहा कि वह अपने पति से खुश नहीं है। क्योंकि उसका पति देखने में सुंदर नहीं है और सेक्स में भी ज्यादा रुचि नहीं रखता है। और उसका संबंध उसके अपनी बहन से भी है। मैं हैरान हो गया इस बात को सुनकर भाई-बहन के बीच सेक्स संबंध होने की वजह से पत्नी से दूरियां हो जाती है। असल में ममता के ननंद भी जर्मनी में ही रहती है। तो जवाब किसी को कंधा देते हैं तो भावना में बैठकर बात आगे तक भी चली जाती है।

रात को 9:30 बजे वापस हम लोग फ्लैट पर आए तो मैं एक बोतल भी अपने साथ ले आया, मुझे लगा कि ममता नहीं पीती है। पर मैं हैरान हो गया वह बोली किसके साथ थोड़ा सा चिकन भी ले लेते हैं तुम्हें समझ गया कि वह भी मेरे साथ तो मैंने बाहर ही चिकन फ्राई करवा लिया था ताकि व्हिस्की के साथ चिकन भी खाया जाएगा। हम दोनों बैठ गए टेबल पर पैग बना कर पीने लगे। नशा चढ़ता है बहकी बहकी बातें भी शुरू हो जाती है। ममता बहक गई ममता बोली आज रात तुम्हारे साथ हूं और मैं चाहती हूं कि यह आज की रात मेरे लिए यादगार रात हो जाए।

क्योंकि हम दोनों ऐसे भी अकेले हैं तो जिंदगी जीने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहिए जब मौका जैसे मिले उठा लो मजा क्या पता कब कैसा वक्त आ जाए। इसलिए आजकल मैं खुश रहना चाहती हो। अगर तुम चाहो तुम्हें तुम्हारे साथ सोने के लिए तैयार हूं आज। मेरी तो खुशी का ठिकाना नहीं रहा क्योंकि दिन भर में यह सोच रहा था कि काश मैं ममता को चोद पाता इतनी खूबसूरत औरत इतनी खूबसूरत लड़की शायद मुझे ना मिले पर अगर एक रात के लिए भी यह मिल जाए तो मैं जिंदगी भर इसी को याद करके अपना काम चला लूंगा।

हम दोनों ही नशे में आ चुके थे ममता मेरे करीब बैठ गई हम दोनों एक दूसरे के आंखों में आंखें डाल कर देख रहे थे धीरे-धीरे हम दोनों ही करीब आ गए वह मेरा हाथ पकड़ ली। और मेरा होंठ उसके होंठ के तरफ बढ़ चला और हम दोनों ही एक दूसरे के होंठ को चूमने लगे। मेरा हाथ उसकी चूचियों पर चला गया चूचियां उसकी बड़ी ही टाइट थी। मैंने तुरंत ही उसके ऊपर से उतार दिए। मैंने खुद भी अपना टी-शर्ट उतार दिया और मैंने फिर ममता के ब्रा का हुक खोल कर उसके बड़ी-बड़ी टाइप चूचियां को उसके ब्रा से आजाद किया। उसका गोरा बदन गुलाबी होंठ और कजरारे नैन को देखकर मैं पागल हो गया था। ममता भी अपनी नशीली आंखों से देखकर वह खुद भी अपने होंठ को अपने दांतों तले दबा रही थी।

मैं उसके चुचियों को मसल ता हुआ उसको लिटा दिया। निप्पल को दोनों उंगलियों से दबा दबा कर मैं उसको चूमने लगा। जैसे ही अपना हाथ उसकी चूत पर रखा उसकी चूत काफी गर्म थी और पानी पानी हुआ था। मेरा लंड यह सब देख कर 9 इंच लंबा और 3 इंच मोटा हो गया। मैं पहली बार अपने लंड को इतना मोटा लंबा देख रहा था क्योंकि ऐसा मौका मुझे पहले कभी मिला भी नहीं था। मेरे लंड को देखते ही ममता अपने हाथ में लेकर हिलाने लगी और वह तुरंत ही अपने मुंह में लेकर चूसने लगी।

करीब 10 मिनट तक वह मेरे लंड को चुस्ती रहे। उसके बाद वह खुद ही अपने टांगो को अलग-अलग फैला दें ताकि मैं उसकी चूत को चाट सकूं मैंने भी वैसा ही किया दोनों टांगों के बीच में बैठकर ममता की गीली चूत को चाटने लगा। ममता की चूत बहुत टाइट दिखाई दे रही थी।  बाल बिल्कुल भी उस पर नहीं थे नेचुरल नहीं थे। उंगलियां घुसा घुसा कर उसके पानी निकालता और फिर अपनी जीभ से साफ कर देता। ममता अंगड़ाइयां लेने लगी। सिसकारियां लेने लगी। और झटके भी देने लगी।

ममता चुदने के लिए पूरी तरीके से तैयार हो गई थी। अपना लंड पकड़कर मैंने ममता के चूत के छेद पर लगाया और घुसा दिया। ममता नीचे से धक्के देने लगे और ममता अंगड़ाइयां लेने लगी। जैसे-जैसे उसकी चूत के अंदर लंड अंदर बाहर होता था उसके मुंह से सेक्सी आवाज निकलती थी। वह खुद ही अपने चुचियों को मसलने लगी। मैं उसके होंठ को चूमता हुआ उसकी चुचियों को दबोच ता हुआ जोर जोर से धक्के दे देकर उसकी चूत से अपने लंड को अंदर-बाहर करने लगा।

10 मिनट के बाद ही वह पागल हो गई वह मुझे नीचे लिटा कर ऊपर चढ़ गई मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत में लेकर जोर जोर से धक्के दे देकर मुझे गालियां दे दे कर खुद ही एक आदमी की तरह करने लगे। ऊपर चढ़कर वह जोर जोर से धक्के दे देकर मेरा पूरा लंड अंदर ले लेती थी। उसके बाद मेरे सीने को सहलाते हुए मेरे होंठ को चूमती और गांड घुमा घुमा कर उछल उछल कर चोदने लगे। मैं नीचे से धक्के देता वह पर से धक्के देते। पूरे कमरे में फच फच की आवाज आने लगी।

फिर वह घोड़ी बन गई मैं पीछे से उसकी गांड के तरफ से लगाया अपने घुसा दिया। जोर जोर से धक्के देकर मैं उसको चोदने लगा। जैसे जैसे जैसे मैं झटके देता उसकी चूचियां आगे पीछे होती। करीब 1 घंटे की चुदाई के बाद हम दोनों ही ढीले पड़ गए। फिर हम दोनों में एक एक पैग बनाया और पीना शुरू किया एक-दो घंटे तक हम दोनों एक दूसरे के बाहों में पड़े रहे।

फिर से हम दोनों शुरू हो गए अब ममता बिना लाज शर्म के मेरे शरीर के अंगों के साथ खेल रही थी मैं भी कभी उसकी चूत में उंगली डालता कभी उसके गांड में उंगली डालता। और जैसे जैसे हम दोनों गर्म हो जाते फिर से एक बार ममता की चूत में अपना लंड घुसा कर उसके गर्मी और अपनी गर्मी शांत कर लेता। पूरी रात में करीब 3 बार मैंने ममता को चोदा और वह भी बड़े ही जबरदस्त सेक्सी तरीके से अपने वासना की आग को बुझाई। सुबह 8:00 में उसको छोड़ने एयरपोर्ट गया। ऐसा लग रहा था वह मेरी बीवी रहे और वह विदेश जा रही है मुझे छोड़कर। पर उसने मुझसे वादा किया कि आपने जब भी आऊंगी यहीं रहूगी और दो-तीन दिन तक। फिर हम दोनों खूब मजे करेंगे।

उस दिन के बाद से हम दोनों फ़ोन सेक्स करते हैं जा उसका पति ऑफिस जाता है मुझे वीडियो कॉल करती है और हम दोनों ही हस्थमैथुन करते हैं। मैं उसके आने का इंतज़ार में हूँ। आपको ये कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर सुनाते हुए बहुत ही अच्छा लग रहा है। आशा करता हु जल्द ही आपको अपनी दूसरी कहानी भी सुनाऊंगा।

See also  Cab Driver Sex Story, Driver Hindi Sex Story, Driver Ki Sexy Kahani

Leave a Comment