माँ के साथ जंगल मे हुआ कांड 2

Hindi Stories NewStoriesBDBangla choti golpo

Mom son sex story:- सॉरी दोस्तों! बहुत टाइम लगाया इस सेकंड पार्ट पोस्ट करने में, मै थोड़ा बिजी था इस वजह से थोड़ा ज्यादा समय लग गया। अब ये स्टोरी जल्दी ही कंप्लीट करूंगा। अगर आपने (माँ के साथ जंगल मे हुआ कांड पार्ट 1) नहीं पढ़ा है तो यहाँ पढ़िए. दोस्तों अब तक आपने पढ़ा कि कैसे मै और माँ जंगल में रास्ता भटक गए और जंगल में रात बितानी पड़ी अब आगे…

Mammy ke sath sex adventure Mom son sex story

माँ- बेटा तुम इन्हें नहीं छू सकते यहाँ सिर्फ तेरे पापा ही हाथ लगा सकते है।

मै- पर ऐसा क्यों माँ?

माँ-वो तुम्हें शादी के बाद पता चलेगा, अभी चुपचाप सो जा.

फिर हम दोनों सो गए. सुबह होते ही माँ ने मुझे जगाया और बोलि…

माँ-बेटा जल्दी चलो तुम्हारे पापा बहुत परेशान होंगे, उनको ये भी पता नहीं होगा की हम किस हालत में है.

मै-लेकिन माँ मुझे वॉटरफॉल देखना है।

मॉम-बेटा समझने की कोशिश करो, तुम्हारे पापा को हमारी चिंता सता रही होंगी, उन्हें तो ये भी मालूम नहीं होगा की हम किस हालत में है.

मै-माँ मै वॉटरफॉल देखे बिना घर नहीं जाऊंगा, तुमहे जाना है तो जाओ.

माँ-बेटा मै तुमहे अकेले छोड़ के नहीं जा सकती और मुझे रास्ता भी मालूम नहीं है।

मै-फिर चलते है ना वॉटरफॉल के पास।

मॉम- तुम्हारे पापा बहुत परेशान होंगे, प्लीज समझने की कोशिश करो।

मै- एक काम करते है यहाँ आस पास देखते है कही नेटवर्क है तो फिर पापा को कॉल करेंगे. फिर तो कोई परेशानी नहीं है न आपको.

माँ-लेकिन यहाँ नेटवर्क मिलेगा नहीं।

मै- ट्राई करते है अगर नेटवर्क नहीं मिला तो फिर हम वापस चलते है घर.

माँ- ठीक है!

15 मिनट भटकने के बाद हमें एक जगह थोड़ा सा नेटवर्क मिला. मैंने जल्दी से पापा को कॉल किया और सारी बात बता दी, फिर पापा बोले कोई बात नहीं तुम दोनों आराम से घूम के आ जाओ. Mom son sex story

मै- माँ अब तो कोई प्रॉब्लम नहीं है ना? अब पापा ने भी परमिशन दे दी है।

मॉम-लेकिन हम वहाँ कैसे जायेंगे? हमे तो रास्ता भी मालूम नहीं कही!! फिर से भटक गए तो?

मै- आप मेरे पीछे पीछे चलो जो होगा देख लेंगे।

फिर 2 घंटे चलने के बाद हम वॉटरफॉल तक पहुंच गए. वॉटरफॉल देख के हम दोनों ख़ुशी से झूम उठे. वॉटरफॉल बहुत ही सुंदर था.

मै- माँ चलो न वॉटरफॉल में नहाते है।

मॉम- लेकिन हम और कपडे नहीं लाये फिर कैसे नहायेंगे?

मै- माँ यहाँ हम दोनों के आलावा कोई नहीं है. क्या हम कपडे उतारके…

माँ- पागल हो गए हो क्या? बिना कपडे मै नहीं नहा सकती तुमहे नहाना है तो नहा लो!

मै- माँ प्लीज चलो ना!!

मॉम- मै तुम्हारे सामने बिना कपड़ो में नहीं नहा सकती समझा करो।

मै- ठीक है अगर आपको मुझसे शर्म आती है तो एक काम करते है मै अपनी आँखों पे पट्टी लगा लूंगा फिर तो कोई प्रॉब्लम नहीं है ना?

मॉम- लेकिन मै तुमको भी बिना कपडे नहीं देखना चाहती हूँ।

मै- माँ लेकिन आपने तो मुझे बिना कपड़ो के देखा है ना बचपन मे।

मॉम- लेकिन अब तुम बच्चे नहीं रहे।

मै- ठीक है तुमको नहीं नहाना है तो चलते है घर और बहाने मत बनाओ।

मॉम- ठीक है नाराज मत हो मै नहाने चलती हूँ लेकिन तुम अपनी आँखों की पट्टी मत हटाना.

मै-ठीक है मॉम!!

Maa Beta sex story hindi

फिर मैंने पेड़ के कुछ पत्ते निकाले और माँ से कहा की पत्तो से मेरी आँखे बंद करो, जिससे कि मै कुछ देख नहीं सकूँ। फिर मैंने अपने सारे कपडे निकाले और माँ के पास दे दिए रखने के लिए. माँ ने भी सारे कपडे निकाले और मेरा हाथ पकड़के मुझे वॉटरफॉल के पास लेके जाने लगी. वॉटरफॉल के पास पहुंचते ही ऊपर से तेज पानी की धार सीधे आके मेरे चेहरे पे गिर गयी और मेरी आँखों से पत्ते निकल गए. हड़बड़ाहट में मैंने आँखे खोली और मुझे एक झटका सा लगा… माँ मेरे सामने बिलकुल नंगी खड़ी थी. पहली बार मैंने किसी औरत को नंगी देखा था. माँ को देख के ना चाहते हुवे भी मेरा लंड खड़ा हो गया. माँ ने मेरी तरफ देखते ही अपना शरीर ढकने की कोशिश की और वहाँ से भाग के पत्तर के पीछे चुप गयी. Mom son sex story

See also  बेटे ने माँ की चूत मे मोटा लौडा पेल दिया

माँ-(गुस्से से)तुमहे कहा था ना आँखे मत खोलना, फिर तुमने आँखे क्यों खोली?

मै-माँ मैंने जान बूझके नहीं खोली, आई ऍम सॉरी….

माँ-मुझे कुछ नहीं सुनना, मै जा रही हूँ कपडे पहनने तुम नहा लो..

माँ कपडे लेने के लिए जैसे ही आगे बढ़ी तो वहाँ पे 1 आदमी हमारा बैग हाथ में पकडे खड़ा था. माँ को नंगी देख के वो हसने लगा और बोला-

आदमी- वाह क्या मस्त माल है यार…आज तो बहुत मजा आने वाला है…आजा मेरी रानी…

माँ उसको देख के बहुत डर गयी और मेरी तरफ भाग के आ गयी. मै भी बहुत डर गया क्योंकी वो एक बहुत हट्टा कट्टा आदमी था. मैंने माँ का हाथ पकड़ा और जंगल के रास्ते भागने लगा।

आदमी- अबे साले बिना कपडे कहा भाग रहे हो (और हमारा पीछा करने लगा)।

हम दो- तीन किलोमीटर नंगे ही भाग गए, फिर हम बहुत थक गए. लेकिन वो आदमी अभी भी हमारा पीछा कर रहा था…

माँ-बेटा मै और नहीं भाग सकती!

मै- मै भी थक गया हूँ लेकिन हम रुक गए तो वो सांड पता नहीं क्या करेगा तुम्हारे साथ. फिर कुछ देर और भागने के बाद हमे घनी झड़ियों में एक जगह मिली छुपने के लिए.

मै- माँ यहाँ छुपते है!!

मॉम- लेकिन ये जगह तो बहुत छोटी है, मुश्किल से एक आदमी जा पायेगा.

मै-हम दोनों थक गए है और भागने लगे तो वो हमे पकड़ लेगा इससे अच्छा यहीं छुपते है. तुम नीचे लेट जाओ और मै तुम्हारे ऊपर लेट जाऊंगा.

माँ-लेकिन हमने कपडे नहीं पहने है और ऐसी हालत में एक दूसरे के ऊपर….

मै- माँ सोचने का टाइम नहीं है जल्दी छुप जाओ वो आदमी आता ही होगा.

माँ जल्दी से उन झड़ियों में लेट गयी, मै भी बिना कुछ सोचे माँ के ऊपर लेट गया. कुछ ही देर में उस आदमी कि वहाँ से दौड़ने की आवाज आयी.

माँ-लगता है वो चला गया हमे अभी जाना चाहिए.

मै-अभी नहीं माँ अगर वो आदमी फिर से लौट के आया तो… हमे कुछ देर और रुकना होगा.

माँ- हाँ शायद तुम ठीक कह रहे हो!

छुपने के समय हम दोनों घबराहट में थे, इसलिए कुछ सोच नहीं पाए लेकिन अब हम दोनों को शर्म आने लगी. एक माँ-बेटा वो भी बिलकुल नंगे एक दूसरे के ऊपर लेटे हुवे थे. माँ के नंगे जिस्म पे टच करने के कारण मेरा लंड खड़ा हो गया था और शायद माँ को चुभ रहा था, लेकिन माँ कुछ बोल नहीं पायी. कल रात माँ के जिस बूब्स को मै टच करना चाहता था, आज वही बूब्स पे मेरा सर था. Mom son sex story

मै- माँ आई ऍम सॉरी!!!

माँ- क्यु!!

मै- वो मेरा आपको चुभ रहा होगा…सॉरी माँ मेरे मन में आपके बारे में कुछ गलत नहीं है लेकिन.

माँ-कोई बात नहीं बेटा तुम्हारी उम्र में हो जाता है ऐसा और तुम तो मेरा बेटा है मुझे मालूम है तू मेरे बारे में कभी गलत नहीं सोच सकता.

मै-माँ अब हम इस हालत में घर कैसे जाएंगे?

मॉम- वो बाद में सोचेंगे पहले इस मुसीबत से निपटते है.. वो आदमी इतनी आसानी से नहीं जायेगा.

माँ के ऊपर लेते मुझे 10 मिनट ही हुवे थे की हमे किसी के पैरो की आवाज सुनाई दी. हम बहुत डर गए हमें लगा वो आदमी फिर से आ गया. हम वैसे ही चुपचाप बिना हिले डुले लेटे रहे. तभी हमे एक लड़की की आवाज सुनाई दी-

लड़की-जानू सच मे यहाँ कोई आता जाता नहीं है न? मुझे तो बहुत डर लग रहा है अगर हमे किसी ने देख लिया तो बहुत प्रॉब्लम होगी.

तभी एक लड़के की आवाज आयी-लड़का- डार्लिंग डरो मत यहाँ इतने घने जंगल में कौन आएगा.

See also  दुलार करने के बहाने गोदी में बैठाया फिर चोद दिया रात में पापा ने

लड़की- फिर भी अगर रूम पे जाते तो ज्यादा अच्छा रहता.

लड़का-आजकल रूम पे सेफ नहीं रहता. वहाँ हिडन कैमरा भी रहते है. अगर हमारा वीडियो रिकॉर्ड किया तो क्या करते? ऊपर से पुलिस की रेड का भी डर रहता है.

लड़की- हां ये बात भी सही है. लेकिन यहाँ जंगल में भी तो सेफ नहीं है ना?

लड़का- रूम से ज्यादा तो यही सेफ है.

लड़की-लेकिन फिर भी मुझे डर लग रहा है. लड़का-तुम लड़कियों के ना हजार नखरे होते है. अब कॉलेज बंक करके इतने दूर आये है और बिना कुछ किये ही जाना है क्या?

लड़की- ठीक है करते है अब गुस्सा मत हो…

Mummy ke sath sex adventure hindi story

फिर हमे उन दोनों की आवाज नहीं सुनाई दी. मैंने झड़ियों में से थोड़ा झांककर देखा, हमारी कुछ ही दूरी पे वो दोनों खड़े हुवे थे और एक दूसरे को किसिंग कर रहे थे. मैंने धीरे से माँ को इशारा किया. माँ भी उस तरफ देखने लगी… कुछ देर किसिंग करने के बाद लड़के ने लड़की का टॉप उतार दिया और पीछे हाथ करके उसकी ब्रा के हुक खोल दिए. अब लड़की ऊपर से बिलकुल नंगी थी. लड़का अब उसके बूब्स दबाने लगा. बूब्स ज्यादा बड़े तो नहीं थे पर बहुत प्यारे लग रहे थे. कुछ देर दबाने के बाद उसने बूब्स को चूसना शुरू किया… उनको ऐसा करते देख मेरा लंड फिर से खड़ा होने लगा. मैंने भी अपना हाथ माँ के लेफ्ट बूब पे रखा. माँ ने मेरा हाथ हटाया और गुस्से से मेरी तरफ देखने लगी. मै धीमी आवाज में बोला- Mom son sex story

मै- सॉरी माँ उनको ऐसी हालत में देख कर मेरा हाथ अपने आप वहाँ चला गया.

माँ- बेटा मत भूलो कि मै तुम्हारी माँ हूँ. हम हालात की वजह से इस हालत में फसे है, इसका मतलब ये नहीं की हम अपनी लिमिट क्रॉस करे.

मै- सॉरी माँ लेकिन मै क्या करू? उनको देख के मै कण्ट्रोल खो गया.

माँ- फिर मत देख उनको. वो लवर्स है इसलिए कर रहे है और इस तरह दुसरो के निजी पल देखना भी गलत है.

फिर मै सॉरी बोल के सर नीचे झुकाये अपनी फीलिंग्स पे कण्ट्रोल करने की कोशिश करने लगा. 15 मिनट तक मै सर नीचे करके लेटा रहा, लेकिन उसके बाद लड़की की जोर से सिसकियाँ लेने की आवाज आयी और मै ना चाहते हुवे भी उनकी तरफ देखने लगा. लड़की नीचे दुपट्टे पे बिलकुल नंगी लेटी हुवी थी और लड़का उसको जोर जोर से चोद रहा था. उनकी चुदाई देख के मेरा फिर से खड़ा होने लगा…

माँ- तू फिर शुरू हो गया?!

मै-माँ क्या करू कण्ट्रोल करने की ही तो कोशिश कर रहा हूँ, मै एक काम करता हूँ अगर आप को परेशानी हो रही है, तो मै उठ रहा हूँ।

(और मै उठने लगा). मैने उठने की जैसे ही कोशिश की तभी झट से माँ ने मुझे पकड़के नीचे खींचा. अचानक नीचे खींचने से मै माँ के ऊपर जोर से गिर गया और मेरे दोनों हाथ माँ के बूब्स पे टच कर गए. मेरे नीचे गिरने की वजह से झाड़ियों से थोड़ी आवाज आ गयी जिससे वो लड़की घबरा गयी और बोली-

लड़की-लगता है कोई आ रहा है. लड़का-अरे कोई नहीं है, सूखी लकड़ी गिर गयी होगी.

लड़की- नहीं मुझे अब डर लग रहा है, लगता है अब हमे जाना चाहिए.

लड़का- सिर्फ और 5 मिनट मै जल्दी जल्दी करूँगा. फिर लड़के ने अपनी स्पीड बढ़ायी और ज़ोर ज़ोर से उसको चोदने लगा…

इधर मेरी हालत भी ख़राब हो चुकी थी. मेरे दोनों हाथ अभी भी माँ के बूब्स पे थे. माँ ने फिर से मेरे हाथ हटाए और धीरे से बोली-

मॉम-अरे. !!! यार उठ क्यों रहे थे, हम पकडे जाते ना अभी.

मै-तो फिर क्या करू? एक तो उन दोनों की चुदाई की आवाज, दूसरी तरफ हमारा नंगा जिस्म एक दूसरे से टच हो रहा है, ऐसी हालत में मै कैसे कण्ट्रोल करू?

माँ- कण्ट्रोल नहीं कर पा रहा है इसका मतलब तुम मेरे साथ…

See also  दीदी चुदाई के लिए तड़प रही थी चोद कर मैंने शांत किया

मै-माँ ये क्या कह रही हो आप! मै आप की बहुत इज़्ज़त करता हूँ, मै सपने में भी आपके साथ ऐसी घटिया हरकत करने का सोच नहीं सकता.

माँ- सॉरी बेटा मैंने तुमहे गलत समझा.

मै-कोई बात नहीं माँ, ये खड़ा है इसलिए आप ने ऐसा सोचा. लेकिन माँ मेरा इसपे कोई कण्ट्रोल नहीं है.

माँ-मै समझ सकती हूँ तुम्हारे जज्बात. लेकिन मुझे जोर से चुभ रहा है और दर्द हो रहा है.

मै-क्या करू फिर आप ही बताइये माँ?

माँ-इसे शांत करो तभी तुझे आराम मिलेगा और मुझे भी.

मै-लेकिन मै आप के सामने कैसे कर सकता हूँ.

माँ-मै आँखे बंद कर लेती हूँ तुम जल्दी से इसे शांत करो.

मै-ठीक है माँ.

Mom Son Sex story hindi

फिर माँ ने अपनी आँखे बंद की. मैने अपना एक हाथ लंड पे रखा और धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा. 5 मिनट हिलाने के बाद भी मेरा निकल नहीं रहा था.

माँ- हो गया क्या तुम्हारा?

मै – नहीं माँ कुछ हो ही नहीं रहा है.

माँ- एक काम करो उन दोनों को देख के अपना काम करो शायद उनको देख के तुम्हारा जल्दी होगा.

मैंने झाड़ियों को साइड में किया और उनकी तरफ देखने लगा लेकिन वो लोग वहाँ नहीं थे. शायद उन लोगो का हो गया था और वो दोनों चले गए थे.

मै-माँ लगता है उनका काम हो गया वो दोनों चले गए.

माँ- फिर हमे भी अब निकलना होगा. तुम धीरे से जाके देखो कोई आस पास तो नहीं है ना.

मै चारो तरफ देखने लगा पास में कोई नहीं दिखा.

मै-माँ कोई नहीं है, शायद अब हमे निकलना चाहिए.

फिर हम धीरे से बाहर निकल गए और माँ और मैंने कुछ पेड़ से पत्ते तोड़े और अपने पूरी बॉडी पे बांधे जिससे हमारा नंगा शरीर ढक जाए. हम ऐसी ही हालत में घर जाने के लिए चल पड़े. रास्ते में नेटवर्क आने की वजह से मेरा फ़ोन बजा. मैंने फ़ोन चेक किया तो पापा के 5 मिस्ड कॉल होने की नोटिफिकेशन थी. मैंने तुरंत पापा को कॉल किया और फ़ोन माँ को दे दिया. माँ ने कुछ देर पापा से बात की. Mom son sex story

मै-क्या बोल रहे थे पापा?

माँ-पापा को काम के सिलसिले में 5 दिन के लिए बंगलोर जाना पड़ा. बताने के लिए कॉल कर रहे थे अब वो निकल गए.

मै- माँ फिर तो हम कुछ देर और रह सकते है यहाँ. मुझे वॉटरफॉल में एन्जॉय करना था लेकिन उस आदमी ने हमे ठीक से नहाने भी नहीं दिया.

माँ-अब और 1 मिनट भी यहाँ रुकने की मत सोचना, पहले ही इतनी मुसीबत में है हम. मुझे तो बिना कपडे घर कैसे जाये ये चिंता सत्ता रही है और तुमहे यहाँ रुकना है.

मै- माँ मेरे पास 1 आईडिया है बिना कोई देखे हम यहाँ से विथाउट क्लॉथ जा सकते है.

माँ- कैसा आईडिया मुझे भी बताओ?

मै- हम रात के 2-3 बजे निकलें तो? रात को सब सो रहे होंगे, तब हम जा सकते है और पापा भी घर पे नहीं है फिर तो कोई टेंशन ही नहीं होगी.

माँ-बात तो तू ठीक कह रहा है लेकिन अभी तो सिर्फ 11 बजे है दोपहर के, फिर इतनी देर हम क्या करेंगे यहाँ?

मै-वॉटरफॉल में थोड़ी देर नहाएंगे, फिर कुछ देर यहाँ वहाँ घूमके रात होने का इंतजार करेंगे और कोई रास्ता भी नहीं है.

माँ-ठीक है ऐसे बिना कपडे जायेंगे तो बहुत बेइज्जती होगी हमारी, लोग क्या क्या बातें करेंगे, इससे अच्छा यही रहते है रात होने तक।

पार्ट 2 में बस इतना ही. आगे क्या हुआ ये अगली पार्ट में बताऊंगा…

Read More Mom Son Sex Stories..

Leave a Comment