मेरी बीबी और उसकी जुड़वा बहन

Hindi Stories NewStoriesBDnew bangla choti kahini

Jija sali xxx sex story:- मेरा नाम अंशु है मै एक 23 साल का लड़का हूं। मेरा खुद का बिजनेस है, मेरे पिता आर्मी से वोलेंट्री रिटायर हैं मां हाउसवाइफ हैं। मै अपने मां बाप का इकलौती संतान हूं।
मेरे पिताजी चाहते थे. चुंकि मै अब अपने काम में सेटल हो गया हूं तो जल्दी शादी कर लूं क्योंकि मेरे पिताजी की शादी काफी लेट हुई थी। इसलिए मेरी शादी 22 साल की उम्र में एक 19 साल की कन्या से तय हो गई। मेरी पत्नी का नाम आन्या है। वो काफी सुंदर है। आन्या के परिवार में उसकी दो बहनें और मां बाप हैं।

शादी ठीक होने के बाद हम जब पहली बार मिले तो उसके साथ उसकी बहन आई थी, तो मुझे पता चला की वो दोनो जुड़वा हैं आन्या बड़ी है और तान्या छोटी। लेकिन दोनो आईडेंटिकल नही है। बॉडी ग्रोथ सब कुछ एक सा था सिर्फ चेहरा अलग था। दोनो काफी खूबसूरत थीं। मुझे काफी आश्चर्य हो रहा था। फिर मैंने पूछ ही लिया।

Jija sali xxx sex story

मैं: (हस्ते हुए)जब आप दोनो एक ही दिन जन्मे, तो शादी इनकी पहले क्यों हो रही है? आपकी क्यूं नहीं।

तान्या: क्योंकि ये मेरे से 11 मिनट बड़ी है।

मै:(हस्ते हुए) 11 मिनट लेट होने की सजा मतलब शादी 2, 3 साल लेट होगी।

फिर सभी हसने लगे। आन्या कम ही बोल रही थी, शायद शर्मा रही थी। मेरे मन मे बहुत सवाल थे पूछने को उनके जुड़वा होने से रिलेटेड ,पर मै नही पूछ सका । फिर हमारी शादी के तिथि नजदीक आ गई और फिर नवंबर 2016 को हमारी शादी धूम धाम से हो गई। मेरा ससुराल करीब 40 किलोमीटर दूर है। फिर विदाई के टाईम सभी काफी रो रहे थे उसकी दोनो बहन, मां बाप रिश्तेदार। किसी को रोता देख मुझे भी रोना आ जाता है। खास कर विदाई वाले टाईम पर। तो उस टाईम भी मेरे आंखों में आसूं आ गया। लेकिन सबसे ज्यादा आन्या और तान्या रो रही थीं वो दोनों बच्चों की तरह लिपट कर रोए जा रही थी। फिर सभी ने कहा कि तान्या भी चली जाएगी और जब 2,4 दिन बाद जब मन बहल जाएगा तो आ जायेगी। मेने भी सोचा ठीक है।

अब दोनो को जैसे तैसे कार मे बिठाया, एक साइड मैं बीच में तान्या फिर आन्या बैठ गई। फिर गाड़ी चल पड़ी वो दोनों अब भी रोए जा रही थी एक दूसरे से गले लगकर, फिर मैंने दोनों को चुप कराया फिर कुछ देर बाद वो दोनों रोते रोते सो गई। हम लोग 11 बजे घर पहुंचे। फिर मैने दोनो को जगाया।
सबने उनका स्वागत किया कुछ रीति रिवाज होते होते 1 बज गए, फिर मै बाथरूम का बहाना बना औरतों के समूह से निकला, लेकिन आन्या को अभी तक लोगों ने घेर रखा था। फिर मै जाने लगा तो मां ने कहा कि नहाना मत आज नही नहाया जाता है। मां को पता है कि मै इतने थकने के बाद नहा कर सोने वाला था। फिर मैने तान्या को भी बोला की आप भी चलो फ्रेश हो लो। Jija sali xxx sex story

अब मैं आपको अपने घर के बारे मे बता देता हूं मेरा घर 3 फ्लोर का है नीचे फ्लोर पर 3 bhk +पार्किंग है। ऊपर फ्लोर पर 3 bhk और जो पार्किंग के ऊपर जो रूम है वो मेरे बेड रुम से अटैच स्टडी रूम है, दोनो रूम का बाथरूम कॉमन है स्टडी रूम का गेट मेरे ही बेड रूम से जाने का है। सबसे उपर के फ्लोर पर सिर्फ 1बीएचके है और बाकि खुली छत है। तो मैंने तान्या को अपने बेडरूम के बाथरूम मे भेज दिया और मै हॉल के बाथरूम मे चला गया मैने अपने कपड़े बदले और हाथ पैर पूरा अच्छे तरह धो आकर अपने बेड पे लेट कर सोने लगा, कुछ देर बाद तान्या बाथरूम से निकली, उसने केवल लहंगा चोली पहन रखा था। जो वो घर से पहन कर आई थी,। लड़कियां कितनी भी ठंड पड़े शादी में स्वेटर नही पहनेगी।

jija sali ki chudai hindi kahani

मैं:(अपने कम्बल से) ठंड नही लग रही है आपको? कुछ पहन लिजिए।

ठंड काफी ज्यादा थी।

तान्या: लग रही है लेकिन क्या पहनूं?

फिर मुझे याद आया की ये तो कपड़े लाई ही नहीं है।

मैं: ठीक है मैं आपकी दीदी का बैग नीचे से ला देता हूं आप उनका पहन लिजिए।

फिर मैने उनका बैग ला दिया।

मैं: ऐसा किजिए अगर मन है तो नहा लिजिए मैं गीजर ऑन कर देता हूं, वैसे भी आपकी दीदी और मेरे नहाने पर पाबन्दी है, आपके नही।

तान्या: नही मुझे नही नहाना।

मै:( उनको स्टडी रूम की तरफ इशारा करते हुए, जिसका गेट बेड रूम से ही था) ओके फिर आप उस रुम मे जाकर चेंज कर लिजिए !

फिर मै अपने बेड पर आकार लेट गया। फिर वो एक साड़ी पहनकर आ गई। उसने कोई वूलेन कपड़ा नही पहना था।

मै: कोई स्वेटर क्यों नही पहना।

तान्या: उसमे नही है।

मैं: ठीक है मैं नीचे से सारे बैग ले आता हूं, या मम्मी से पूछता हूं, वो आपकी दीदी के लिए वूलेन का स्वेटर लाई थी।

तान्या: रहने दीजिए ना। क्यों तकलीफ कर रहे हैं।

मैं: तो फिर आप मेरा जैकेट पहन लिजिए।

फिर मेने उसे अपना जैकेट अलमारी से निकाल कर दिया। उसने पहन लिया।

मैं: नींद आ रही है आपको?

तान्या:(हां मे सिर हिलाते हुए) हूं।

तो आप यंहा सो जाइए, मैं स्टडी रुम मे सो जाता हूं।

पर स्टडी रूम मे सिर्फ बेड था, कंबल नहीं था मैंने बाहर जाकर देखा तो वहां भी सारे गेस्ट लोग बरात से थके सो रहे थे ।

मैं: मै नीचे से ला देता हूं।

तान्या: क्यों बार बार ऊपर नीचे कर रहे हैं, आप आराम कीजिए। यहीं सो जाइए।

मैं: ठीक है मुझे क्या करना है।

फिर हम बेड के किनारे सो गए। फिर जब मैं उठा तो 7 बज चुके थे तान्या नीचे जा चुकी थी। फिर नीचे आकर देखा आन्या मम्मी के कमरे मे सो रही है, तान्या और कुछ औरतें वही बैठी है, कुछ खाना की तैयारी में लगीं हैं, मैं भी हॉल में आकार बैठ गया। कुछ देर बाद खाना खाया फिर कुछ भाभी आन्या को खाना खिला ऊपर बेडरूम मे छोड़ आई। तान्या भी वही चली गई। फिर कुछ भाभियां मेरे पास आ मेरे से मजाक करने लगी।

एक भाभी:(हंसते हुए) कुछ आता है जी, कि आज रात नाक ही कटवाइगा खानदान का!

वैसे तो मै काफी शर्मिला लड़का हूं, फिर भी मैंने बोल दिया।

मैं: आपने पहले कुछ सिखाया ही नही।

फिर एक भाभी ने मुझे कॉन्डम का एक डिब्बा दिया और कहा की एक हफ्ते मे ये खाली होना चाहिए।

मैं: कितना पीस रहता है जी, बचेगा तो आप पर ट्राई करेंगे। वैसे ये आप यूज करती तो 3 साल मे 2 बेटा नही होता आपका।(हंसते हुए)

दूसरी भाभी:(हंसते हुए) रसगुल्ले को प्लास्टिक के ऊपर से खाने में मजा आता है क्या।

मै: तो मुझे क्यूं दे रहीं हैं।

फिर एक भाभी चल जा अब बाते मत चोद जिसे चोदना है उसे चोद। फिर मैने एक कम्बल लिया और ऊपर जाकर देखा तो बेडरूम मे दोनों बहनें कुछ बाते कर रही थीं।
फिर मै भी उनसे बाते करने लगा। फिर कुछ देर बाद 10 बज गया तो। मैंने तान्या को बोला की आप स्टडी रूम मे सो जाइए, हम दोनो यहां सो जाते हैं। फिर वो स्टडी रुम मे चली गई मेने उसे अन्दर से गेट बंद कर लेने को कहा उसने लगा लिया। स्टडी रूम के बाहर लोक नही था। फिर मै बेड पर आ आन्या से बात करने लगा। बात करते हुए वो काफी उदास थी और बार बार स्टडी रूम के गेट के तरफ देख रही थी।

मैं: क्या हुआ।

आन्या: आज पहली बार जीवन में वो मेरे से अलग सो रही है, उसे मेरे बिना नींद नहीं आती।(इतना बोल वो कपसने लगी)।

मै: कोई बात नही, देखो कभी ना कभी तो ये होना ही था। धीरे धीरे आदत पड़ जायेगी।(उसे चुप कराते हुए)।

मैंने तान्या तान्या आवाज लगाई। मैं देखो लगता है सो गई। मेरा पुरा रुम साउंड प्रूफ है स्टडी रूम मे मेरे बेड से आवाज नही जाती है जब तक की बाथरूम का गेट या स्टडी रुम का गेट ना खुला हो। मेरे बेडरूम से बाहर आवाज नही जाती है। फिर वो थोड़ी शान्त हुईं तो मैंने उसे खड़ा किया उसकी आंखें बंद की उसने लहंगा पहन रखा था फिर मेने उसे कमरबंध गिफ्ट दिया। Jija sali xxx sex story

मैं: पहनकर ट्राई करो।

आन्या:( शर्माते हुए) मुझे शर्म आती है।

मैं: मैं पहना दूं।

आन्या: हूं।

jija sali ki chudai ki kahani

मैंने पहनाते हुए उसकी कमर को चूम लिया। वो शर्मा गई। मैंने उसके हाथों को थाम उसके चेहरे को देखते हुए उसके हाथों को चूम लिया वो काफ़ी शर्मा रही थी जैसा कि हर दुल्हन शर्माती है। मेने उसके गालो की तारीफ करते हुए उनके गालों को चूमने की अनुमती मांगी। उसने हूं कहा। फिर मैंने उसकी आंखों की तारीफ करते हुए उन्हें चूमने की अनुमती मांगी। उसने हुं कहा। फिर मैंने उसके अधरों की तारीफ करते हुऐ उनके होंठों को चूमने की अनुमती मांगी।

आन्या: (मुस्कुराते हुए) आप बार बार अनुमती क्यूं मांग रहे हैं, मैं आपकी हूं आप जो मन हो मेरे साथ करें।

मैं:(मुस्कुराते हुऐ) अच्छा जी।

फिर मैं उसके अधर चुसने लगा वो भी मेरा साथ दे रही थी, उसे किस करना नही आता था फिर मैन उसे समझाया। फिर मैं उसके गर्दन होते हुए उसके कान और कंधे चुसने लगा। फिर मैं उसके गले को सिने के ऊपर चुसने लगा।

आन्या,: सुनिए ना लाइट बंद कर दीजिए ना।

मैने लाइट बंद कर नाइट लैंप जला दिया। मैं फिर उसको बेड पर लिटा उसके होंठ चूसने लगा। फिर उसके चोली के ऊपर के बटन खोले और उसके बूब्स को ब्रा के ऊपर से चाटने चूसने लगा, मैं चाहता था कि उसे पुरा उतार दूं लेकिन पहली रात के कारण मैने नही बोला। फिर मै उसके पेट को चूमने लगा उसकी नाभी को चूमने लगा उसकी कमर को चूसा। फिर उसके चूत पर लहंगे के ऊपर से मूंह लगाते हुए नीचे जाने लगा।

आन्या:आह आह आह, क्या कर रहे हो आप। आप ऊपर आओ।

फिर मैं उसकी पैर की उँगलियाँ पकड़ चूमने लगा और उसके तलवे चुसने लगा, वो मुझे आह आह करते हुए मना कर रही थी और अपने पैर छुड़ा रही थी। फिर मैं उसके पैरों को चूमते हुए उसके घुटने को चूमने लागा फिर मैने उसका लहंगा उसकी जांघों तक कर दिया और उसके जांघ चूमने चाटने लगा। वो मना करने लगी आह वहा नही। फिर इतने मे मेरी नजर स्टडी रूम के गेट पर पड़ी वहां तान्या खड़ी थी। मैंने जल्दी से उसका लहंगा नीचे किया और आन्या ने अपने सीने पर कम्बल से ढक लिया।

मैं:(शर्माते हुए) अरे तान्या आप, नींद नहीं आ रही है क्या?

वो सीधा अन्दर आ गई, उसने फिर लहंगा चोली पहन लिया था। अन्दर आकर उसने अपने बहन के कान मे कुछ कहा।

मैं: क्या हुआ,कोई प्राब्लम है क्या, अगर आपको दीदी के बिना नींद नहीं आ रही है तो कोई बात नही आप यहां सो जाइए मैं अन्दर जा कर सो जाता हूं।

तान्या:(लाइट ऑन करते हुए) नही आप बैठिए दीदी को कुछ कहना है आपसे।

फिर हम तीनों बेड पर बैठ गए।

मै: हां बोलिए क्या कहना है?

फिर दोनो बहनें आपस मे आंखों ही आंखों में कुछ इशारा करती हैं।

आन्या: देखिए, हम दोनो बहनें एक साथ पैदा हुईं, एक साथ पढ़ाई लिखाई की, एक साथ सुख दुख बांटा सब कुछ एक साथ किया अभी तक जिन्दगी मे ना मै एक पल इसके बिना रही हूं ना ये मेरे बिना, मुझसे ज्यादा ये मेरा ख्याल रखती है, और अब अचानक अलग होना पड़ रहा है।

मै:(तान्या का हाथ अपने हाथ में थामते हुए) मै समझ सकता हुं कैसा महसूस कर रही होंगी आप लोग! लेकिन मै तुम दोनो से वादा करता हूं मै आन्या का अपनी जान से भी ज्यादा ख्याल रखुंगा। उसे कभी तकलीफ नहीं दूंगा।

तान्या: मुझे पता है,आप अच्छे इंसान है, आपकी मम्मी पापा भी काफी अच्छे हैं, इसलिए मैंने शादी की इजाजत दी है।

मै: थैंक्यू। आपने अपनी इतनी प्यारी बहन मुझे दी।

तान्या: लेकिन हमें आप से ये कहना है की जब हमने अभी तक जिन्दगी मे सब कुछ एक साथ किया है तो (इतना कहकर वो रुक गई और अपनी दीदी को आंखों से इशारा किया)।

आन्या: हम चाहते हैं की हमारी सुहागरात भी एक साथ हो, एक ही आदमी से, आप से।

मैं: पागल हो क्या कुछ भी बोल रही हो। मै ऐसा नही कर सकता।

तान्या: क्यूं?

मै: मैंने खुद से वादा किया है की मैं अपनी पत्नी के सिवाय किसी से ये सब नही करूंगा। इसलिए मैंने अभी तक कुछ नही किया।

आन्या: पर मैने भी तान्या से वादा किया है की अपनी सुहागरात एक साथ होगी, आपसे होगी।

मै: यार कुछ भी मत बोलो सोचो मै तुम्हारे मम्मी पापा से कैसे नजरे मिलाऊंगा ये सब करने के बाद, उनको क्या कहूंगा, कि मैंने उनकी एक बेटी से शादी की और दुसरी बेटी के साथ भी ये सब कर दिया। मैं खुद से नजरे नही मिला पाऊंगा।(ये बोलते हुए मै रूयांसा सा हो गया)

तान्या: सॉरी जीजू हमे नही पता था आप इतने सेंसेटिव हैं। पर मैं क्या करूं।

आन्या: हम दोनों बहनें तो चाहते थे कि हम दोनो की शादी किसी एक ही लड़के से हो ताकि हमें अलग ना हो ना पड़े, ये बात हमने मम्मी पापा को भी बताई, उन्होंने ट्राई भी किया।

फिर आपका रिश्ता आया, तो पापा ने आपके पापा से बोलना भी चाहा लेकिन वो नही बोल सके, फिर तान्या ने कहा कि लड़का काफी अच्छा है, हमारे बीच एज गैप भी कम है तो वो हमारी भावनाओं को समझेगा। लेकिन…

मैं: यार ऐसा नही है मै तुम्हारी भावनाओ को समझ नही रहा लेकिन मै क्या करू।

आन्या: आप अपने वादे के बारे मे छोड़ अपनी धर्मपत्नी के वादे मे सोचिए। क्या मैं अपनी बहन को दिया वादा तोड़ दूं।

मैं काफ़ी असमंजस मे था।

मैं: नही मुझसे ये नही होगा।

तान्या:(गुस्से से) ये जीजा अच्छे से मान जा नही तो मुझे जबरदस्ती करनी पड़ेगी।

मै शॉक हो गया अभी तक जो सिर्फ जीजू जीजू बोल रही थी, तुरन्त इसका अंदाज राउडी हो गया था।

मै: कुछ भी कर लो मै ये सब नही करूंगा।(मैं उठ कर जाने लगा)

अचानक तान्या ने मुझे बेड पर धक्का दे दिया, और मेरे ऊपर चढ़ मुझे किस करने लगी।

तान्या: भाग कहां रहा है? दीदी तू इसके दोनो हाथ पकड़(आन्या ने मेरा हाथ सर के तरफ से पकड़ लिया)। मै इसके कपड़े उतारती हूं।

ये कहकर उसने मुझे ऊपर से नंगा कर दिया।

मैं:(मैने छुटने की बहुत कोशिश कि लेकिन वो मेरे कमर पर बैठी थी) ये क्या कर रही हो, मुझे ठंड लग रही है। मेरे कपड़े दो मुझे।

तान्या: ठंड लग रही है मैं आपको अभी गर्मी देती हुं (ये बोलकर वो अपना चोली उतार देती है।)

अब वो सिर्फ़ ब्रा और लहंगे में थी। मै अपनी आंखें बन्द कर लेता हूं। फिर वो मुझे किस करने लगती है मै रोने लगता हूं।

मै: छोड़ दो मुझे प्लीज।

तान्या: आज पहली बार सुहागरात मे कोई आदमी रो रहा है। मुझे रोता देख आन्या को शायद दया आ जाती है।

आन्या: छोड़ दो तान्या, शायद इन्हें हमारी भावनाओं की कदर नही है।

तान्या: अरे नही दीदी मै भी देखती हूं ये कैसे नही मानता है।

फिर आन्या मेरा हाथ छोड़ रोने लगी उसे रोता देख तान्या मेरे पे से उतर गई और अपनी बहन को बांहों मे भर चुप कराने लगी।

मैं फिर उठ बैठा, उन दोनो के बीच इतना अनोखा प्यार देख मै हैरान था।

आन्या: माफ करना मेरी बहन मै अपना वादा पूरा नहीं कर पाई।

फिर दोनो रोने लगी। उनको रोता देख मुझे भी रोना आ गया।

मैं:(उनको चुप कराते हुए) ठीक है कर लो जो आप लोग चाहती हो, लेकिन ये सिर्फ एक बार होगा।

वो दोनो खुश होते हुए। ठीक है।

मै: मै कुछ नहीं करूंगा जो करना है आपको ही करना पड़ेगा।

फिर मै चुप चाप लेट गया और बोला

मैं: चलो आ जाओ लूट लो मेरी इज्जत।

तान्या:(मुस्कुराते हुए) दीदी तूने तो किस कर लिया ना अब मेरी बारी।(फिर वो मेरे ऊपर झुक मुझे किस करने लगी)

मैं: लाइट बंद कर दो।

तान्या: नही कोई लाइट बंद नही होगा।

bivi ke sath sali ko choda

फिर वो मुझे किस करने लगी, मै बिल्कुल भी सपोर्ट नहीं कर रहा था,वो मेरे होंठ काटने चूसने लगी मुझे दर्द होने लगा फिर मेने उसे हटा आईने में अपने होंठ देखे मेरे होंठ पर उसके दांतों के निशान थे मेरे इनर लिप्स से हल्का ब्लड आ रहा था जिसका टेस्ट मुझे मुंह में हो रहा था। Jija sali xxx sex story

मैं: पागल हो क्या, ऐसे किस किया जाता है।

तान्या:( मुझे सीने से लगाते हुए) तो आप सीखा दो।

फिर मेने सोचा चलो जब एक ही बार करना है तो अच्छे से करते हैं। पहले मै उसको माथे पर फिर आंखों पर, गांलो पर गर्दन पर चुम्बन करते हुए उसके होंठों पर होंठ रख हल्के हल्के सहलाने लगा फिर चूसने लगा। वो मदहोश हो गई। फिर मेने आन्या की ओर देखा वो हमे देख काफी खुश थी फिर मेने उसे उठा लिया और चूम लिया।

मैं: रुको मेने तुम्हारी दीदी को गिफ्ट दिया है तो तुम्हें भी कुछ देना पड़ेगा।(फिर मेने अलमारी से एक कमर बंध और एक पायल निकाला)

मैं: मम्मी ने तुम तीनो बहनों के लिए कमर बंध और पायल खरीदे हैं, । ये लो तुम्हारा।

तान्या: खुश होते हुए, दो मत पहना दो।

मैने पहले पायल उठाया फिर जमीन पर बैठ गया उसने बेड पर बैठ, बड़े ही रोमेटिक तरीके से मेरे सीने पर पैर रख दिया उसके ठंडे पैर मेरे सिने पर थे । फिर मेने उसके पायल उतारे और नए पायल पहना दिए। और उसके पैरों को चूम लिया। वो हंस पड़ी। फिर वो उठी और मेने उसे कमरबंद पहना उसके कमर को चूम लिया वो सिहर उठी। वो सिर्फ़ ब्रा और लहंगे में थी।

तान्या: अब टाईम वेस्ट मत करो 12 बजने को हैं सब अपने कपड़े उतार दो।

मैं: नही, काफी ठंड है।

फिर भी उसने अपनी बहन को खड़ा किया और उसकी चोली के हुक खोलने लगी। फिर उसने उसके चोली खोल दी, आन्या काफी शर्मा रही थी।

मैं: ओके पहले कौन करेगा।

तान्या: पहले दीदी उसके ठीक 11 मिनट बाद मुझे।

फिर मेने आन्या को बांहों मे भर लिया और उसके बॉडी को सहलाते हुए उसे किस करने लगा।

तान्या: अब उसके ब्रा खोल दो।

मैं उसके ब्रा खोलने लगा इतने मे तान्या ने मेरा अंडर वियर सहित मेरा ट्राउजर नीचे खींच दिया।

मैं: (अपना ट्राउजर उठाते हुए ) क्या बकवास है ये।

तान्या: चलो अब उतार दो इसे, उसका लहंगा भी उतार दो।

इतना बोल उसने मेरा ट्राउजर पैर से निकाल फेंक दिया, मै अब पुरा नंगा था मैने फिर टॉवल लपेट लिया। फिर मै आन्या का ब्रा खोल दिया उसके चूंचे देख मैं दंग रह गया वो काफी गोल और सख्त थे फिर मेने उसके एक निप्पल पर जीभ फिरा दिया वो सिहर गई। फिर मेने दोनों को लिटा दिया और तान्या के भी ब्रा खोल दिए । अब दोनो के चूंचे देख मैं दंग रह गया छोटे छोटे चूंचे एक दम एक समान थे। बिल्कुल सफेद बेदाग मौसमी के आकार के चूंचे क्योंकि वो अभी 19-20 साल की ही थीं। अपने चूंचे देखता देख वो दोनो शर्मा गई और दोनों ने मुझे अपने चूचों में भींच लिया। फिर मै उनके चूंचे एक एक कर पीने चाटने लगा वो सिसकारियां भरने लगी। फिर मै उनके पेट और नाभी चाटने चुसने लगा बिल्कुल सपाट पेट पर गहरी नाभी। फिर मैने आन्या के चूत पर लहंगे के ऊपर से मूंह रख दिया । वो सिसक उठी।

आन्या: आह नही वहा नही।

तान्या: करने दो, तुम रुको मत करो।

फिर मेने दोनों का लहंगा उनकी पैन्टी के साथ उतार दिया वो दोनो शर्मा गई। और एक दूसरे का चेहरा छुपा लिया। उनकी चूत भी बिल्कुल एक समान थी, पतले चिपके होंठ। फिर मैं आन्या के ऊपर चढ़ उसके अधर चुसने लगा फिर उपर से नीचे चूमते चूसते हुए आने लगा। फिर मेने उसके चूत पर मुंह लगा उसे चूसने लगा 2 मिनट मे वो अपना सर इधर उधर करने लगी और आह आह करते हुए झड़ गई। मैं उसे बांहों मे भर चूसने लगा वो शान्त हो गई थी।

तान्या: अब मेरी बारी।

मैं अब तान्या को ऊपर से नीचे किस करते हुए आने लागा फिर उसके चूत चूसने लगा कुछ देर बाद वो भी हांफते हुए झड़ गई। अब मैं उनके बीच लेता था फिर तान्या मेरा टॉवेल हटा देती है और अपनी दीदी का हाथ मेरे लन्ड के पास लाते हुए।

तान्या: लो पकड़ो इसपर आपका पहला हक है।

आन्या थोड़ी शर्मा रही थी उसके हाथ मेरे लन्ड की तरफ आते हुए कांप रहे थे।

मैं:(उनका हाथ हटाते हुए) कोई मत पकड़ो इसे अकेला छोड़ दो।

jija ne sali ko choda hindi sex story

फिर तान्या मेरे ऊपर चढ़ किस करने लगी उसकी गीली चूत मेरे पेडू पर चिपके थे फिर वो मुझे किस करते हुए नीचे जाने लगी मेरे निप्पल को काटने लगी। फिर मेरे सीने और पेट पर चूमते हुए मेरे पेडू पर जीभ फिराने लगी। मैं अपने झांट साफ रखता हूं हमेशा। फिर मेने उसे रोक दिया फिर भी उसने मेरा लन्ड पकड़ कर छोड़ दिया। मेरा 7 इंच का लन्ड काफी देर से खड़ा था।

मैं: तूने तो ये अपनी दीदी से पहले पकड़ लिया।

तान्या: क्या करू ये पकड़ ही नही रही है तो मुझसे रहा नही गया। एक किस कर लूं वहा पे प्लीज।

मैं: नही वो जगह चूमने की नही है।

तान्या: दीदी अब तुम भी वैसे ही करो जैसे मेने किया।

फिर आन्या मेरे उपर बैठ किस करने लगी , मै उसके पीठ, कमर और चूतड पर हाथ फेर रहा था। वो उपर से नीचे जाने लगी फिर मेने उसे लिटा दिया और उसे किस करते हुए उसकी चूत पर लन्ड घिसने लगा मेने उसकी आंखों में देख इजाजत मांगी उसने अपनी बहन की ओर देखा..

तान्या : रुको मैं टाइमर लगा देती हूं।

फिर मै टेबल पर से कंडोम का डिब्बा उठाने लगा

तान्या: पहली बार बिना कॉन्डम के कीजिए ना प्लीज़।

फिर मैंने हल्के से लन्ड आन्या की चूत में घुसा दिया। वो कसमसा उठी। फिर धीरे धीरे मेने आधा लन्ड अन्दर कर दिया वो रोने लगी तान्या उसे चुप कराने लगी फिर मैंने उसे सहलाए चूमा चूसा फिर वो थोड़ी शान्त हुईं फिर मैंने लन्ड आगे पीछे करते हुए पुरा लन्ड उसके चूत में डाल दिया इस बार वो चीख पड़ी। मेने नीचे देखा उसके चूत से खून निकल रहा था। वो बेहोश सी होने लगी फिर मेने अपना लन्ड बाहर निकाला उस पर पानी मारा उसे चुप कराया उसे शान्त कराया।

आन्या: मै अब ठीक हूं कितना मिनिट हुआ है।

तान्या:11 मिनट पूरे होने में अभी 2 मिनट बाकी हैं ।

आन्या: अब तुम लोग करो मैं ठीक हूं।

मैं: अभी भी सोच लो देखो कितना दर्द होता है।

तान्या: (मुझे किस करते हुए) टाईम वेस्ट मत करो।

फिर मै उसे लेटा उसके चूत पर लन्ड घिसने लगा।

तान्या: अभी नही जब मैं कहूं तब डालना।

फिर कुछ सैकंड में अचानक से डालो।

मेने हड़बड़ी मे सुपाड़ा सहित एक चौथाई लन्ड उसकी चूत में डाल दिया।

वो दर्द से तड़प उठी रोने लगी लेकिन उसे चुप कराने वाली उसकी बहन खुद बेसुध पड़ी थीं। तो मैं ही उसे चुप कराने लगा।

मै:(उसे चुप कराते हुए) बोला था ना दर्द होगा।

तान्या:( मुझे किस करते हुए) चुप रहो और करो।

फिर मेने आधा लन्ड अन्दर कर दिया और जब वो शान्त हो चूतड उठाने लगी तो मेने उसे आधे लन्ड से ही चोदना शुरू किया। कुछ देर बाद उसका दर्द खत्म हो गया और वो मजे लेने लगी कुछ देर बाद वो आह आह करते हुए झड़ गई मैं उसके ऊपर से उतर गया। फिर वो मुझे किस करने लगी आन्या भी अब ठीक थी उसकी चूत सहला मेने पूछा अब कैसा लग रहा है। Jija sali xxx sex story

आन्या: अब ठीक है।

मैं: और करना है?

आन्या:(शर्माते हुए) हूं।

मै: सेक्स तुमसे पहले तुम्हारी बहन ने कर लिया।

तान्या: पर मुझे खून क्यूं नही निकल रहा।

मैं: किसी किसी को खून आता है। सबको नही।

(मैं मन ही मन आधा ही लन्ड डाला हूं इसलिए बच गई)

फिर मैं आन्या को किस करने लगा उसके चूंचे को पुरा मुंह मे भर लिया उसे चाटने लगा वो सिसकारियां भरने लगी फिर मैंने उसके चूत को सहला उसमे लन्ड डाल दिया वो सिहर उठी फिर मेने आधा लन्ड डाला और हल्के हल्के आगे पीछे करने लगा कुछ देर में उसे अच्छा लगने लगा तो फिर मैने पुरा लन्ड उसके चूत में उतार दिया वो दर्द से कराह उठी । मैं उसके स्तन चूसने लगा उसे किस करने लगा दो तीन मिनट बाद वो नॉर्मल हुई तो वो चूतड उठाने लगी फिर मैं उसे धीरे धीरे चोदने लगा वो सिसकारियां भरने लगी।

आन्या: आह आह आह।

मै: दर्द हो रहा है क्या, रुक जाऊं।

आन्या: हल्का हो रहा है पर आप रुको मत।

फिर 15 मिनट बाद मैं झड़ने वाला था तो मैंने निकालना चाहा।

आन्या: धीरे से अन्दर ही रहने दीजिए ना।

फिर हम दोनो एक साथ झड़ गए । ठंड थी लेकिन हम दोनों पसीने से नहा गए थे।

तान्या: उसके अन्दर स्पर्म डाल दिया। मुझे भी स्पर्म फील करना है।

मै: पागल है क्या उसकी शादी हो चुकी है तुम्हारी नही,अब देखो बात सिर्फ 1 बार की हुई थी अब नही।

तान्या: बात आज रात भर कर हुई थी।

फिर वो मुझे किस करने लगी मैंने सोचा चलो इसे सबक सिखाते हैं। मेरे लन्ड को चूत पर रगड़ने लगी मेने फिर धीरे से लन्ड उसकी चूत मे घुसा दिया आधे लन्ड तक उसे ज्यादा दर्द नही हुआ फिर हल्के हल्के आगे पीछे करते हुए अचानक मैने पुरा लन्ड घुसा दिया वो चीख पड़ी चिलाने लगी उसकी चूत से खून निकलने लगा।
उसकी चीख सुन उसकी बहन उठ गई जो कंबल ओढ़े सोई थी।

आन्या: क्या हुआ।

मै: कुछ नहीं, अभी अभी जवानी का मजा मिला है बहुत शौक है इनको।

तान्या: इतना दर्द तो उस टाईम भी नहीं हुआ था।

फिर मैने उसे चुप कराया फिर उसे किस करने लगा कुछ देर बाद वो नॉर्मल हो गई तो मैंने हल्के हल्के आगे पीछे हो रहा था फिर वो आह आह करने लगी। कुछ देर बाद उसे मजा आने लगा। वो चूतड उठाने लगी। फिर 20 मिनट बाद मैं झड़ने वाला था तो उसने मेरे कमर को अपने पैर से लपेट लिया।

मैं:क्या कर रही हो?

तान्या; मेरे अन्दर निकालो ना प्लीज़।

फिर कुछ देर बाद हम दोनों एक साथ झड़ गए। मेने घड़ी देखा तो 2 बज चुके थे। मेने कहा अब सो जाते हैं। फिर हम तीनो सो गए। उन दोनो ने मुझे बीच में सुला मेरे ऊपर एक एक हाथ रख सो गईं। सुबह मेरी आंख तब खुली जब आन्या उठने की कोशिश कर रही थीं। 6 बजने वाला था। मेने उसे किस किया और पूछा कि अब कैसा लग रहा है। तो उसने बोला की।

आन्या:(अपनी चूत की तरफ इशारा करते हुए) यहां दर्द कर रहा है और चलने मे नही बन रहा है।

मै: रुको मैं गर्म पानी से सिकाई कर देता हूं।

फिर मैं गीजर ऑन कर गर्म पानी ले आया और टॉवेल भीगा उसकी सिंकाई करने लगा।

आन्या:(शर्माते हुए) रहने दीजिए ना मै खुद कर लूंगी।

मैं: कोई बात नही मैं कर देता हूं।

फिर तान्या उठ जाती है। वो वो अभी नंगी थी जबकि मेने आर आन्या ने नाइट ड्रेस पहन लिया था।

तान्या: ओहो, पत्नी की सेवा की जा रही है कोई हमारी भी कर दो। फिर उसने मेरे हाथ को अपनी चूत से लगा लिया।

मै: देखो कल रात तक की बात हुई थी अब रात खत्म हो गई है। अब नही।

तान्या:(मुझे किस करने की कोशिश करते हुए) अब सुबह सुबह प्रवचन मत दो। और मेरी चूत की भी सिकाई कर दो।

मैं:(खीज गया ) खुद कर लो मै चला सोने।

फिर मै स्टडी रूम मे आकार गेट बंद कर सो गया। फिर मैं 9 बजे उठा। जब एक भाभी उठाने आई।

भाभी: उठो बाबू साहब कैसी रही पहली रात।

मैं अपने स्टडी रूम से बेड रुम मे आया और सबसे पहले बेड पर नजर डाली, थैंक गॉड वो दोनो वाहा नही थीं और खून से भरा चादर भी नहीं था।

मै: कैसी रहेगी जैसी रात होती है वैसी ही थी।

भाभी: (कॉन्डम का डिब्बा उठाते हुए) ये तो खुला ही नही लगता है कल रात बात बनी नही।

मै: इसके बिना भी बात बन सकती है।

भाभी: हां लगता है काफी बात बनी है बेड से बेड शीट गायब है और तेरे होंठ चीख चीख कर बता रहे हैं कि बड़ी जोर की बात बनी है।

Jija sali xxx sex story hindi

मैने अपने होंठ आईने में देखा तो वो सूज गए थे। इतना बोल वो मुझे चिड़ाते हुए नीचे भाग गईं। और सबको बताने लगीं की मेरे होंठ सूज गए हैं। फिर मै नीचे आ चुपके से दोनो को दर्द और अनवांटेड प्रेगनेंसी की दवा लाकर दे दिया । दोनो ने खाने से मना कर दिया। मेरा मूड खराब हो गया। फिर शायद दोनो ने बाद में खा लिया। मै ऑफिस के लिए तैयार होने लगा। पर मम्मी ने मुझे डांट दिया की ऑफिस जाना नही है अभी 20 दिन घर पर रह बहू आई है उसके साथ समय बिता उसे घुमा फिरा। वो दोनों नीचे मम्मी के रुम मे थी फिर सबने खाना खाया और मै जल्दी से अपने स्टडी रूम मे आकर गेट बंद कर लिया। फिर पुरा दिन उन दोनो से बात नही किया। फिर रात को भी मै स्टडी रूम मे आकर सो गया गेट बंद करके। कुछ देर बाद उन्होंने गेट खटखटाया पर मैने नही खोला। फिर अगले दिन भी मैने दोनो से बात नही की । फिर रात को खाना खाकर मैं जब अपने रुम मे आया तो देखा कि वो दोनो पहले से ही स्टडी रुम मे बैठी थी। फिर मैं अपने बेड रूम के बेड पर लेट गया। फिर वो दोनो भी आ गई।

आन्या: क्या बात है नाराज क्यूं हैं कल से बात क्यों नहीं कर रहे इधर उधर भाग रहे हैं, क्या वजह है?

मैं: जैसे की तुम्हें कुछ पता ही नहीं है।

तान्या: मै समझ गई मैं वजह हूं, लेकिन मेरी वजह से आप इससे क्यूं नाराज हैं?

मै: ऐसे ही।

तान्या: अगर मेरी वजह से आप दोनो के बीच दूरी आती है तो मै कल ही चली जाती हूं, आप मुझे कल छोड़ दोगे या पापा को बुला लूं।(उसकी आंखों में आसूं आ गए थे)

मैं:(उसे अपने पास तिरते हुए) अरे नही, मुझे तुम्हें यहां होने से कोई प्रॉब्लम नहीं है।

पर तुम खुद ही सोचो परसों मैने तुम लोगों का दिल रखने के लिए वो सब कुछ किया, अब हम पति पत्नी को थोड़ी सी तो प्राइवेसी मिलनी चाहिए ना। आखिर कभी न कभी तो तुम दोनो को अलग होना ही है।

तान्या: आप ठीक कह रहे हैं, मै स्टडी रूम मे चली जाती हूं सोने के लिए, आप दोनो अपनी मैरिड लाइफ़ एन्जॉय कीजिए।

इतना कह वो बड़े ही उदास मन से स्टडी रूम मे चली गई। फिर मै भी अपने बेड पर आकर कंबल मे लेट गया। फिर आन्या भी मेरे बगल मे लेट कम्बल में घुस गई। आन्या मेरे पीठ पर हाथ फेरते हुए, Jija sali xxx sex story

आन्या: नाराज हैं?

मैं: नही।

आन्या: तो मेरी तरफ देखिए।

मै:(उसकी तरफ देखते हुए) मैं क्यूं नाराज होने लगा?

आन्या: अगर आप नाराज हो भी गए तो मै मना लूंगी।

मैं: वो कैसे।

आन्या:(मेरे होंठ पर होंठ रखते हुए) ऐसे।

फिर वो मुझे बांहों मे भर चुसने लगी, उसने साड़ी के पल्लू से हम दोनों के चेहरे को ढक लिया फिर उसने मेरा हाथ पकड़ अपने कमर पर रख दिया। मैं आज कुछ भी नही कर रहा था। फिर वो मेरे गर्दन को चूसते चूमते नीचे जाने लगी फिर मुझे उठा मेरे शर्ट खोल दिया और गले लग मेरे सीने को चूमने लगी फिर मेरे ऊपर चढ़ कर बैठ गई और अपने साड़ी के पल्लू को हटा अपने ब्लाउस और ब्रा खोल दी और अपने चूंचे मेरे सीने से लगा मेरे होंठ चूसने काटने लगी।

मैं: अरे तुमको किस करना नही आता क्या? एक तो उस दिन भी दोनों ने काट कर जख्मी कर दिया था, जिसके वजह से सारी भाभी मेरा मजाक उड़ा रही थी।आज फिर जख्मी कर दो।

आन्या:( काफी मदहोश आवाज में) तो सिखाओ ना।

फिर मैने उसे समझाया की धीरे धीरे कभी अपर लिप्स कभी लोअर लिप्स चूसते हैं तो कभी जीभ चूसते हैं काटते नहीं है, कभी काटते भी हैं तो हल्का सा की निशान ना बन जाए। फिर मैने उसे किस कर बताया । फिर उसे करने बोला। फिर उसने पहले से काफी अच्छा किया फिर मैन बोला अब साथ मे करते हैं ताल मेल बनाते हुए। फिर हमने किस स्टार्ट किया। कुछ देर बाद मैन पूछा।

मैं: कैसा लगा।

आन्या: बहुत अच्छा, मैंने कैसा किया।

मै: पहले से बहुत अच्छा।

फिर उसने मुझे सिने से लगा लिया मै उसके चूंचे चुसने लगा वो सिसकारियां भरने लगी। फिर मैने उसकी नाभी को चाटा फिर मै उसके चूतड पकड़ दबाने सहलाने लगा फिर उसकी साड़ी उतार दिया पेटीकोट भी उतार दिया और पैंटी भी। फिर मैने उसके चूत पर जीभ फिरा दिया, वो सिहर उठी, आह आह करने लगी। मैं उसकी चूत चाट रहा था। फिर मैन अपना लन्ड उसके चूत के ऊपर घिसने लगा, फिर अन्दर डाल दिया वो सिसक उठी। फिर धीरे धीरे पुरा लन्ड घुसा दिया। और चोदने लगा। फिर मैने उसे अपने ऊपर बिठा चोदने लगा फिर कुछ देर बाद जब वो थक गई तो मैंने उसे नीचे लिटा चोदने लगा वो आह आह आह करे जा रही थी कुछ देर बाद वो झड़ने वाली थी तो मैंने उसे जोर जोर से चोदना शुरू किया, वो चिलाने लगी और झड़ गई। मैं उसके ऊपर लेटा हुआ उसे फिर से गरम करने लगा उसके कान को चूमा चूसा गर्दन और गले को चूसा आंखों को चूमा स्तन को चूसा चाटा। कुछ देर में वो फिर से गरम हो गई मै उसे फिर से चोदने लगा 15 मिनिट बाद हम दोनों एक साथ झड़ गए इस बार मैंने झड़ने से पहले लन्ड निकाल लिया था। फिर हम कम्बल ओढ़ सोने लगे। कुछ देर बाद मैने देखा कि वो काफी करवट बदल रही है।

मैं:(उसको अपनी बांहों मे भरते हुए) नींद नहीं आ रही है क्या।

आन्या:, उसके बिना मुझे नींद ही नही आती, उसे भी नहीं आई होगी अभी नींद।

मैं: तो क्या करें।

आन्या: उसे बुला लीजिए ना यहीं सब सो जायेंगे।

मैं: अरे नही ऐसा करो तुम वहा सो जाओ मैं यहां अकेले सो जाता हूं।

आन्या: (उदास मन से) ठीक है।

फिर मै गेट पर गया तो अन्दर से बंद था फिर मैं बाथरूम मे गया जिसका एक गेट बेड रूम मे और एक गेट स्टडी रूम मे खुलता था। वहा जाकर देखा कि उसकी तरफ का बाथरूम का गेट खुला है। तो बाथरूम से मै उसे स्टडी रूम मे ले गया, वहां देखा तो तान्या सच मे जाग रही थी। फिर मैं बिना कुछ बोले उन दोनो को स्टडी रूम में छोड़ बेड रूम मे आकर सो गया। फिर अगले दिन सुबह मैने तान्या को जाकर सॉरी बोला। फिर अगली रात भी वैसे ही हुआ। हमने सेक्स किया और वो स्टडी रूम मे जाकर सो गईं। फिर अगले दिन मम्मी ने बताया कि अभी आन्या मायके नही जा सकती अभी शुभ मुहूर्त नही है। उस रात को जब मैं अपने बेडरूम मे गया तो वहां दोनों बहनें बाते कर रही थीं। फिर मैं भी बात कर करने लगा। बात करते हुए जब काफी समय बीत गया तो मै सोचने लगा कि आज क्या फिर कहना पड़ेगा, इसे स्टडी रुम मे सोने को।

तान्या: क्या सोच रहे हैं, आप लोग जो 2 दिनों से मजा ले रहे हैं आज नही मिलेगा। अब रेड अलर्ट जारी है।

मैं समझ गया कि आन्या को पीरियड्स आ गया है।

मैं: तो क्या हुआ।

तान्या: तो क्या मै आज अपनी बहन के साथ सोऊंगी।

मै: ठीक है आप दोनों यहीं सो जाइए, मै अन्दर चला जाता हूं।

आन्या:(शर्माते हुए) लेकिन एक प्रॉब्लम है।

मैं:क्या।

आन्या: मुझे अब आपके बिना भी नींद नही आती।

आप भी यहीं हमारे साथ सो जाइए ना

तान्या: हां जब कुछ करना ही नही है तो सो जाइए।

मैं: लेकिन।

आन्या:(मेरे होंठ पर हाथ रखते हुए) लेकिन वेकिन कुछ नहीं।

मैं: ठीक है लेकिन मै किनारे में सोऊंगा।

आन्या: ठीक है।

फिर मै एक किनारे बीच में आन्या फिर एक किनारे पर तान्या एक ही कम्बल ओढ़ सो गए। आन्या का फेस मेरी तरफ था उसने कम्बल से हम दोनों के सिर ढक किस करने के लिए होंठ मेरे होंठों के तरफ बढ़ाए।

तान्या: कम्बल के अन्दर किस मत करो करना है तो दूसरे रुम मे जा कर करो।

हम दोनों हंस पड़े। और जल्दी से एक छोटी सी चुम्मी ले ली।

तान्या:( अपनी बहन को अपने तरफ करते हुए) मेरे तरफ फेस करो।

मैं:( हस्ते हुए) कर लो।

फिर तान्या ने अपना चेहरा उसके सीने से लगा सोने लगी। मेरा एक हाथ आन्या ने अपने कमर पर रख दिया । मैं उससे बिल्कुल सट कर सोया था आन्या सैंडविच बन चुकी थी हमारे बीच में। मुझे नींद आ गईं जो एक बार सीधे सुबह खुली मैं उठा तो देखा कि वो दोनों वैसे ही सो रही थीं मैं भी वैसे ही उठा था जैसे सोया था। आज काफ़ी अच्छी नींद आई थी। फिर मै फ्रेश हो कर आया तो आन्या उठ रही थी। मैने उसे किस किया । फिर कुछ देर हम एक दूसरे के बांहों मे बैठ बाते करते रहे बातों में उसने बोला।

आन्या: आज काफी अच्छी नींद आई मुझे।

मैं: हां अपनी बहन के साथ जो सोई हुई थी।

आन्या: नही इसलिए क्योंकि आप दोनों के साथ सोई थी, कितना अच्छा होता ना जो मुझे आप दोनों मे से किसी एक को चुनना ना पड़ता।
इतना बोल वो बाथरूम चली गई। फिर मै भी उठ जिम चला गया। कुछ देर बाद मैं घर आया तो मम्मी ने कहा कि चल बाजार चला जा बहू को लेकर और कपड़े खरीद देना। फिर हमने खाना खाया और कुछ देर बाद मैंने अपनी गाड़ी निकाली फिर दोनों बहनें साड़ी पहन कर नीचे आई तो मैं तो देखता ही रह गया दोनों गजब की सुंदर लग रही थीं।
फिर मां ने उन्हें देख दोनों को नजर का टीका लगाया। फिर हम शॉपिंग करने निकल दिए। तान्या के ही कपड़े लेने थे आन्या के तो शादी में बहुत कपड़े मां लाई थी, तान्या अभी तक आन्या के ही कपड़े पहन रही थी। फिर हम घर आ गए। फिर 4,5 दिन वैसे ही सोते निकल गए। फिर मैन 6वे दिन इशारे से पूछा कि पीरियड खत्म हुए। तो उसने इशारे से हां कहा मैं काफ़ी खुश हो गया। फिर मैंने तान्या को मजे लेते हुए कहा।

मै: तान्याजी, अब अपने रुम मे जाए खबर आई है कि रेड अलर्ट हट गया है। वो गुस्से से पैर पटकते हुए स्टडी रुम मे चली गई। फिर हम शुरु हो गए, इस बार हमने डॉगी स्टाइल ट्राई किया उसे बहुत मजा आया। फिर मैं उसे लिटा कर चोदने लगा आज मैने थोड़ी स्पीड बड़ा कर चुदाई की, उस रात हमने 2 बार चुदाई की और दोनो बार मैं उसके चूत में झड़ गया क्यूंकि सेफ टाइम था।

मैं: ठीक है अब जाकर सो जाओ।

आन्या: आपके बिना नींद नहीं आएगी।

मै: तो फिर यहीं सो जाओ।

आन्या: उसके बिना भी नींद नहीं आएगी। आप उसे यहीं बुला लाइए ना।

मैं: ओके, आपका हुक्म सर आंखों पर रानी शाहिबा।

फिर मैं बाथरूम से स्टडी रूम मे पहुंचा तो देखा रुम का खिड़की खुला है, पुरा रुम ठंडा हो चुका है शीत लहर से आज काफी ठंड थी, उसने कम्बल भी फेंक रखा था और सिर्फ टी शर्ट और हॉफ शॉर्ट पहन सो रही थी मैन उसे उठाया वो ठंड की वजह से बेसुध पड़ी कांप रही थी उसका पुरा शरीर बर्फ की तरह ठंडा था मैंने उसे गोद मे उठाया और बेड रूम मे ले आया।आन्या: क्या हुआ इसे।

मैं: बिना कम्बल ओढ़े खिड़की खोल कर सोई थी। पुरा शरीर ठंडा पड़ चुका है।

आन्या: ये लडकी भी ना गुस्सा होती है तो दिमाग खराब हो जाता है इसका। फिर मैंने उसे लिटा दिया और उसे अपना कोट पहनाया और आन्या को ट्राउजर पहनाने को बोला।

आन्या: आप ही पहना दो ना।

मैं:तुम भी ना।

फिर मैंने उसे ट्राउजर पहना दिया और उसे कम्बल ओढा उसे सुला दिया।

आन्या: इसे बीच में सुला लिजिए ना इसे गर्म लगेगा।

मैं: ठीक है।

फिर हम दोनो उसके अगल बगल लेट गए। आन्या ने उसे अपने बांहों मे भर लिया। लेकिन वो अब भी कांप रही थी।

आन्या: इसे अपनी बांहों मे भर सुला लिजिए ना आपके पास ये जल्दी गरम हो जायेगी।

मैं: ओके।

फिर मैन उसका चेहरा अपने तरफ कर उसको अपनी बांहों मे भर लिया। कुछ देर बाद उसका कांपना बंद हो गया। मैं उसके बदन को सहला उसे गरम रख रहा था।
आज तान्या हम दोनो के बीच सैंडविच बन हुई थी। फिर हम सो गए। सुबह उठ कर फिर वही सब। फिर रात को मै आज पहले अपने बेड पर लेटा था। फिर वो दोनो आ गई, तान्या सीधा आज स्टडी रूम मे चली गई।

मै:(आन्या से) जाओ चली जाओ तुम भी नही तो तुम्हारी बहन फिर गुस्सा हो खिड़की खोल कर सो जाएगी।

आन्या मेरे पास बैठते हुए मुझे किस कर सोने चली जाती है। फिर 1 घण्टे बाद आन्या मेरे कम्बल में घुस जाती है।

मै: क्या हुआ। नींद नहीं आ रही क्या।

आन्या:(मुझे अपनी बांहों मे भरते हुए) अब आपके बिना कहा नींद आती है।

मै: तान्या सो गईं क्या?

आन्या: हूं।

फिर हम रोमांस करने लगे। आज हमने एक बार किया मैने उसे आज गोद मे उठाकर चोदा।

मै: अब यही सो जाओ वो तो सो ही गईं है।

आन्या: आप उसे ले आइए ना यहां, वो उठेगी तो मुझे खोजेगी। और मुझे भी नींद नहीं आएगी।

मैं: ओके।

फिर मै उसे गोद मे उठा यहां ले आता हूं और सभी सो जाते हैं। कुछ राते ऐसे ही गुजर जाती हैं, हम सेक्स करने के बाद, उसे अपने रुम मे सुला लेते हैं। और कभी नही करना होता तो पहले ही तीनों एक साथ सो जाते।। या कभी तीनो पहले बेड रुम मे सो जाते फिर हम दोनो चुप चाप तान्या के सोने के बाद स्टडी रूम मे जाकर सेक्स कर लेते और वापस आ सो जाते। एक दिन मैंने आन्या से पूछा कि इसके पीरियड्स आए क्या। मुझे डर था की उस दिन इसने दवा खाया था या नहीं। Jija sali xxx sex story

आन्या: हां, आ गया है 2 दिन पहले ही।

फिर मुझे थोड़ी राहत मिली। रात को मैं आन्या के गोद मे सर रख लेटा था , वो मेरे बालों में हाथ फेर रही थी, तान्या नीचे से आ गई।

तान्या: हटो मेरी दीदी के गोद से,।

आन्या: आजा तू भी लेट जा।

फिर आन्या हम दोनो का सर गोद मे रख, हमारे बालों को सहला रही थीं।

आन्या: काश मेरी जिंदगी ऊही, तुम दोनो का सर गोद मे रखे बीत जाए। मैं बता नहीं सकती इस पल मुझे कितनी खुशी हो रही है।

मैं:(बात को बदलते हुए) मैने सुना है की कहीं रेड अलर्ट जारी।

तान्या:(मेरे सीने पर मारते हुए) हा हा हा।

फिर हम सभी हंसी मजाक करते हुए सो गए। फिर 2 दिन बाद 4 बजे शाम को बारिश शुरु हो गई। तान्या मेरे पास आई।

तान्या: जीजू एक बात बोलूं मना मत करना प्लीज।

मैं: आप बोलिए तो रानी साहिबा।

तान्या: देखिए ना बाहर, हल्की रिमझीम बारिश हो रही है।

मैं: तो?

तान्या: मेरी बचपन से इच्छा है कि मुझे कोई बारिश में भीगते हुए प्यार करे, आप चलो ना ऊपर। देखो मैने साड़ी भी पहन रखी है।

मै: तुम फिर शुरू हो गई यार मैंने बोला था ना की बस उस रात की बात थी, अब हम दोनो का रिश्ता कुछ और है, हमें अपने रिश्ते का मान रखना चाहिए ना कि उसकी अवहेलना करनी चाहिए।

तान्या: यार तुम प्रवचन बहुत देते हो। मेरी तमन्ना का कोई मोल नही है? आपके लिए।

मैं: यार तुम समझो, मै ये नही कर सकता।

फिर भी वो मुझे तीसरी मंजिल पर खिंचते हुऐ ले गई वहां हॉल के बाहर खुली छत थी।

तान्या: देखो ना कितनी रिमझिम बारिश हो रही है आपका मन नही करता ऐसे में रोमांस करने को।

मै: पागल हूं क्या ऐसी ठंड में बारिश में भीग मुझे मरना नहीं है।

तान्या मुझे खिंचते हुऐ किस करने लगी और बारिश मे ले जाने लगी। मैंने उससे खुद को छुड़ाया और स्टडी रूम में गेट बंद कर कम्बल मे सो गया। मैने अपना फोन भी साइलेंट मोड में डाल दिया। फिर मेरी नींद तब खुली जब कोई दरवाजा पीट रहा था। मैन गेट खोला, सामने आन्या थी भीगी हुई।

मै: क्या हुआ, और तुम भीगी हुई क्यों हो।

आन्या: तान्या कहां है?

मै: मुझे क्या पता?

आन्या: वो छत पर खड़ी बारिश मे भीग रही है, मै उसे बुला रही हूं तो आ ही नही रही है, कुछ बोल ही नही रही है, सिर्फ रोए जा रही है, कुछ कहा है आपने क्या?

मैं: मैंने कहा कुछ बोला है। तुम पहले अपने कपड़े चेंज कर लो, मै देखता हूं।

फिर मै छत पर गया 7 बज चुके थे अभी तक हल्की हल्की बारिश हो रही थी। मैं छाता ले उसके पास गया।

मैं: क्या हुआ भीग क्यों रही हो चलो नीचे।

मैंने उसका हाथ पकड़ा वो नीचे गिरने लगी। मैने उसे पकड़ बांहों मे उठा लिया। और उसे नीचे ले आया। वो पूरी तरह ठंडी हो बेहोश हो गई थी। आन्या रुम मे नही थी मैने सबसे पहले उसके कपड़े उतारे जो गीले हो उसके शरीर से चिपके हुए थे। फिर बेड पे लिटा उसे कम्बल से ढक दिया। फिर मै लकड़ी जलाने वाला लोहे को बॉक्स को बेड रूम मे ले आया और उसमे लकड़ी जला दिया फिर उसे सोफे पर बिठा उसे आग की गर्मी देने लगा फिर उसके बाल सुखा दिए टॉवल से और उसके बालों को सोफे से नीचे लटका उसके नीचे हेयर ड्रायर चला दिया। वो सोफे पर नंगी बेसुध पड़ी थीं। सिर्फ उसके ऊपर कम्बल मैने डाल रखा था। फिर मै सरसों तेल गरम कर उसके पैर की मालिश की और उसकी सिंकाई की जब पैर आग से गर्म हो गए तो उनमें मैंने वूलेन के घुटने तक के शोक्स पहना दिए फिर मैने उसकी जांघों पर गरम तेल लगाया उसकी जांघें एक दम बर्फ सी भी ठंडी थीं।

jija aur saliyo ki kamleela

फिर मैंने उसकी चूत पर हाथ मे गर्म तेल ले डाल दिया और सभी जगह फैला दिया मालिश करने के जैसे। मैन सोचा पैंटी पहना दूं फिर मैंने सोचा पैंटी ढूंढने में टाइम लग जायेगा तो मैन उसे जल्दी से थर्मल पाजामा पहना दिया फिर उसके पेट, पीठ, हाथ, गर्दन और सिने पे गर्म तेल लागा उसे थर्मल वेस्ट पहनाया फिर उसे नाइट उलन अपर ड्रेस पहना दिया । उसके बाल अब सुख चुके थे तो उसके सिर में तेल लगाया और खुशबू बाली अगरबत्ती उसके बालों में दिखाया और उसके सर को मसाज करने लगा। अब उसे हल्का हल्का होश आ रहा था । तो मैंने भी अपने कपड़े चेंज कर लिए जल्दी से, उसे लाने में मै भी थोड़ा भीग गया था। फिर मैने उसे उसके हाथ पैर मोड सोफे पे अपने गोद मे बिठा आग तापने लगा। वो अभी भी कांप रही थी। मै उसके बदन को सहला उसे गर्म रखने की कोशिश कर रहा था। हमने दोनों कम्बल से खुद को ढक रखा था
फिर आन्या आ गई। खाना के लिए पूछने।

आन्या: क्या हुआ?

मैं: कुछ नही, तुम खाना ऊपर ही ले आओ, और ये कुछ कपड़े हैं इनको बाथरूम मे रख दो।

फिर वो हम दोनो का खाना लेकर आ गई।

मै: तुम अपना खाना नही लाई।

आन्या: नही मै मम्मी के साथ खा लूंगी।

फिर वो जाने लगी।

मैं: दूध लाना तो हल्दी डालकर लाना।

मैं: खाना खा लो।

तान्या कुछ नही बोली सिर्फ कांप रही थी। फिर मैने एक निवाला उठा उसके मूंह खोल डाल दिया। वो हल्के हल्के चबाने लगी। फिर हमने खाना खत्म किया तो मैंने पलेट साइड में रख हाथ धो लिया। फिर आन्या दो बड़े ग्लास गर्म दूध लेकर आ गई एक ड्राई फ्रूट्स वाला और एक हल्दी वाला। पहले मैंने उसे हल्दी वाला दूध आधा पिलाया फिर ड्राई फ्रूट वाला उसने आधा पिया फिर मना कर दिया तो दोनों का बाकी बचा दूध मैने पी लिया। फिर मैने उसे बीच मे सुला उसको भींच कर सोने लगे।
लेकिन वो अब भी काफी कांप रही थी उसके हाथ बिल्कुल ठंडे दे। Jija sali xxx sex story

आन्या: सुनिए लगता है इसे ठंड लग गई है, इसे जिस्म की गर्मी की जरूरत है।

फिर मैंने अपना शर्ट उतार दिया और उसके सीने से लग गया आन्या ने उसके उलन गाउन को सामने से खोल दिया। ठंड मुझे और आन्या को भी लग रही थी क्यूंकि हम दोनों भी भीगे थे, बारिश मे लेकिन सिर्फ थोड़ी देर। हमने दो कम्बल ओढ़ रखे थे। अब मैं उसे सीने से चिपका कर उसके गालों को सहला रहा था उसके गर्दन को किस कर रहा था।
उसके कानो को चूस रहा था। फिर मैने उसके बेस्ट के ऊपर से उसके चूंचे पर मूंह लगा उसे चूसने काटने लगा हाथों से उसे सहलाने लगा। वो हल्की हल्की सिसक रही थी। फिर मैने अपना हाथ उसके पजामे में डाल दिया उसके जांघ अभी भी ठंडे थे मैने अपना हाथ उसकी चूत पर रखा वो भी ठंडी थीं तेल की चिकनाहट चूत पर अभी भी थी।

फिर मैं चूत को हल्के हल्के सहलाने लगा। वो हल्के हल्के सिसकने लगी। फिर मैने अपना लन्ड उसके हाथ में दे दिया, मेरा लन्ड गर्म था उसका हाथ एक दम ठंडा था , उसने सिर्फ मेरे लन्ड को पकड़ रखा था हल्के हाथों से फिर कुछ देर उसकी चूत सहलाने के बाद जब उसकी चूत गीली हो गई तो मैं उसके ऊपर चढ़ उसके लबों को चूसते हुए सीधा अपना लन्ड उसकी चूत मे उतार दिया, वो कसमसा गई फिर मैने उसे हल्के हल्के चोदना शुरू किया फिर कुछ देर बाद मुझे पसीना आने लगा उसकी जांघों को छूकर देखा तो वो भी अब उतने ठंडे नही थे फिर मैने उसके बेस्ट को ऊपर कर उसके चूंचे चुसने लगा कुछ देर बाद वो हाफ्ने लगीं तो मै उसके गर्दन को चूसने लगा जहा मुझे उसे हल्का सा पसीना आता दिखा फिर मैं उसके होंठों को मूंह से बन्द कर उसे थोड़ा ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा फिर कुछ देर बाद हम दोनो झड़ गए मैने उसके अन्दर ही निकाल दिया क्यूंकि ये सेफ टाइम था। हम दोनो को थोड़ा पसीना आ गया था।

फिर मै उसके ऊपर मे लेट उसे सहलाने लगा। वो अब भी कुछ नही बोल रही थी लेकिन अब वो ठीक थी। फिर आन्या मेरे शरीर पर उंगलियां फिराने लगी । मैं तान्या के ऊपर चढ़ आन्या को किस कर रहा था फिर कुछ देर बाद मैने आन्या की साड़ी कमर तक उठा उसकी पैंटी उतार उसे चोदने लगा फ़िर मैने उसके स्वेटर और ब्लाउस के बटन खोल उसके मम्मे चूसने लगा। 10 मिनट की चुदाई के बाद वो झड़ गई । मैं अभी नही झड़ा था। तो मै उसके उपर लेटा उसे किस करने लगा। मैने देखा कि तान्या हमारी चुदाई आंखें खोल देख रही है। फिर उसने अपनी ऊंगली से अपनी दीदी के बाजू को छुआ, आन्या ने मेरी तरफ़ देख मुस्कुराया और मुझे चूमते हुए अपने ऊपर से उतार दिया। और तान्या के ऊपर चढ़ने का इशारा किया। फिर मैं तान्या के ऊपर चढ़ उसे किस करने लगा उसके कान गर्दन, गले को चूसा उसके चूंचे खूब चूसे फिर मैने उसकी चूत सहला अपना लन्ड अन्दर डाल दिया और चुदाई करने लगा। कुछ शॉट मैने कुछ ज्यादा ही जोर कर लगा दिया उसकी चीख मेरे होंठों से दब कर रह गए।। वो आह आह करती रही मै शॉट पर शॉट मारता रहा। हमारी चुदाई 15 मिनट चली फिर मैं उसके अन्दर झड़ गया। वो दो बार झड़ चुकी थी। फिर हम तीनो एक दूसरे से चिपक कर सो गए।

सुबह 5 बजे मेरी नींद खुली तो आन्या बाथरूम से निकल रही थी। फिर मैं उसे किस कर फ्रेश होने चला गया। मैं बाथरूम से निकला तो दोनो बहने कुछ बाते कर रही थीं।

मै: क्या हुआ अब नाराजगी दूर हुई। या अब भी नाराज हैं।

तान्या शर्मा कर अपना चेहरा अपनी दीदी के गोद मे छिपा लिया।

मैं:(आन्या से) अब ठीक हैं ना.।

आन्या:(मुस्कुराते हुए) हां अब ठीक है बस वाहा पर थोड़ा दर्द है।

मै: कोई बात नही, वो दर्द ठीक कर मै इनकी सारी नाराजगी दूर कर दूंगा।

फिर मैं गर्म पानी लेने बाथरूम गया, पानी लेकर आया तो आन्या नीचे जा चुकी थी और तान्या वहीं पर अपना चेहरे तक कम्बल ओढ़ सो रही थी। मैने उसके पैर के तरफ से कम्बल हटा उसका पाजामा उतार दिया और सीधा अपनी गर्म जुबान उसकी चूत पर रख दिया। वो आह आह करने लगी। फिर मैंने गर्म पानी से भीगा हुआ टॉवेल उसकी चूत पर रख दिया वो कुलबुला उठी। फिर मैने 3 मिनट उसकी चूत की सिकाई की और सरसों तेल उसकी चूत पर लगा उसकी चूत सहलाने लगा।

तान्या: आह अब रहने दो जीजू बहुत दर्द हो रहा है।

उसे लगा मैं अब उसकी चुदाई करूंगा।

मैं:(हंसते हुए) क्यूं सारा भूत उतर गया।

तान्या: ऐसा है तो लो कर लो। मैं डरती नही हूं।

वो मुझे किस करने लगी ।

मै: छोड़ो मुझे अब जिम जाने का टाईम हो गया है। आज रात को तुम्हें बताता हूं।

ये दिसंबर की बारिश आज भी हल्की हल्की हो रही थी। फिर आज रात कुछ नही हुआ। फिर अगले दिन 11 बजे फिर जोर से बारिश होने लगी। आन्या नीचे थी, मै और तान्या स्टडी रुम मे थे।

तान्या : जीजू चलो ना बारिश मे रोमांस करेंगे।

मैं: पागल है क्या, परसों मैने कितनी परेशानी उठाई है तुम्हें पता भी है, तुम्हें नही कुछ बोला तो तुम तो सर पर ही चढ़ी जा रही हो।

तान्या: चलो ना जीजू प्लीज!

मैं: दिमाग खराब मत करो, इसके बाद कभी बारिश नही होगी क्या। अभी ठंड लग जाएगी।

तान्या: आपको आना है तो आओ नही तो मै तो चली।

वो ऊपर जाने लगी। मै उसके पीछे दौड़ कर गया और उसको तीसरी मंजिल से जबरदस्ती पकड़ कर स्टडी रूम मे ले आया वो छोड़ने के लिए बोल रही थी। और छुटने की बहुत कोशिश कर रही थी। मैने सोचा आज इसे सबक सिखाता हूं। पहले मैंने उसके मूंह मे कपड़ा डाल दिया फिर उसके दोनों हाथ ऊपर कर बेड से बांध दिए। फिर मैने गेट बंद किया और उसके मूंह से कपड़ा निकाल दिया क्यूंकि मैं जानता था कि मेरा रुम साउंड प्रूफ है कितना भी चिल्ला लो आवाज़ बाहर नही जायेगी। फिर उसके पैजामे को उतार दिया। फिर उसकी पैन्टी उतार दी और उसके चूतड को काटने और थपड़ मारने लगा जोर जोर से वो चीख रही थी। फिर मैं उसके होंठों के तरफ बढ़ा और उसके होंठ चूसने लगा काटने लगा। फिर मैने उसके गर्दन पर और गले पर जोर से काट लव बाइट दे दी। वो चीख पड़ी। फिर मै उसके निप्पल काटने लगा अपने दांतों के निशान उसके बूब्स पर छोड़ रहा था। फिर इतने मे दरवाजा पीटने की आवाज आई। Jija sali xxx sex story

Jija sali ki chudai kahani

मैं: बिल्कुल चुप रहना लगता है कोई आया है।(मैने उसे कम्बल से ढक दिया।

गेट खोला तो आन्या थी।

आन्या: तान्या किधर है?

मैं:पता नही, लेकिन कुछ देर पहले वो मुझे बारिश मे रोमांस करने को बोल रही थी तो मैंने मना कर दिया।(ये बोलते हुए मैं उसे बेडरुम मे ले आया)

आन्या: और आपने उसे जाने दिया रोका क्यूं नही, वो फिर उपर जा कर भीग रही होगी।

मै: क्यूं रोकू किसी को।

आन्या की आंखों में आसूं आ गए थे ।

फिर वो ऊपर जाने लगी तो मै उसे भी पकड़ कर, स्टडी रूम के बेड पर पटक दिया।

मैं: छोड़ो उसे भीगने दो, चलो हम रोमांस करते हैं।

आन्या: छोड़ो मुझे जाने दो अगर वो फिर बारिश मे भीगी तो उसकी तबियत खराब हो जायेगी।(इतना बोल वो मुझसे छुड़ाने कि कोशिश करते हुए रोने लगी) उसे अपनी बहन को ऊपर डूंडने की इतनी जल्दी थी की उसे पता ही नही चला कि उसकी बहन उसके अपने बगल मे लेटी है।

तान्या:(हंसते हुए) अरे दीदी मैं यहां हूं देखो इसने मुझे जाने नही दिया और बांध कर रखा है।

आन्या कम्बल उठा अपनी बहन को देख बहुत खुश हो गई, और उसे चूमने लगी।

फिर आन्या मुझे चूमते हुए।

आन्या: थैंक्यू सो मच जो आपने इसे मेरी बहन मेरी जान को भीगने नही जाने दिया।

मैं: अरे जान, तुम्हारी जान मेरी जान है और मेरी जान का ख़्याल मै नही रखूंगा तो कौन रखेगा।

तान्या:(नखरे दिखाते हुए) क्या ख्याल रखा, देखो दीदी इसने मुझे कितना मारा मुझे काटा भी।

(उसके पूरे शरीर पर मेरे दांतों के निशान थे, उसकी गोरी गोरी चूतड पर मेरे दांतों और उंगलियों के निशान छप गए थे।)

मै: ये उस रात परेशान करने की पनिशमेंट है समझी।

आन्या: (उसके शरीर पर निशान देखते हुए) कोई नही इसका बदला हम दोनो बहने अभी ले लेते हैं।

फिर वो दोनों मेरे ऊपर टूट पड़ी और मुझे किस्स करने लगी और शरीर के हर जगह काटने लगी चेहरे पर गर्दन पर बाजू पर, सीने पर, पीठ पर, पेट पर, जांघों पर, गले पर सब जगह काटा और बड़े गहरे निशान छोड़े। मेरे पूरे शरीर पर उन दोनों के दांतों और नाखूनों के निशान थे, कहीं कही से तो नाखूनों की वजह से खून भी निकल रहा था। तान्या ने तो मेरा लन्ड पकड़ बोला।

तान्या: (हस्ते हुए)दीदी बोलो तो इसे भी काट लूं।

मै: हां काट दो पुरा काट दो फिर जिंदगी भर का तांता ही खत्म।

आन्या:(हस्ते हुए) नही छोड़ दे उसे। अभी उससे बहुत काम है।

फिर तान्या मेरे लन्ड को हिलाने लगी। अब मेरा भी हाथ फ्री था , तो मैंने भी अपनी दोनों हाथों की दो दो उंगलियां उनकी चूत मे घुसा दी, और जल्दी जल्दी आगे पीछे करने लगा। वो आह आह करने लगी। फिर हम साथ ही झड़ गए सभी थक चुके थे तो वैसे ही कम्बल ओढ़ सो गए। स्टडी रूम का बेड छोटा था तो सभी एक दुसरे पर एक एक टांग रख सो रहे थे। फिर 3 बजे मेरी नींद खुली तो मेरा पुरा शरीर दर्द से टूट रहा था, मेरे मुंह से एक जोर की आह निकल गई दर्द से भरी। मेरी कराह सुन वो दोनो भी उठ गई ।

आन्या:(मेरे शरीर पर नाखूनों के निशान देखते हुए जो किसी स्क्रेच से लग रहे थे, और जगह जगह खून के निशान थे) सॉरी वो ओवर एक्साइटमेंट में ये सब हो गया।

मैं: अरे कोई बात नही।

आन्या: तुम दोनो बाथ रूम मे जाओ मै आती हूं। (वो साड़ी पहन नीचे चली गई)।

फिर मैं बाथरूम मे जा गीजर ऑन कर दिया, फिर मेरे पीछे तान्या भी आ गई। हम दोनों नंगे ही थे।

तान्या: सॉरी जीजू कुछ ज्यादा हो गया।

मैं: ( उसे गले लगाते हुए) अरे कोई बात नही।

फिर आन्या आ गई हल्दी चन्दन का पेस्ट ले कर।

आन्या: लाओ मैं तुम दोनों को हल्दी चन्दन का पेस्ट लगा देती हुं, इससे जल्दी ठीक हो जाएगा।

मैं: अरे यार जलेगा शरीर।

आन्या: कुछ नही होगा।

फिर मेरे और तान्या के शरीर पर हल्दी लगाने लगी ।

मैं: अरे यार जलन हो रही है।

तान्या: मुझे जलन नही हो रही है।

मै: तुम्हारे शरीर पर कहा कटा है।

आन्या: कुछ नही हो रहा है, थोड़ा सा सह लो।

फिर तान्या ने आन्या का पल्लू खींचा तो।

आन्या: क्या कर रही है? छोड़।

फिर मैने आन्या को बांहों मे भर लिया और उसके होंठों को जीभ से छू हटा लिया। आन्या मेरी आंखों में देखते हुए मुझे किस करने लगी फिर हम दोनों एक लय से किस करने लगे। जब मैं उसके अपर लिप्स चूसता तो वो मेरा लोअर लिप्स चूसती, जब मैं उसका लोअर लिप्स चूसता तो वो मेरा अपर लिप्स चूसती। कभी उसकी जीभ मैं चूसता तो कभी वो मेरा जीभ चूसती। हमे ऐसा किस करते देख, तान्या के मूंह से लार टपकने लगा।

तान्या: जब मैने पल्लू खींचा तो मुझे मना कर दिया और इसने किस किया तो इसे इतना अच्छा किस किया। और तुमने इतना अच्छा किस करना कहा से सीखा।

आन्या: (शर्माते हुए) तेरे जीजू से।

तान्या: चलो अब मुझे भी सिखाओ।

मै: सिखाऊंगा पर किसी स्पेशल दिन।

तान्या: ओके, याद रखना फिर मुकर मत जाना।

फिर आन्या ने गर्म पानी का शॉवर ऑन कर दिया और हम दोनों के शरीर पर लगे हल्दी को छुड़ाने लगी। फिर हम नहा कर बाहर निकले। मेरे चेहरे पर निशान बने थे। मुझे नीचे आने मे शर्म आ रही थी। फिर भी हम तीनो नीचे आ गए रात हो चुकी थी। तो मै मम्मी से दूर जहां कम लाइट पड़ रही थी वहां बैठ गया। पापा मेरे गैर मौजूदगी मे आफिस गए थे। मैने पापा को फोन किया की निकले की नही वो बोले 1 घण्टे में निकलता हूं। फिर कुछ देर बाद मम्मी बोली दुल्हन के मम्मी का फोन आया था, वो तुम तीनों को बुला रही हैं 21 दिन हो गए हैं। ऐसा कर तू कल चला जा और 10 ,15 दिन ससुराल रह। उनका भी मन नही लगता होगा। मैं सोचने लगा अब इस जख्मी चेहरे को ले ससुराल कैसे जाऊं। Jija sali xxx sex story

मैं: अभी नही मम्मी कुछ दिन बाद जाता हूं ना।

मम्मी: कुछ दिन बाद क्यों कल क्यों नही, और तू वहां क्यूं बैठा है यहां आ।

मैं: नही मम्मी मै ठीक हूं यहीं।

मम्मी: यहां आ बोला ना।

मै उनके पास जा बैठ गया, वो दोनो मम्मी के पास बैठी थी। उनके पास जाते ही, उनको मेरे चेहरे पे दांतों के निशान दिख गए।

मम्मी: तेरे चेहरे पे ये निशान कैसे हैं।

मैं: कुछ नही मम्मी कीड़े ने काट लिया है।

मम्मी:(मेरे चेहरे को गौर से देखते हुए) बेटा मुझे तो लगता है ये किसी बिल्ली के काटने के निशान हैं।

(वो दोनों शर्माते हुए किचन मे चली गई)

मैं: हां मम्मी जंगली बिल्ली ने काटा है।

मम्मी: बेटा जंगली बिल्लीयों से प्यार से पेश आना चाहिए, नही तो वो काट लेती हैं।इसलिए तू जाने से मना कर रहा था।

मैं: हां और नही तो क्या। ऐसा करते हैं, 16 दिसम्बर को इनका बर्थ डे है तो उसी दिन चले जाते हैं, और उसमे दिन ही कितना है 6 दिन ही तो हैं। और 2, 4 दिन मे ऑफिस भी चला जाऊंगा।

मम्मी: ठीक है।

फिर कुछ देर मे पापा आ जाते हैं और हम खाना खा कर सोने चल पड़ते हैं । आन्या हम दोनों के शरीर में गर्म तेल से मालिश कर देती है, मुझे थकावट के कारण मालिश कराते हुए ही नींद आ जाती है। फिर अगले दिन मैं मम्मी से पूछ ऑफिस निकलने वाला था।

मम्मी: सुन ऑफिस जाने से पहले अपनी पत्नी से मिल लो और इसकी आदत डाल लो कभी भी अपनी पत्नी से मिले बिना आफिस नही जाना है।

मैं: ठीक है मम्मी।

फिर आन्या को मां ने किचेन से बाहर भेजा वो मुझे पार्किंग तक आई मैंने उसे किस किया और गाड़ी निकाला। फिर आफिस मे मेरे कुछ एम्प्लॉय ने पूछा कि चेहरे पे ये निशान कैसे तो मैंने कहा जंगली बिल्ली ने काट लिया है सभी हंसने लगे। फिर आफिस मे कुछ काम कर 8 बजे घर पहुंचा। फिर सब खाने को बैठ गए । खाने के बाद मम्मी ने कहा कि तू आज के बाद हमेशा 6 बजे के पहले घर पर मिलना चाहिए।

मैं: अरे मम्मी 7 बजे तक पहुंच जाऊंगा।

मम्मी: नही 6 बजे।।

मैं: अभी कुछ दिन तक बहुत काम है मम्मी ये रूल ससुराल से आने के बाद लागू करू तो कैसा रहेगा प्लीज।

मम्मी: ठीक है।

फिर हम ऊपर आ गए। आज आन्या ने मेरी मालिश की और मैने उन दोनों की जबरदस्त मालिश की।

तान्या:वाह जीजू मुझे नही पता था आप इतनी अच्छी मालिश भी करते हैं। और क्या करते हैं।

मैं: (उसके पैरों की मालिश करते हुए ) मालकिन हम तो गरीब आदमी हैं जो आप बोलेंगी वो हम करेंगे।

तान्या:(हंसते हुए) आप तो एक्टिंग भी करते हैं।
,
फिर हम एक साथ सो गए। कुछ दिन ऐसे ही आफिस से घर, घर से ऑफिस में निकल गया । फिर एक दिन मैं ऑफिस चला गया तो मेरे एक एम्प्लॉय को गाड़ी की जरूरत थी तो मैंने उसे दे दी। फिर मैं उसका बाइक लेकर 7 बजे निकल गया मैने देखा कि बाइक मे हेलमेट नही है और मैने अपना कोट गाड़ी में ही छोड़ दिया है जो जा चुकी थी। फिर मै सिर्फ शर्ट पहन बाईक चला रहा था मैं ठंड की वजह से कांपने लगा मैं फिर धीरे धीरे बाइक चलाने लगा। जब मैं घर पहुंचा तो तान्या पार्किंग में ही खड़ी थी।

तान्या: बाइक से क्यों आ रहे हैं।

मैने उसे सब बताया फिर मुझे कांपते देख उसने मुझे अपने आगोश मे ले लिया मुझे उसके जिस्म की गर्मी से थोड़ी राहत मिली। फिर मै अन्दर आ खाना खा कर उपर चला आया। मैं अब भी कांप रहा था तान्या ने आज तेल गर्म कर मेरे पूरे शरीर पर मालिश कि और मुझे दोनों ने अपने बीच में सुला अपने आगोश मे भर लिया उनके जिस्म की गर्मी से मैं अच्छे से सो पाया। फिर अगले सुबह ही मेरा एम्प्लॉय मेरी गाड़ी घर पहुंचा अपनी गाड़ी ले कर जाने लगा तो पापा जी ने उसे पहले हेलमेट ना पहनने के लिए डांटा और फिर अपनी बाइक से ऑफिस जाते हुए उसे हेलमेट खरीदने के लिए 2000 रुपए दिए । पहले तो वो डांटने से डर गया फिर हंसते हुए चला गया। Jija sali xxx sex story

मैं: मै आज ऑफिस जा रहा हूं तो आप क्यों जा रहे हैं।

पापा: अपनी मां से पूछ ।(और वो बाइक से ऑफिस चले गए)

मैं:( तैयार होते हुए) मम्मी पापा को ऑफिस क्यों भेजा , जब मै जा ही रहा हूं तो।

मम्मी:(मेरे बाल में कंघी कर रही थी और मेरे चेहरे के निशान देखते हुए) बेटा जंगली बिल्लीयों को कभी कभी बाहर भी घुमा देना चाहिए तो वो कम नोचती है।

मैं शर्मा कर उपर चला आया। फिर वो दोनों तैयार हो गई । मैं उनको जा कर शॉपिंग करा आया। फिर अगले दिन उनका बर्थ डे था। तो रात में सभी सोने चले गए। फिर उन दोनों ने मुझे रात के 2 बजे उठा दिया।

मैं:(दोनों को किस करते हुए) हैप्पी बर्थडे मेरी जान।
आई लव बोथ ऑफ यू।

तान्या: वो सब छोड़िए।

इसका जन्म 3 बज कर 7 मिनट पर और मेरा जन्म 3 बज कर 18 मिनिट पर हुआ था तो हम चाहते हैं की सेम उसी टाईम पर आज सेक्स करे।

मैं: ठीक है।

फिर मै बाथरूम गया। आते ही वो दोनों मुझ पर टूट पड़ी। मैने कहा रुको आज स्पेशल डे है। फिर मैने तान्या को किस करना सिखाया उसकी प्रैक्टिस कराई। फिर 3 बज गए तो मै आन्या की चूत चाटने लगा वो आह करने लगी कभी उसे किस करता कभी उसके चूंचे पीता फिर 3:07 पर उसकी चूत में लन्ड डाल दिया, अब मेरे दिमाग में चल रहा था की 11 मिनट के अन्दर इसे ओर्गास्म तक पहुंचाना है। तो मै उसके निप्पल चूसते हुए चोदने लगा वो आह आह करने लगी, मै उसे गर्दन होंठो पर चूसते हुए जोर जोर से चोदने लगा 10वे मिनट में वो झड़ गई।

तान्या:जल्दी करो अब सिर्फ 36 सेकंड है ।

मैने जल्दी से लन्ड निकाला और उसके चूत पर रख दिया उसने बोला डालो अब। मैने खचक से पुरा लन्ड उसके चूत में एक बारमे उतार दिया वो दर्द औरमजे से सिसक उठी। फिर मैं उसके गर्दन को चूसते हुए चोदने लगा। 15 मिनट बाद हम दोनों झड़ गए। मै उसके बाहर निकाला कर झड़ा। फिर तान्या मुझे काटने चुसने लगी।

मैं: मत काटो यार पहले ही निशान अभी नही मिटे हैं।

फिर भी उसने गर्दन और सिने पर काट लिया मेरी चीख निकल गई।

आन्या: अब सो जाओ कल घर भी जाना है।

फिर हम सो गए। अगले दिन हम सुबह उठ कर नीचे गए तो मम्मी पापा ने हमारे लिए केक मांगा रखा था। जाते ही दोनों ने मम्मी पापा के पैर छुए। मम्मी ने दोनो को गले लगा लिया।

मम्मी: आज तुम लोगों को जब जाना है मैने सोचा कि क्यूं ना सुबह ही केक काटा जाए।

फिर हम तैयार हो निकले को हुए। तो

मम्मी: अच्छे से जाना और खुश रहना तान्या बेटा इसके खाने का ख्याल तुम रखना, ये बाहर जाकर खाना नही खाता है शर्माता है।

तान्या: जी मम्मी जी।

मम्मी की आंखों में आसूं आ गए थे अपनी बहू को विदा करते हुए।

मै: रो क्यूं रही है बहू की विदाई कर रही है बेटी की नही। बोलो तो नही जाता हूं।

मम्मी:मरूंगी तुझे मैं ये दोनो मेरी बेटियां हैं।

और दोनों को गले लगा लेती हैं। फिर हम गाड़ी मे बैठ निकल पड़ते हैं। मैं गाड़ी चला रहा था और वो दोनों पीछे बैठी थी।

तान्या: दीदी तुम कितनी खुश नसीब हो जो तुम्हें इतनी प्यारी मां जैसी सास मिली है। पता नही मेरी किस्मत में कैसी सास लिखी है।

आन्या:(उसका माथा चूम उसे गले से लगाते हुए) मै खुश नसीब हूं कि मुझे तुम जैसी बहन मिली है।

मैं: और मै खुश नसीब हूं की मुझे आप जैसी मालकिन मिली हैं जिनका मैं ड्राइवर हूं।

वो दोनो हसने लगती हैं।

मै: तो मालकिन जरा मुझे रास्ता बताने का कष्ट करेंगी। ये रास्ता मेरे लिए अनजान है।

तान्या: लाइए मै गाड़ी चलाती हूं।

मैं: लाइसेंस है।

तान्या: हां।

Read More Sex Stories..

फिर मैने आन्या की आंखों में देखा उसने कहा हां इसे चलाना आता है।

मैं: तो मालकिन आप गाड़ी चलाई ये मैं आपकी बहन के साथ रोमांस करता हूं।

फिर मैं पीछे आ गया और तान्या गाड़ी चला हमने अपने घर ले गई। उसे अच्छा गाड़ी चलाना आता था।

फिर उसके घर पहुंच अन्दर गया। मैने उसके मम्मी पापा को प्रणाम किया। वे अपनी बेटियों से मिल काफी खुश हुऐ। फिर कुछ देर हमने नाश्ता कर बात चीत की।फिर उसके पापा बाहर चले गए। उसके पापा पहले दवाई जांच विभाग में थे फिर उन्होंने खुद का दवाई सप्लाई की दुकान खोल ली इस शहर मे उनका 12 केमिस्ट शॉप था।

सासु मां: इनके जाने के बाद तो घर एक दम सुना हो गया था बेटा जी।

मैं: हां दोनों जो चली गई।

सासु मां: हां ये दोनों हमेशा साथ ही रही हैं कभी अलग नहीं हुई तो उस दिन भी चली गई। अगर आपका कोई भाई होता तो इसकी शादी भी मैं इसी मण्डप में करा देती। फिर दोनो साथ ही रहती एक ही घर में। लेकिन आपके पिताजी तो फौज में थे तो उनको कहा टाईम मिला होगा।(सासु मां मेरे मजे ले रही थीं) Jija sali xxx sex story

मै: ससुर जी की भी तो केमिस्ट की दुकान है, तो आन्या 3 बहने क्यूं हो गई।

मेरी हाजिर जवाबी देख सासु मां शर्मा गई। मै भी शर्मा गया कि ये मै क्या बोल गया।

तान्या:(मेरे कंधे पर नाखून गड़ाते हुए) हम दोनों तो जुड़वा हैं ना तो लॉजिकली तो दो ही हुए ना।

मैं: तो दूसरी कहा है दिख क्यों नही रही है।

सासु मां: स्कूल गई है आती ही होगी 2 बजने को हैं।

फिर सासु मां ने बोला कि चलो कुछ देर आप लोग आराम कर लो फिर रात के खाने की तैयारी करना, और बेटा जी आप चेंज कर लीजिए। मैं चेंज कर उलन का टी शर्ट और नीचे ट्राउजर उलन का पहन लिया। अन्दर मैने थर्मल पहन रखा था। फिर कुछ देर बाद मेरी छोटी साली स्कूल से आ गई। आते ही वो आन्या के गले लग रोने लगी। इसका नाम आर्या था वो एक 16-17 साल की लडकी थी चंचल खूबसूरत। प्यार से सभी घर पर छोटी छोटी बुलाते थे अभी 11th में पढ़ती थी। फिर वो मुझसे मिली।

छोटी: मैं आपसे नाराज हूं।

मै: क्यूं मेरा बच्चा क्यूं नाराज हैं आप हमसे।

छोटी: आप मेरी दीदी को कहा लेकर चले गए थे।

मै: इसका जवाब तो आपकी दीदी ही देंगी।

सासु मां: तान्या मेहमान को ऊपर लेकर जाओ।

तान्या: आइए मालिक आईए।

मैं हस्ते हुए अपना बैग उठाता हूं।

तान्या: रहने दीजिए मालिक ये हम उठा लेंगे।

Jija ne sali ko pela

फिर उपर आ जाते हैं। आन्या का घर 2 फ्लोर का था नीचे वाले फ्लोर पर पार्किंग, उसके मम्मी पापा का रूम एक हॉल बाथ रूम किचन था। ऊपर वाले 2 बीएचके था। लेकिन सारे कमरे बाथरूम अभी डबल साइज के थे बेड भी सारे डबल साइज के। जिस कमरे मे तान्या हमे ले गईं उसमे एक किंग साइज से भी बडा बेड था।
बाथ रूम हॉल मे था।

तान्या:आइए मालिक, ये कमरा पहले हम तीनो बहनों का था अब आपका है मालिक।

मैं: (उसकी चूतड मे चूंटी काटते हुए)। पहले ये मालिक कहना बन्द करो तुम।

तान्या: आह, जी मालिक। हस्ते हुए।

फिर आन्या और छोटी भी आ जाती हैं कमरे मे। फिर सभी मिलकर बात हसीं मजाक करने लगते हैं। फिर मुझे याद आया कि मम्मी ने जो इतना सारा सामान भेजा है उसमे छोटी के लिए कमर बंध और पायल भी है।

मै: बैग से निकालते हुए। ये लो छोटी मम्मी ने तुम्हारे लिए भेजा है।

छोटी: ओह वाओ ये क्या है। (वो कमर बंध निकाल गले मे पहनने लगी, सभी उसे देख हसने लगे)

आन्या: उसे गले में नही कमर मे पहना जाता है।

छोटी: पहना दो।

आन्या: आपने दिया है तो आप ही पहना दीजिए।

छोटी ने अभी तक स्कूल ड्रेस ही पहन रखा था। मैने उसे शर्ट के ऊपर से कमर पर कमर बंध बांध दिया। फिर पायल भी उसको पहना दिया। वो खुश हो कमर हिला बेली डांस की तरह करने लगी। फिर मम्मी ने आवाज दी की निचे आ जाओ सभी खाना कि तैयारी करो। फिर निचे आ कुछ काम मे हाथ बटाने लगा फिर शाम को धूम धाम से बर्थ डे मनाया गया दोनों 20 साल की हो गई थी। फिर खाना खा सभी सोने की तैयारी करने लगे। हम चारों ऊपर आ गए, पहले तय ये हुआ की मैं और आन्या इस रुम मे और छोटी और तान्या दुसरे रुम मे सो जाएगी लेकिन यहां ऐसे कितने ही लोग थे जिन्हे एक दुसरे बिना नींद नहीं आने वाली थी फिर उपर से छोटी भी कहने लगी कि मैं आन्या दीदी के बिना नही सोऊंगी। फिर हम सभी ने डिसाइड किया कि सभी यहीं सो जाते हैं वैसे भी बहुत बडा बेड था। 4 लोग ठंड के दिन मे आराम से सो सकते थे। एक किनारे मै फिर आन्या फिर छोटी फिर दुसरे किनारे तान्या सो गई।फिर बात चीत करते हुए हमें नींद आ गई। Jija sali xxx sex story

फिर अचानक रात 2 बजे छोटी उठ रोने लगी। बच्चों के तरह। फिर मैने आन्या को उठाया की देखो इसे क्या हुआ। फिर तान्या की भी नींद खुल गई। फिर आन्या ने उसे अपने गले लगा अपना एक निप्पल उसके मूंह में डाल दिया कुछ देर बाद वो चुप हो सो गई।

मैं: (तान्या से) क्या हुआ इसे।

तान्या: अरे ये जब रात को उठ जाती है तो ऐसा ही करती है।

फिर मैं सोने की कोशिश करने लगा लेकिन मुझे नींद नही आ रही थी। उधर तान्या को भी नींद नही आ आ रही थी ।

तान्या: नींद नही आ रही है मालिक।

मैं: नही।

तान्या: तो मैं कुछ सेवा कर दूं मालिक।

मैं: क्या सेवा कर सकती हैं।

तान्या: आप मौका तो दे मालिक।

फिर वो मुझे उठा दुसरे कमरे मे ले जाती है।

मै: क्या कर रही हो। कोई देख लेगा।

फिर वो मुझे किस करने लगती है और हमारी चुदाई स्टार्ट हो जाती है मेरे साउंड प्रूफ रुम मे उसे चुदाई के समय चीखने की आदत लगी थी। मैंने उसे चुप रहने को कहा कि कोई सुन लेगा। फिर मै उसके चूतड पकड़ चोदने लगा मैंने आज उसे डॉगी स्टाइल मे चोदा फिर अपने ऊपर बिठा कर चोदा फिर 20 मिनट बाद हम दोनों आह आह करते हुए झड़ गए। फिर वो कुछ देर मुझे चूमती चूसती रही फिर उठ कर।

तान्या: रुकिए मालिक मैं अपनी बहन को आपकी सेवा के लिए भेजती हूं।

फिर कुछ देर बाद आन्या आ जाती है और फिर मै उसकी चुदाई कर सो गया रुम में आ कर। फिर दिन आन्या को किसी रिश्तेदार के यहां जाना था तो आन्या, उसकी मां और तान्या चली गई मेरी कार ले कर शाम को आना था छोटी स्कूल जा चुकी थी और उसके पापा अपने मार्केट। मै 12 बजे से बोर हो गया था अकेले घर में। फिर 2 बजने को थे तो मै दरवाजे पर आ गया देखने थोड़ी देर बाद वो आती दिखी। फिर उसने मुझे इंतजार करते देखा तो दौड़ते हुए आने लगी लगभग 200 मीटर वो तेज दौड़ कर आई और मेरे गोद मे चढ़ मुझे लपेट लिया।

मैं: आराम से गिर जाओगी।

फिर मै उसे उठा हॉल मे ले आया और उसे गोद मे ले सोफे पर बैठ गया। मैने उसका बैग हटा दिया।

मैं: अब हटो हाथ पैर धो कर खाना खा लो।

फिर कुछ देर बाद वो वैसे ही बैठी रही, मैने उसके जूते उतारे उसके जुराब उतार रख दिया फिर मैने उसे खाना निकाल कर दिया।

छोटी: आप खिला दो ना।

फिर मैने उसे अपने हाथों से खाना खिला दिया। फिर वो सोफे पे लेट गई मैं किचेन में बर्तन धोने लगा। बाहर आकर देखा तो वो सोफे पे ही सो गई थी फिर मैने उसे नीचे के ही रुम मे सुला दिया। एक घण्टे बाद वो सो कर उठी तो सीधा मेरे गले लग गई।

मैं: चलो अब उठो चेंज कर लो।

फिर वो चेंज कर आ गई।

मेरे गले के निशान देखते हुए ये क्या हुआ है जीजू।

मैं: शायद कीड़े ने काट लिया है।

फिर मुझे लगा की उन्हें आने मे टाईम लगेगा तो मै किचेन में जा खाना बनाने लगा 8 बजे वो लोग आ गई तो मुझे खाना बनाते देख।

तान्या: ओह तो जनाब को खाना बनाना भी आता है।

मै: जी रानी साहिबा।

फिर मैने खाना बनाया, और सब ने खाना खा खाने की तारीफ की।

सासु मां: बेटा जी आपने इतना अच्छा खाना बनाना कहा से सीखा।

मै: ऐसे ही सीख लिया।

फिर सभी खाना खा सोफे पर बैठ बात करने लगे। एक सोफे पर मै छोटी और आन्या बैठी थी। सामने के सोफे पर सासु मां और तान्या बैठी थी।

छोटी :(मेरे गर्दन को सहलाते हुए) मम्मी देखो जीजा जी को किसी कीड़े ने काट लिया है, कोई क्रीम लगा दो।

सासु मां:(उठकर आते हुए) कहां काटा है देंखू जरा।

तान्या हस्ते हुए उन्हें रोकने की कोशिश करती है, लेकिन वो आकर देखने लगती हैं।

सासु मां: अरे ये तो कीड़े के काटने के निशान नही लग रहे हैं। ये तो बिल्ली के काटने के निशान हैं।

मै: हां मम्मी जी जंगली बिल्ली ने काटा है।

फिर सभी हंसने लगते हैं।

छोटी: आप जंगल गए थे, जो जंगली बिल्ली ने काट लिया?

मै: नही मैं एक जंगली बिल्ली को पालतू बना रहा था, उसने काट लिया।

फिर कुछ देर बाद छोटी आन्या के गोद मे ही सो जाती है।

मम्मी: ओहो, ये लड़की तो सोफे पर ही सो गई अब इसे रुम मे कौन ले जाएगा, तान्या जाओ पापा को उठा लाओ वो इसे उठा कर ले जाएंगे।

मै: उन्हें सोने दीजिए मै पहुंचा देता हूं।

फिर मै छोटी को उठा उसके मम्मी पापा के रुम मे सुला देता हूं।।

सासु मां:अब आप लोग भी जाओ सो जाओ रात बहुत हो गई है।

फिर हम ऊपर आ जाते हैं।

तान्या: अच्छा हुआ जो वो नीचे सो गईं अब हम मस्ती करेगें।

मैं:( उसके कान पकड़ते हुए) देख तेरे दांत काटने की वजह से मुझे क्या क्या बोलना पड़ रहा है सभी क्या सोचेंगे मेरे बारे मे।

आन्या: (हस्ते हुए)आपके बारे मे नही मेरे बारे मे सोचते होंगे, क्यूंकि ये निशान का बिल मेरे नाम पर ही फट रहा है। मां मुझे इशारों में कह रही थी की ऐसा नही करते।

फिर हम सभी किस करने लगे। मैं आन्या की नाभी चाट रहा था, फिर इसकी साड़ी उठा उसकी पैंटी उतार दी, और साड़ी के अन्दर घुस उसकी चूत चूसने लगा। वो आह आह कर सिसकारियां भरने लगी। Jija sali xxx sex story

मै: ज्यादा जोर से मत आवाज निकालो, आवाज नीचे तक चली जाएगी।

आन्या: मैं क्या करूं, आप वाहा किस करते हो तो मुझसे बर्दास्त नही होता। आह आह।

मैं: तान्या इसका मुंह बन्द करो या इसे किस करते रहो।

फिर तान्या उसे किस करने लगी, मै उसके चूत को जोड़ जोड़ से चूसने लगा। मैं आज उसे जीभ से चाट चाट कर ही झाड़ना चाहता था।
कुछ देर बाद वो जोर जोर से गान्ड उठाती हुई झड़ गई। फिर मैने उसकी साड़ी पेटी कोट खोल दिया फिर दोनों को लेटने बोला। फिर तान्या को भी नीचे से नंगा कर उसकी चूत सहलाने लगा फ़िर तान्या ने अपना सूट उतार दिया और ब्रा भी। फिर उसने अपनी बहन का ब्लाउस खोल दिया साथ मे ब्रा भी खोलने लगी। ब्रा खोलते हुए उसे कुछ टाइट लगा आन्या का ब्रा।

तान्या: तेरी ये ब्रा तुझे टाईट हो रही है क्या।

आन्या: हां, थोड़ी सी।

तान्या:(वो ब्रा खुद पहनते हुए)मुझे तो टाईट नही हो रही है। ओह, क्या हमारे ब्रेस्ट का साइज बदल रहा है।

तान्या: (मेरे तरफ देखते हुए) इसके ब्रेस्ट साइज बड़ गया मेरा क्यों नही बड़ा।

मैं: (उसकी चूत चाटते हुए) क्यूंकि उसकी शादी हो गई है।

तान्या: वो सब मैं नही जानती, जब चारों के मालिक तुम हो तो दो बड़े हो रहे हैं और दो क्यों नही, यानी कि तुम सेवा में भेदभाव कर रहे हो।

मै:( उसके चूंचे चूसते हुए) मैने कोई सेवा मे कमी नहीं की है, ये साइकोलॉजी से होता है। उसकी ब्रेस्ट शादी हुई महिला के हैं, तुम्हारे बिना शादी हुए।

तान्या: वो सब मैं कुछ नही जानती, अगर हम दोनो के फिगर मे अंतर हुआ तो मै तेरी जान ले लूंगी।

मैं: ठीक है।, लेकिन एक बात बता तुम दोनो मे से पीरियड्स किसे पहले आए।

तान्या: पहले दीदी के ही आए, उसके 3 या 4 महीने बाद मेरे आए।

मै: और पहले चूंचे किसके उगने शुरु हुए।

आन्या: दोनों के साठ ही। पहले मैंने ही बोला कि मेरा यांहा दर्द हो रहा है फिर इसने भी बोला कि मुझे भी होता है।

फिर मै उसके चूंचे चुसने लगा फिर उसकी चूत जोर जोर से चाटते हुए उसे झड़ा दिया।

फिर बहुत देर तक तान्या के चूचों को प्यार किया।

मैं: देख कितना प्यार कर रहा हूं तेरे चूचों को।

फिर मै आन्या के चूत में लन्ड घुसा उसे चोदने लगा। 15 मिनिट की चुदाई में वो 2 बार झड़ी। मैं उसे चोद ही रहा रहा था की नीचे से छोटी के रोने की आवाज आ रही थी। फिर उसकी मम्मी ने नीचे से आन्या के फोन पर कॉल कर दी।

मै: जल्दी उठाओ कहीं मम्मी ऊपर ना आ जाए।

आन्या:(अपनी सांसों को कंट्रोल करते हुए) हां, मम्मी बोलो क्या हुआ।

सासु मां: बेटा जाग रही थीं क्या।

आन्या: नही मम्मी सो गई थी। क्या हुआ और छोटी क्यों रो रही है।

सासु मां: अरे ये उठ गई है, और तुझे तो पता ही है ये सोकर आधी नींद में उठती है तो 1 घंटा तमाशा करती है। तू नीचे आ इसे देख। फिर फोन रख देती हैं। लेकिन फोन अभी कटा नही था।

मैं:( फोन को म्यूट करते हुए उसके ऊपर से उतर जाता हूं ) जाओ जल्दी नही तो मम्मी ऊपर ना आ जाए कहीं।

आन्या कपड़े पहनने लगती है। और नीचे चली जाती है। फिर तान्या मेरे खड़े लन्ड पर बैठ अपनी चूत मे मेरा लन्ड घुसा लेती है।

मैं: क्या कर रही हो यार। कोई आ जाएगा।

तान्या: कोई नही आएगा आप जल्दी जल्दी कर लो।

फिर वो मेरे लन्ड पर कूदते हुए चुदाने लगती है। फोन से अभी भी आवाज आ रही थी, ।

आन्या: क्या हुआ मेरा बच्चा क्यूं रो रहा है।

छोटी कुछ नही बोलती है बस रोए जा रही थी। फिर शायद सासु मां ने दो चाटे लगा दिए गुस्से।

सासु मां: अब बोल ना क्यों रो रही है।

आन्या: मार क्यों रही हो मैं पूछती हूं ना।

छोटी और जोर से रोने लगती है

आन्या: एक काम करती हूं इसे अपने साथ उपर ले जाती हूं, चलो बेटा ऊपर चलो।

सासु मां: (फिर एक थपड़ मारते हुए) अरे नही ऊपर कहा ले जायेगी, तुम दोनो को प्रॉब्लम होगी।

इसे तो आज मैं सुधार कर ही रहूंगी। हर रात नींद खराब करती है।

ससुर जी: अरे मार क्यों रही हो।

आन्या: ऐसे नही जाएगी रुको मैं उनको बुलाती हूं वहीं लेकर जाएंगे।

इधर मैं और तान्या जोर जोर से चुदाई कर रहे थे लेकिन फोन से आती उनकी बातों में ध्यान के कारण हम जल्दी झड नही रहे थे।

मैं: जल्दी से कपड़े पहनो कोई आ जाएगा।

फिर आन्या के आने से पहले मैंने जल्दी से शॉट्स और टी शर्ट पहन लिया।

आन्या: अरे, छोटी रो रही है और कुछ बोल भी नही रही है, आप उसे उठाकर उपर ले आइए ना।

मैं: ठीक है,

Jija ne sali ki seal todi

मैं बाथरूम जा खुद को साफ किया। और नीचे से छोटी को ऊपर ले आया लेकिन अभी भी वो रोए जा रही थी। तो मैं उसे वैसे ही छत पर ले गया ।
गोद में उठा उसे 1 घण्टे तक घुमाता रहा तब जाकर वो रोते हुए मेरे कन्धे पर सो गई। मुझे काफी ठंड लग रही थी तो मै उसे ले नीचे आ गया। आन्या और तान्या एक दुसरे से चिपक कर सो रही थीं फिर मैने छोटी को अपने साथ सुला लिया। अगली सुबह 9 बजे मेरी नींद खुली क्योंकि 3 बजे तक मैं जाग रहा था। फिर ऐसे ही घूमते फिरते 10 दिन निकल गए। यहां हम छुप छुप कर चुदाई का मजा ले रहे थे। कुछ दिन तो दोनों के पीरियड मे ही निकल गए।

फिर हमारे जाने का समय हुआ तो वो दोनों बहने एक दिन पहले से ही खूब रोने लगी अलग होने के गम में। फिर मां का फोन आया कि तान्या को भी साथ लेते आना। वो तेरे ऑफिस के काम में तेरा हाथ बटा देगी। फिर 2 जनवरी को हम घर आ गए। मां ने खूब स्वागत किया उनको देख खूब खुशी हुईं। Jija sali xxx sex story

मां: तान्या बेटा कल से तुम भी इसके साथ ऑफिस जाना , वहा जाएगी तो कुछ ना कुछ तो जरुर सीखेगी।

मै: पर ऑफिस में कोई पोस्ट खाली नही है।

मां: चुप कर , ये काम करने नही सीखने जाएगी।

फिर ऊपर आ हम आराम करने लगे मैं बीच मे लेटा था।

मै: वैसे तो मेरे ऑफिस में कोई पोस्ट खाली नही है, लेकिन एक पोस्ट क्रिएट कर सकते हैं।

तान्या: कौन सा।

मैं: मेरी पर्सनल सेकेट्री का, तो मिस तान्या क्या आप मेरी पर्सनल सेकेट्री बनने को तैयार हैं।

तान्या:(हंसते हुए) येस सर।

मैं: तो मिस तान्या आप सैलरी पैकेज में क्या एक्सपेक्टेशन रखती हैं।

तान्या: जी सर मुझे कुछ नहीं चाहिए, मुझे सिर्फ ये चाहिए।(मेरे लन्ड को पैंट के ऊपर से सहलाते हुए) और आपको मेरे चूंचे बड़े करने होंगे।

तान्या:(हस्ते हुए) जीजू आप रोल प्ले अच्छा कर सकते हैं। आज चलो ना रोल प्ले करते हैं, आप जॉनी बनना मै डैनी बनूंगी।

मै: पागल है क्या, और तुझे बहुत इनका नाम याद है। फिर सभी हंसते हुए आराम करने लगते हैं। फिर शाम को दोनों को मार्केट ले जाकर कपड़े ड्रेस दिला देता हूं। फिर सुबह उसे उठा रेडी होने बोला। वो स्कर्ट और शर्ट पहन रेडी हो गई। वो काफ़ी हॉट लग रही थी । वो मम्मी से और अपनी बहन से आशीर्वाद ले गाड़ी में बैठ जाती है। मैने मां से कहा की इसका ख्याल रखना अपनी बहन के बिना ये नही रह सकती। आन्या हमने पार्किंग तक छोड़ने आई मैंने उसके होंठ पर अपने होंठ रख दिए।

आन्या: इसका ख्याल रखना।

मैं:(उसके कमर सहलाते हुए) जी मालकिन।

फिर हम ऑफिस पहुंच सभी से उसे मिलाता हूं। फिर उसे अपने केबिन में ले जाता हूं। मेरा केबिन चारों तरफ़ से बन्द और पर्सनल है इसके आस पास भी किसी का आना मना है। केबिन मे आते ही।

तान्या:जीजू मुझे यहां करना क्या होगा।

मैं: वही जो एक पर्सनल सेकेट्री को करना होता है।

फिर मै पीछे से उसके बाजू पकड़ लेता हूं और उसके कान चुसने लगता हूं।

तान्या: आह छोड़ो ना जीजू क्या कर रहे हो।

मैं: (उसके गांड़ दबाते हुए)कौन जीजू मैं जीजू नही तुम्हारा बॉस हूं।

तान्या: आह येस बॉस।

फिर मै उसके गर्दन चूसते हुऐ उसे टेबल पर झुका, उसका स्कर्ट कमर तक उठा उसके दाएं टांग को टेबल पर रख दिया और उसके चूतड चाटने लगा उसे काटने लगा।
वो आह आह सी सी की मनमोहक आवाजें निकालने लगी। अब मैंने उसकी पैंटी उतार पीछे से उसकी चूत चाटने लगा। कुच देर बाद मैंने अपना लन्ड निकाला और पीछे से उसके चूत में घुसा उसे चोदने लगा वो सिसकारियां भरने लगी फिर कुछ देर बाद मैने उसे सीधा टेबल पर लिटा उसे चोदने लगा। 15 मिनिट बाद मैं झड़ने वाला था तो निकालने लगा तो उसने कहा कि भूल गए कल ही पीरियड बंद हुए हैं फिर मैं उसकी चूत में झड़ गया। फिर मैने उसके चूत को टिस्सू पेपर से साफ किया।

तान्या:(मेरे गले लगते हुए) जीजू आप बहुत रोमांटिक हो।

फिर हमने कुछ काम किया और घर आ गए। फिर कुछ दिन ऐसे ही निकल गए। फिर एक रात मैने आन्या को भी बोला की कल तुम भी आफिस चल देख लेना की तुम्हारी बहन वहा करती क्या है। अगले दिन सुबह वो साड़ी पहन तैयार हो गई ऑफिस जाने के लिए। वो काफी सुंदर लग रही थी। फिर हम तीनों ऑफिस पहुंच गए। सभी ने उसका स्वागत किया। फिर हम केबिन मे गए तान्या मेरे ही केबिन मे एक साइड में बैठ काम करने लगी। मैने आन्या को पुरा केबिन दिखाया , मेरा केबिन काफ़ी बड़ा था। फिर मैने उसे पीछे से पकड़ उसके गर्दन पर किस करने लगा।

आन्या:(धीरे से) क्या कर रहे हो।

फिर मै उसके कंधे को चुसने लगा। उसकी पीठ को चूमते हुए उसकी कमर पर पहुंचा, फिर उसे पलट उसके होंठो को किस करने लगा फ़िर उसके चूचों को ब्लाउस के ऊपर से काटने लगा फिर उसके सीने को चूमते चूसते उसकी पेट और नाभि को चूमने लगा । अब मैंने उसे अपने चेयर पर बिठा उसकी साड़ी कमर तक ऊपर कर उसके चूत पर पैंटी के ऊपर से मूंह लगा दिया फिर पैंटी उतार चूत चाटने लगा वो सिसकारियां भरने लगी उसकी सियकरियो की आवाज से तान्या का ध्यान हमारी तरफ गया।
तान्या: वाओ हाउ रोमांटिक बॉस लगे रहो l फिर मै कुर्सी पर बैठे उसे अपने लन्ड पर बिठा लिया और चक्के वाली कुर्सी को पूरे रुम में घुमा घुमा उसकी चुदाई कर रहा था। फिर हम कुछ देर बाद एक साथ झड़ गए। फिर हम घर आ गए शाम को। कुछ दिन बाद होली आने वाली थी तो एक शाम ऐसे ही मैं और तान्या ऑफिस से आए तो मां ने कहा। Jija sali xxx sex story

मां: कल तू ससुराल चला जा होली मनाने। पहली होली दुल्हन की मायके में होना चाहिए।

मैं: लेकिन अभी तो होली में दो दिन हैं।

मां: अरे तो क्या होली दिन जाएगा कल ही तो अजगा (होलिका दहन)है।

मै: ठीक है।

फिर हम खाना खा कर ऊपर आ जाते हैं। ऊपर आते ही.

तान्या: कल अगर घर जाना है तो आज रात हम जम कर सेक्स करते हैं, वहां जाकर मौका नहीं मिलता है। छुप छुप कर करना पड़ता है। कम से कम मेरी तो आप कर ही दो, आप दोनो को तो फिर भी मौका मिल जाएगा, और कोई देख भी लिया तो कोई बात नही पर मुझे कहा मौका मिलेगा।

उसकी बाते सुन हम दोनों को हसी आ गई। फिर उस रात मैंने आन्या को एक बार और तान्या को दो बार जोड़ से चोदा। झरते हुए उसने मेरे शरीर पर काट काट कर निशान बना दिया था। अब तो इसकी आदत हो गईं थीं मेरा एक निशान भरता उसके अगले ही दिन मुझे एक नया निशान काट कर दे दिया जाता। फिर अगली सुबह जल्दी उठ। अपने ससुराल जाने के लिए निकल पड़ा। वहां पहुंच हम सभी से मिले फिर 2 बजे से दोनों बहने और सासु मां खाना बनाने में लग गईं। मैं और छोटी ऊपर बैठ बाते कर रहे थे। फिर उसने मेरे कंधे पे नए काटने के निशान को देख लिया।

छोटी: जीजू क्या फिर आपको बिल्ली ने काट लिया है।

मैं: हां।

छोटी: तो ऐसी बिल्ली को आप पाल क्यों रहे हैं, मार कर भगा क्यूं नही देते।

मै:(हंसते हुए) अरे मुझे उस बिल्ली से प्यार हो गया है

छोटी: रुको जब मैं आपके घर जाऊंगी तो उस बिल्ली को मार मार सीधा कर दूंगी।

मैं: हां ठीक है।

फिर तान्या हमें नाश्ता के लिए बुलाने आ गई फिर हमने कचौड़ी गोल गप्पे खाए फिर शाम को छत से होलिका दहन देखा फिर 11 बजे एक साथ सोने के लिए आ गए। फिर अगली सुबह जम कर होली खेली गई कुछ आस पड़ोस के साले साली रंग लगाने आई तान्या और छोटी ने तो मुझे पुरा रंग दिया था मेरा पुरा शरीर तरह तरह के रंगों से पुता था मेरा चेहरा तो कोई पहचान नही सकता था। फिर 1 बजे मैं उनसे बचते हुए छत पर आ गया। और वहीं नहाने का सोचा फिर वो तीनों भी आ गईं आन्या ने मेरा टी शर्ट निकाल दिया और मुझे बिठा मेर पे पानी डाल रंग छुड़ाने लगी।। मैं सिर्फ़ हॉफ शॉर्ट्स में बैठा था वो दोनो बैठ मुझे नहाते हुए देख रही थीं।

छोटी: जीजू आपके शरीर पर ए इतने सारे निशान कैसे हैं, क्या आपके पूरे शरीर पर बिल्ली ने काटा है।

मैं:(हस्ते हुए) हां!

छोटी:(कुछ सोचते हुए) नही ये तो आदमी के दांत के निशान हैं। किसने काटा आपको।

मैं:(हस्ते हुए) किसी ने नहीं काटा।

छोटी: जरुर दीदी ने काटा होगा, जब आपकी लड़ाई हुईं होगी, मैं मम्मी को बताऊंगी, की दीदी ने जीजू को लड़ाई में दांत से काट पुरा शरीर जख्मी कर दिया है।

आन्या: पागल है क्या, तुझे पीटूंगी बताया तो।

छोटी: नही मै बताऊंगी की तुम जीजाजी से लड़ाई करती हो।

आन्या: अरे नही करती हूं लड़ाई।

छोटी: तो दांत क्यों काटा।

आन्या: अरे वो तो ऐसे ही……..(कहते हुए रूक जाती है)

छोटी: चलो कम से कम तुमने ये तो माना की दांत तुमने काटा है। क्यों काटा अब ये बताओ बिना लड़ाई तो काटी नही होगी। नही तो मै मम्मी को बताऊंगी।

आन्या:(हस्ते हुए) अरे ये सब पति पत्नी के बीच की बात है,।

छोटी: नही, शुरू मे सभी लड़ाई को पति पत्नी के बीच की बात बोल इग्नोर करते हैं फिर धीरे धीरे झगड़ा बडा हो जाता है। बताओ मुझे की दांत क्यों काटा।

आन्या: अरे प्यार से कभी कभी दांती काट ली जाती है।

छोटी: प्यार से दांती कैसे काटी जाती है।

आन्या:(उसके गालों पर काटते हुए) ऐसे। क्या मैने तुझे लड़ाई मे दाती काटा।

छोटी: नही।

आन्या: तो ऐसे ही पति पत्नी भी प्यार में दांती काट लेते हैं।

छोटी:(उसके पूरे शरीर पर नजर डालते हुए) पर तेरे शरीर पर तो कोई भी निशान नही है।

मैं (बात को बीच मे काटते हुए ): अब चलो इतनी देर से मैं नहा नहा कर ठंडा हो गया हूं।

फिर सभी नहाकर आ गए। फिर सबने मिलकर खाना खाया। फिर सोने जाते टाईम।

सासु मां: छोटी तू नीचे मेरे साथ सो जा।

छोटी: नही मैं दीदी के साथ सोऊंगी।

सासु मां: ठीक है तान्या दीदी के साथ सो जाना।

छोटी:(आन्या के गले लगते हुए) नही मै आन्या दीदी के साथ सोऊंगी।

फिर सभी ऊपर आ जाते हैं। फिर सभी हसी मजाक करते हुए सो जाते हैं। फिर 3 बजे के करीब छोटी उठ कर रोने लगती है। आन्या उसके मूंह मे अपना निप्पल डाल देती है। वो चुप हो सो जाती है। फिर कुछ देर बाद तान्या मुझे और आन्या को उठाती है। Jija sali xxx sex story

तान्या: देखा मैने बोला था ना, अब आप दोनो जाओ दुसरे रुम मे एंजॉय करो।

आन्या: पहले तू चली जा मै इसे सुला कर आती हूं।

तान्या: नही, आप दोनो जाओ मै इसे देखती हूं।

फिर आन्या और मैं दुसरे कमरे में आ रोमांस करने लगे। फिर जब हमारा हो गया तो हम आ गए, तान्या सो गई थी मैने उसे गोद मे उठा दुसरे कमरे में ले गया और उसे प्यार करने लगा जम कर उसकी चुदाई की। फिर वापस आ सो गए।

Jija sali ki sex story hindi mein

फिर अगले दिन सुबह उठ मै फ्रेश हो रात की बची हुई नींद पूरी करने लगा। की तभी मेरे ऊपर चढ़ कोई मेरे बाएं कंधे पर दांत लगाने लगा, मुझे लगा तान्या है, फिर मैने देखा तो छोटी थी फिर उसने जोर से दांत गडा दिया, फिर मैने हस्ते हुए उसे हटने बोला तो उसने और जोर से दांत गाड़ती चली गई मेरी चीख निकल गई, मेरी आंखों से आसू आ गए। पर उसे कुछ अंदाजा नहीं था मेरे दर्द का। तो उसने और दांत गडा दिया। फिर मै जोर से चीखा। मेरी चीख सुन आन्या आ गई। फिर उसने उससे मुझे छुड़ाया।
फिर वो मेरे आंसू देख सहम गई। मेरा कंधा पुरा जख्मी हो गया था काफ़ी खून निकलने लगा, उसके होंठों पर मेरे खून लगा था। मुझे बहुत ज्यादा दर्द हो रहा था। फिर तान्या भी आ गई।

तान्या:क्या हुआ?

आन्या: कुछ नही, छोटी ने जरा सी दाती काट ली।

तान्या:( मेरा कंधा देख गुस्सा होते हुए छोटी को पीटने को जाने लगी) ये जरा सा है इतना खून निकल रहा, आज इसे मै कुटती हूं।

मैं: दाएं हाथ से उसे पकड़ रोकता हूं।

आन्या: अरे जाने दो ना अब तुम पहले दवाई लाओ घाव साफ करो।

तान्या:(तिल मिला कर रह जाती है) तुम्हीं ने इसे सर पर बिठा रखा है।

छोटी अब भी कोने मे खड़ी बेसुध होकर। फिर तान्या मेरा घाव साफ करती है पट्टी बांध देती है, पेन किलर देती है, पेन किलर खाने से अब मेरा दर्द थोड़ा कम हुआ था।

आन्या: तान्या डॉक्टर के पास जाना पड़ेगा क्या।

तान्या: नही ज्यादा गहरा नही है घाव बस इसका दांत तेज है जिससे खून निकलने लगा।

मै: हां अब थोड़ी राहत है।

वो दोनो नीचे चली जाती है, सुनो मम्मी को मत बताना नही तो वो बेकार में गुस्सा करेंगी। मै छोटी को अपने पास बुलाता हूं। वो मेरे पास आ फफक कर रो पड़ती है।

मैं:( उसे चुप कराते हुए) कोई बात नही बेबी, चुप हो जाओ।

वो मेरे सीने पर सिर रख रोने लगती है। फिर मैं उसे चुप कराता हूं। फिर कुछ देर बाद वो नीचे चली जाती है। कुछ देर बाद तान्या एक टिटनेस का इंजेक्शन लेकर आती है ।

तान्या: लेट जाइए , इंजेक्शन लगाना है।

मैं:(मुस्कुराते हुए) डॉक्टरनी मैडम जी मुझे पीछे इंजेक्शन लगाने मे शर्म आती है आप बाजू में लगा दीजिए ना

तान्या: चुप चाप लेट जाइए नही तो गलत जगह इंजेक्शन लगा दूंगी।

फिर मैं इंजेक्शन लगवा लेता हूं। फिर उसी टाईम आन्या आ जाती है।

आन्या: मामा का एक्सीडेंट हो गया है।

मै: ज्यादा सीरियस है।

आन्या: शायद हां।

फिर तान्या, आन्या उसकी मां पापा मेरे गाड़ी से देखने चले जाते हैं। उसके नानी घर जो 110 किलोमीटर दूर है। दरअसल उसके एक ही मामा हैं जिन्होंने अभी शादी नही की है। उनके घर मे सिर्फ आन्या के नानी और उसके मामा रहते हैं। वाहा जा कर पता चला कि मामला काफी सीरियस है ऑपरेशन होगा 10 दिन हॉस्पिटल मे रहना पड़ेगा। फिर रात को आन्या का फोन आया कि मम्मी पापा हॉस्पिटल मे ही हैं मैंने खाना बना दिया है और अब खाना लेकर हॉस्पिटल जाना है।

आन्या: यहां नानी की भी तबियत खराब हो गई है।

शायद कुछ दिन हम दोनो को यही रहना पड़ेगा। आप छोटी का ख्याल रखना।

मैं: ओके, कोई बात नही।

फिर मैंने और छोटी रात को खाना जैसे तैसे बनाया और सो गए। वो मेरे सीने से सर रख सोई थी। सुबह मुझे बुखार सा लगा मेरा पुरा शरीर दर्द कर रहा था।

छोटी: जीजू आपको तो बुखार है।

मैं: हां।

छोटी: आप फ्रेश होने जाइए मैं दवा लेकर आती हूं।

मैं फ्रेश होकर निकला तो उसने मुझे नाश्ता और दवाई दी। मैंने नाश्ता कर दवाई खा ली।

छोटी: लाइए अपने कपड़े उतारिए मै आपकी मालिश कर देती हूं ।

मैं; अरे नही रहने दो।

फिर उसने मेरा शर्ट उतार दिया और गर्म तेल से पूरे शरीर की मालिश कर दी। अब मुझे काफी हल्का महसूस हो रहा था। फिर मैं नहाने जाने लगा तो वो भी आ गई।

छोटी: लाइए मै नहला देती हूं वरना आप घाव पर पानी डाल देंगे।

फिर उसने खाना बना मुझे खिलाया। फिर दोपहर में मालिश की और साथ में सो गई। 2 दिन में मैं ठीक हो गया। फिर अगले दिन खाना मैने बनाया।

छोटी: जीजू आप क्या खाना बनाते हो जी करता है आपकी उंगलियां चूम लूं।(ये कहते हुए वो मेरी उंगलियां चाटने लगी)

फिर दोपहर को उसने मुझे मसाज दिया मेरे कंधे पर क्रीम लगाया।

छोटी: जीजू दीदी बता रही थी कि आप भी मसाज काफी अच्छा करते हैं।

मै: करवाना है क्या।

छोटी:( अपने कपड़े खोलते हुए।) हां।

अब वो सिर्फ ब्रा पैंटी में थी।

फिर मैंने उसकी मसाज कर दिया। फिर रात को खाने के बाद हम सोने चले गए। वो सिर्फ ब्रा पैंटी में सोने आ गईं।

मै: ये बदमाश ये क्या पहना है।

छोटी: रहने दो ना जीजू बहुत गर्मी है।

मैं: फैन चला लो।

फिर मैंने फैन चालू कर दिया। हल्की ठंड लग रही थी तो मैंने हम दोनो को एक चादर ओढ़ लिया। फिर रात को वो मेरा शर्ट के बटन खोल मेरे निप्पल चूस रही थी।
मैंने उससे हटा लिया तो वो रोने लगी फिर मैं अपनी उंगलियां उसके हो होंठों पर रख दी। वो मेरी उंगलियां चूसते हुए सो गईं। Jija sali xxx sex story

फिर अगले दिन मैंने उसे स्कूल जाने बोला तो वो चली गई। फिर 2 बजे वो आ गई मैंने उसे खाना खिलाया फिर वो सो गई। 1 घंटे बाद वो उठी उसने अभी भी स्कर्ट और शर्ट जो स्कूल ड्रेस था पहन रखा था। मै अपने लैपटॉप पर कुछ काम कर रहा था। वो मेरे गोद मे आ मेरे सीने से लग बैठ गई। और मेरे गाल पर चूम लिया। मैने भी उसके गाल पर चूम लिया। फिर वो मेरे होंठों को चूमने लगी, मैने उसे हटाते हुए।

मैं: ये क्या हरकत है।

छोटी: करने दो ना जीजू।

मै: नही चलो अब निकलो तुम।

छोटी: करने दो नही तो मै फिर काट लूंगी।

मैं: पागल हो क्या होंठों पे किस कौन करता है।

फिर वो मेरे गले पर किस करने लगी। मैने उसे दूर किया और बोला चलो बताओ खाने में क्या बनाऊं।

फिर हम खाना खा सोने चले जाते हैं। आज फिर उसने ब्रा पैंटी ही पहन रखा था। फिर लेटते ही वो मेरे माथे को चूमने लगी मेर गालों को चूमने लगी।

मैं: उसे रोकते हुए। क्या कर रही हो, आज हो क्या गया है तुम्हें।

छोटी: दीदी ने आपका ख्याल रखने को बोला है।

मैं: ऐसे ख्याल रखा जाता है।

छोटी: (मेरे सीने पर किस करते हुए।) तो कैसे रखा जाता है।

मैं: पहले ये करना बन्द करो।

छोटी: नीचे बोला होंठों पर मत करो। यहां बोल रहे हो किस ही ना करूं।

मै:यार चाहती क्या हो।

छोटी: सच बोलूं तो मुझे आपसे प्यार हो गया है आई लव यू।(इतना बोल उसने मेरा हाथ पकड़ अपने चूंचे पर रख दिया)

मैने उसे एक जोर का थपड़ लगा दिया गुस्से में।

मै: पागल हो गई है पढ़ने लिखने की उम्र में ये सब सोचते रहती है। तभी 11th मे इतने कम नंबर आए हैं। सारा दिन बदमाशी।

वो रोने लगती है। मैं कान पे हेड फोन लगा सो जाता हूं। सुबह उठ वो बिना खाए स्कूल चली जाती है। दोपहर में जब वो आती है तो मै उसे समझाने लगता हूं। कि देखो ये सब नही करना चाहिए अगले साल तुम्हारा 12th का एग्जाम है। कुछ देर वो कुछ नही बोली।

छोटी:12th मे कितने मार्क्स लाने पर आप मुझे प्यार करोगे।

मैं: क्या बकवास है। मैं तुम्हें क्यों प्यार करूंगा।

छोटी: क्यूं दीदी को तो करते हो।

मैं:ओके 96%।

छोटी: अभी एक किस दे दो।

मैं: ओके।

फिर वो अपने पतले होंठ मेरे होंठो से लगा देती है।

मैं: चलो अब हो गया।

जीजा साली की सेक्स स्टोरी

फिर 3 दिन बाद वो सब आ गए। तो मैंने आन्या को बोला तो उसने बोला कि ये जीजा साली के बीच की बात है मुझे मत घसीटो। फिर मैने तान्या को बोला तो वो काफी गुस्सा हो गई और उसकी पिटाई करने को बोलने लगी फिर आन्या ने उसे रोक दिया और बोला कि उसका भी तो उसके जीजा पर हक है। फिर मै आन्या से गुस्सा हो गया। फिर हम घर आ गए। फिर रात को।

तान्या: आप दीदी से नाराज हैं।

मै: नही,

तान्या: तो फिर बात क्यों नही कर रहे।

मै: तुम देखा उसने छोटी को समझाया भी नही। वो अभी पढ़ने लिखने की उम्र में ये सब सोचती रहती है।

आन्या: मैने उसे बोल दिया है, अब वो आपको परेशान नही करेगी।

फिर ऐसे ही दिन निकल रहे थे। एक दिन मैं और तान्या ऑफिस में थे दोपहर में बादल लगने लगा।

मैं: तान्या चलो घर चलते हैं।

तान्या: ठीक है।

फिर घर आकर कुछ देर आराम करने के बाद,।

शाम हो चुकी थी,हल्की हल्की बारिश अब शुरु हो गई थी।

मैं: जल्दी से तैयार हो जाओ एक मीटिंग में चलना है। और हां साड़ी पहन लेना।

कुछ देर में वो तैयार हो गईं क्या लग रही थी साड़ी में।

मैं:(तैयार होते हुए, ) अब ऊपर से एक रेड फाइल लेकर आ जाओ।

वो तीसरी मंजिल पर बने रुम पर जाने लगी। फिर मै भी पहुंच गया। वो फाइल खोज रही थी।

मै: मिला क्या।

वो रुम से बाहर आ कर।

तान्या: नही मिल रहा है।

अब छत पर अंधेरा हो चुका था। मै उसे गोद मे उठा बारिश मे ले आया।

तान्या: क्या कर रहे हो। भीग जाऊंगी मैं।।

मैने उसे खड़ा किया और उसे बांहों मे भर उसके लबों पे गिरते पानी को अपने होंठों से लगा लिया। मैं उसे किस करने लगा । उसके गर्दन को चूसा उसके सीने को चूमते हुए उसके भीगे ब्लाउज के ऊपर से उसके चूंचे चुसने लगा। वो सिहर उठी। फिर घुटने पर बैठ उसके कमर पेट नाभी को जी भर कर चूसा। बारिश तेज हो चुकी थी। फिर मैं साड़ी उठा उसके चूतड चाटने चूसने लगा फिर इसकी पैन्टी उतार उसके चूत पर जीभ फिरा दिया वो आह आह करने लगी। फिर मैं खड़ा हो उसकी आंखों में देखा वो शर्म से लाल हो गई थी। मैं उसके होंठों को चूसते हुए अपनी जीभ उसके मूंह मे डाल देता हूं। फिर उसके ब्लाउज के बटन खोल उसके सीने और चूचों को चूसने और काटने लगा। फिर उसकी चूत चाटने लगा जोर जोर से वो मेरे बालों पर हाथ फेरने लगी । अब उसके पैर कांपने लगे थे कुछ देर बाद वो झड़ जाती है। फिर मैं खड़ा हो उसके पीठ को चूमते हुए उसके गान्ड को दबाने लगता हूं। अब मैं उसे गोद मे उठा अपना लन्ड उसके चूत में उतार दिया। और खचा खच चोदने लगा। 20 मिनट की चुदाई में वो 2 बार झड़ गई फिर मैं भी झड़ गया। फिर उसने मुझे किस किया स्मूच दिया। Jija sali xxx sex story

तान्या: थैंक्यू जीजू, आप कितने अच्छे हो, आपको अभी तक याद था। आई लव यू जीजू।

मैं: आई लव यू टू मेरी साली साहिबा।

फिर हम नीचे आ नहा लेते हैं। तान्या आन्या को सब बताती है।

आन्या : देखा जीजू तुझे कितना प्यार करते हैं, ऐसे ही छोटी को भी लगता होगा कि उसका भी तो उसके जीजा पर हक है।

फिर अगली रात।

तान्या: चलो जीजू आज रोल प्ले करते हैं।

मैं: कौन सा।

तान्या: आप बताओ।

मैं: डॉक्टर डॉक्टर।

तान्या: ठीक है आप डॉक्टर बन जाओ मैं नर्स।

मैं: नही मै मरीज बनुगा तुम डॉक्टर बनो।

आन्या: मै क्या बनू।

तान्या तुम नर्स बनो।

फिर हम खूब चुदाई करते हैं। अब तो हर वीक कोई ना कोई रोल प्ले करते थे। फिर ऐसे ही समय बीत गया और कुछ दिन बाद छोटी का बर्थ डे आ गया तो फिर मुझे ससुराल जाना पड़ा, । उसके बर्थ डे के एक दिन पहले हम पहुंच गए सुबह 11 बजे। फिर सासु मां को मार्केट जाना था तो 1 बजे तीनो मार्केट चली गई। छोटी स्कूल से नही आई थी मै घर पर ही था। 2 बजा तो मै गली मे गया। कुछ देर में वो आती दिखी, मुझे खड़ा देख वो दौड़ते हुए आई और मेरे गले लग मेरे गोद में चढ़ गई। मेरे गाल और गर्दन पर चुम्बन करने लगी। मैं गुस्सा हो गया, फिर उसने चूमना बंद किया। फिर मैने सोचा कि अब इससे बात ही नहीं करूंगा। मै कुछ नही बोल रहा था, उसके पसीने की खुशबू आ रही थी। फिर मै उसे गोद में उठा अन्दर ले आया उसे दूर करने लगा।

छोटी: आप कुछ बोल क्यों नही रहे हैं। नाराज हैं मुझसे।

मैं कुछ नही बोला बस उससे खुद को छुड़ाने लगा फिर उसने नही छोड़ा तो मैं सोफे पे बैठ गया वो अब भी मेरे गले में लटकी हुई मेरे गोद मे बैठी थी। मै कुछ नही बोल रहा था।

छोटी: जब तक आप मुझसे बात नही करेंगे मैं ऐसे ही रहूंगी।

मैं कुछ नही बोला कुछ देर में वो मेरे सीने पर सिर रख सो गईं। फिर मैने उसे हटाया , उसे सोफे पे सुला दिया उसके जूते उतारे। पैर से जूते की बदबू आ रही थी तो बाल्टी में पानी ला पैरों को पोछा। फिर सोने छोड़ दिया। फिर कुछ देर में वो उठ गई तो उसके लिए खाना निकाल दिया।

छोटी: जब तक मुझसे बात नही करते मै खाना नही खाऊंगी।

मै कुछ नही बोला । मैने एक निवाला उसके मूंह के तरफ बढ़ाया उसने मूंह मे डाल लिया। फिर मै बिना कुछ बोले अपने हाथों से खाना खिला दिया। वो मुझे तरह तरह से मनाने की कोशिश करती रही, लेकिन मै नही बोला। फिर वो मेरे गोद मे बैठ गई सोफे पर और अश्लील हरकतें करने लगी। पहले मुझे लगा मुझे मनाने के लिए खेल रही है मेरे साथ, लेकिन फिर मुझे लगा कि ये अपने चूतड को मेरे लन्ड पर घिस रही है। मैने उसे धक्का दे हटाया। फिर रात को खाना खाकर हम रुम मे आ गए। Jija sali xxx sex story

छोटी: देखो ना दीदी जीजा जी मुझसे बात नही कर रहे हैं।

आन्या: क्यों क्या हुआ? क्यों बात नही कर रहे हैं।

मै:( डांटते हुए) ये जीजा साली के बीच की बात है तुम बीच मे मत पड़ो।।।

आन्या चुप हो गई।

छोटी: आप दीदी को क्यूं डांट रहे हैं, मेरी वजह से।

मै चुप हो जाता हूं।

तान्या: तूने ज़रूर कुछ किया होगा, वरना ये कभी गुस्सा नही करते।

छोटी: मैंने क्या किया।

मै: क्या किया, मै बताऊं क्या सब तुम्हारी हरकतें सबको।

छोटी चुप हो जाती है।

मै: इनका पढ़ाई लिखाई से कोई लेना देना नही है।

आन्या: हुआ क्या।

मैं: यार, तान्या तुम अभी रुको, पापा जी से बोलकर पहले इसकी शादी करवाओ, बड़ी इन्हे जवानी छाई है इश्क का फितूर चढ़ा है इनको।

आन्या: हुआ क्या है पहले ये तो बताओ।

मै: मैने तुम्हें पहले ही कहा था कि समझाओ उसे लेकिन नही। अब मै यहां नही रुकूंगा मै सुबह चला जाऊंगा, तुम्हें जब आना हो आ जाना।

आन्या:लेकिन हुआ क्या कोई बताएगा।

मै: ये अब बतमीजी पर उतर आई है।

मेरे इतना बोलते ही छोटी कपस कपस कर रोने लगती है।

छोटी:(रोते हुए) सॉरी जीजू मै अब कभी ऐसा नही करूंगी। मुझे माफ कर दो। मुझसे गलती हो गई।

मै कुछ नही बोला। आन्या उसे चुप कराने लगी। तान्या ने आन्या के कान मे कुछ कहा।

जीजा साली की चुदाई कहानी

आन्या: तो क्या हो गया जो ऐसा कहा इसने सबको हो जाता है। और अपने जीजा से प्यार हो जाना इस उम्र में तो आम बात है। इसने इतना गुस्सा करने वाली कौन सी बात है आखिर इसका कुछ हक है कि नही आप पर।

मै: हक है बिल्कुल हक है, लेकिन ये पढ़ने लिखने की उम्र है। अगले साल इसका 12th है, मम्मी बता रही थीं कि 11th मे 68% आए हैं।

छोटी: (रोते हुए)मैने आपसे वादा किया है ना कि 12th मे मैं 96% लाऊंगी।

मै: ऐसे आयेंगे?

तान्या: अब छोड़िए भी अब ये सब नही करेगी, चलिए माफ कर दीजिए।

मै: ठीक है।

फिर छोटी खुश हो मेरे गले लग जाती है। फिर हम सो जाते हैं। फिर सुबह उसे बर्थ डे विश करता हूं। फिर शाम को सब नीचे केक काटने का इंतजार कर रहे होते हैं।

आन्या: (मुझे ऊपर जाने को बोलते हुए) छोटी को आपसे कुछ काम है।

मैं: (ऊपर जाता हूं) चलो छोटी सब तुम्हारा इंतजार कर रहे हैं।

वो कुछ नही बोली।

मै: क्या हुआ चलो।

छोटी: मुझे मेरा बर्थ डे गिफ्ट चाहिए।

मैं: मैं तुम्हारे लिए रिंग लाया हूं। चलो नीचे देता हूं।

छोटी: नही मुझे कुछ और चाहिए, अभी ही।

मै: क्या।

छोटी: एक किस कर दो ना आप।

मैं:( उसके माथे को चूमते हुए)बस इतनी सी बात।

छोटी: यहां नही होंठों पर।

मैं उसका मन रखने के लिए होंठों पर चूम लेता हूं।

उसकी आंखें खुशी से नम हो जाती हैं। फिर केक काट खाना खा कर हम ऊपर आ जाते हैं। फिर अगले दिन हम घर आ गए। फिर ऐसे ही साल निकल गया और हमारी शादी को एक साल हो। एक दिन ऐसे ही हम सभी बैठ बाते कर रहे थे। Jija sali xxx sex story

पापा: (हस्ते हुए) लगता है मुझे पोते पोती को पीठ पर घुमाने का सौभाग्य नसीब नहीं होगा।

मां: क्यों क्या हुआ।

पापा: अरे मै बूढ़ा हो गया हूं।

मां: तुम बूढ़े हो गए तो इनकी क्या गलती अभी ये जवान हैं खेलने खाने के उम्र है।

फिर हम ऊपर आ। मैं आन्या को प्यार करने लगा फ़िर मैं उसे चोदने लगा उसकी आंखों में देखा तो उसने इशारे में कहा कि पापा जी सही बोल रहे हैं। फिर मैं उसके अन्दर झड़ गया फिर अब जब भी आन्या की चुदाई करता तो उसके अन्दर ही निकाल देता। फिर 2 महीने बाद एक सुबह मैं फ्रेश हो निकला तो आन्या उठ रही थी, फिर तान्या जल्दी से उठ बाथरूम चली गई कि मुझे जल्दी है। मै आन्या के गोद मे सर रख लेटा था वो मेरे बालों को सहला रही थी।

मैं:(उसके पेट को चूमते हुए) तुम प्रेग्नेंट हो क्या।

आन्या: मैने अभी तक चेक नही किया है लेकिन पिछले महीने से मेरे पीरियड नही आए हैं।

मै: तो चेक कर लो।

फिर तान्या बाहर आकर मेरे सीने पर सर रख लेट जाती है, और आन्या अन्दर चली जाती है। फिर कुछ मिनट में वो शर्माते हुए निकलती है। मै खुश हो मुस्कुराने लगता हूं। हम दोनो को मुस्कुराता देख।

तान्या: क्या हुआ आप लोग मुस्कुरा क्यों रहे हो।

आन्या हमारे पास बैठ उसे किट देती है। तान्या किट ध्यान से देखखुशी से चिलाने लगती है।

तान्या: ओह माई गॉड तू मम्मी बनने वाली है। मैं मौसी बनने वाली हूं। आई लव यू जीजू आई लव यू दीदी।

इतना बोल वो आन्या को गले लगा लेती है चूमने लगती है। फिर आन्या मुझे चूमने लगी । वो मेरे माथे को चूम आई लव यू जान बोलती है।मेरे गले को चूमती है मेरे सीने को चूमती है। मै उसके पेट को चूम लिया। फिर हम नीचे आ मम्मी को बताते हैं मां पापा बहुत खुश हुऐ। फिर उसके मां को बताया वो लोग भाई काफी खुश हुऐ। फिर शाम को तो मां पापा ने उसके डायट की चार्ट ही बना दिया क्या खाना है क्या नही क्या करना है क्या नही करना। फिर रात को छोटी फोन करती है की उसका 40 दिन बाद जब 12th का एग्जाम खत्म हो जाएगा तो वो दीदी के पास आ जाएगी, मैने कहा ठीक है। फिर हम प्यार करने लगे।

तान्या: आज भर जितना करना है कर लो इसके बाद नही करने मिलेगा। उसके पास फटकने भी नही दुंगी।

मैं: जब आन्या को नही करूंगा तो तुम्हे भी नही करूंगा।

तान्या: ठीक है।

फिर मैं दोनो की चुदाई करता हूं आन्या को आराम से चोदता हूं।

फिर कुछ दिन निकल गए। एक रात आन्या और मैं किस करने लगे तो तान्या ने हमें करने नही दिया फिर अब वो मेरे और आन्या के बीच में सोने लगी। अब हमें सेक्स किए हुए 15 दिन हो गए थे। एक रात तान्या के सोने के बाद आन्या ने मुझे चुपके से उठा अपने साइड बुला मुझे किस करने लगी।

मै: क्या कर रही हो।

आन्या:( मेरे होंठ चूसते हुए) कुछ मत बोलो।

वो मुझे बेतहासा चूमे जा रही थी। फिर उसने मुझे सीने से लगा लिया मैं उसके सीने को चूमने चाटने लगा। फिर ब्लाउस खोल उसके मम्मे चूसने पीने लगा वो सिसकारियां भरने लगी फिर मैं उसके पेट चूमते चूमते उसकी साड़ी उठा बिना उसके ऊपर लेटे उसकी चुदाई करने लगा। फिर हम दोनो कभी कभी छुप छुप कर चुदाई करने लगे। छुप छुप कर चुदाई करने का अलग ही मजा आ रहा था। फिर एक रात मैं उसकी साड़ी में घुस चूत चूस रहा था कि तभी तान्या की नींद खुल गई।

तान्या: ओहो तो मुझसे छुप छुप कर ये सब चल रहा है। अभी तो कर लो कल से देखती हूं,

।मैं: अरे अभी दूसरा ही महिना है अभी करने में कोई दिक्कत नही है।

तान्या: कल से हाथ तक नही लगाने दूंगी, कुछ करना तो भूल ही जाओ।

फिर मैं तान्या को चोदने लगता हूं आज 1 महीने बाद वो चूद रही थी उसे मजा आ गया। फिर अगले दिन ऑफिस जाते टाईम आन्या टिफिन देने आई तो तान्या भी आ गई और मुझे किस भी नही करने दिया।

मै:( उसके गांड़ पर थपड़ लगाते हुए) तुझे किसी रात बताता हूं।

फिर मैं ऑफिस चला गया, तान्या ऑफिस नही जाती थी वो आन्या के साथ रहती थी।। फिर रात को उसने मुझे बेड रूम मे सोने बोला और खुद आन्या को ले स्टडी रूम मे चली गई और अन्दर से बन्द कर दिया। मुझे गुड नाईट किस भी नही करने दिया। फिर कुछ दिन ऐसे ही चला तो आन्या ने मुझे आंखों से इशारा किया। फिर मैने दिमाग लगाया। सुबह उठते ही बोला। Jija sali xxx sex story

मैं: तान्या आज ऑफिस मे बहुत काम है तुम चलोगी।

तान्या: ठीक है।

फिर मै उसे आफिस ले गया और उसे ढेर सारा काम बता दिया।

मैं: तुम काम करो मै एक मीटिंग अटेंड कर आता हूं।

फिर मैं घर आ गया। अपने रुम में पहुंच गया, मुझे देखते ही आन्या ने मुझे अपने सीने से लगा लिया मुझे प्यार करने लगी। हम दोनों इस तरह से चिपके थे जैसे पता नहीं फिर कब मिले वो मुझे हर जगह चूम रही थी मेरे सर पर माथे पर गले पर सीने पर कंधे पर। फिर हम आराम आराम से चुदाई करते हैं। फिर मैं ऑफिस चला जाता हूं।
शाम को जब घर आता हूं तो। मम्मी से किसी तरह तान्या को पता चल जाता है कि मै घर आया था। फिर ऊपर आते ही।

जीजा साली चुदाई की कहानियाँ

तान्या: आप तो मीटिंग में गए थे तो मम्मी क्यों बोल रही थी कि घर आया था।

मै: कुछ फाइल छूट गया था।

मेरे और आन्या के चेहरे के मुस्कुराहट देख उसे पता चल जाता है कि हमने चुदाई की है।

तान्या: अच्छा जी आशिकी चल रही है।

फिर वो दोनों स्टडी रूम मे सोने चली जाती है। फिर एक दिन रात को आन्या बाथ रूम के दरवाजे से अन्दर आ मुझे प्यार करने लगती है। फिर मम्मी बोलती है कि बहु की गोद भराई करेंगे तो तू जा और अपनी सास और छोटी को ले आ। फिर मैं जाता हूं और दोपहर तक उन्हें ले आता हूं। मेरी सास अपनी बेटी को देख बहुत खुश होती हैं। शाम को सभी बैठ बातें कर रहे थे, मम्मी और सास मम्मी के कमरे मे थी हम बाहर सोफे पर। कितने दिनों बाद मैं और आन्या इतने नजदीक आए थे।

आज हम दोनों एक साथ बैठ कर ही काफी खुश थे हम दोनो एक दूसरे का हाथ थामे बैठे थे मुझे काफी अच्छा लग रहा था। तान्या आज कुछ बोल भी नहीं सकती थी सबके सामने। तभी मेरे दिमाग मे आइडिया आया कि अब सब के सामने ही आन्या के साथ वक्त बिताऊंगा अकेले में तो तान्या छूने भी नही देती थी। फिर मैने सासु मां को वो केमिस्ट की दुकान वाली बात बताता सुना दी। मेरी मां खूब हंसी फिर उन्होंने ने पापा को भी ये बात बता दी की मैने ऐसा बोल दिया था। पापा भी खूब हंसे। मेरी सास शर्मा गई। फिर रात को सोते टाईम सासु मां मम्मी के साथ सो गई, पापा दुसरे रूम मे और हम चारों ऊपर आ गए।

छोटी: मै दीदी के साथ सोऊंगी।

तान्या: नही तू हाथ पैर मारती है चोट लग जायेगा।

ऐसा कर तू जीजू के साथ सो जा मै दीदी के साथ सो जाती हूं। मैने मना कर दिया।

मै: ऐसा करते हैं तुम दोनों स्टडी रूम में सो जाओ और मैं और आन्या यहां सो जाते हैं।

तान्या मुझे आंख दिखाते हुए हां बोल देती है। फिर हम सोने चले जाते हैं। कुछ देर बाद,

तान्या: कुछ करना मत।

Jija sali xxx sex story

मै: ठीक।

फिर आन्या मुझे अपने सीने से लगा लेती है फिर हम सो जाते हैं। फिर अगले दिन सारे रस्म होते हैं धूम धाम से। फिर उसके अगले दिन मैं सासु मां को छोड़ आता हूं छोटी यहीं रह जाती है।

फिर सभी सोने जाते हैं, आज रात आन्या कुछ ज्यादा ही कामुक हो रही थी मुझे चूमे जा रही थी मेरा सिर अपने सीने में दवा रही थी तो मैंने उसे खूब चूसा चाटा उसके बूब्स पिए फिर हल्के हल्के उसकी चुदाई की तब जाकर उसे नींद आई। फिर सुबह तान्या हमारे कपड़ो और बेड की हालत देख भांप गई की उसकी चुदाई हुई है। फिर अगली रात उसने मुझे आन्या के साठ नही सोने दिया। अब मैं और छोटी स्टडी रूम मे सोने आ गए।

छोटी: आपको अपना वादा याद है ना।

मै: कैसा वादा:।

छोटी: यहीं की अगर मेरे 96%मार्क्स आए तो आपको मुझे प्यार करना होगा। 15 दिन में मेरा रिजल्ट आ जायेगा।

मैं: ठीक है पहले लाओ तो।

अब 5वा महिना शुरु हो गया तो हमने भी सेक्स बन्द कर दिया। तान्या को चुदाई कराए 3 महीने से ऊपर हो गए थे। एक दिन रात में मैं और छोटी सो रहे थे तो आन्या का फोन आया। मैने सोचा क्या हुआ जो इतनी रात को फोन कर रही है। मैं बेड रूम मे गया। Jija sali xxx sex story

मै: क्या हुआ कोई दिक्कत है।

आन्या: नही इसे नींद नहीं आ रही है।

मैं: क्यों?

आन्या: 3 महीना हो गया तो इसे यहां खुजली हो रही है।

मैं: तो मैं क्या करूं?

आन्या: तो आप खुजली मिटा दो।

फिर मैं तान्या को उसी फ्लोर पर दुसरे रूम मे ले जाता हूं। उसके गले पर चूमने लगता हूं फिर गर्दन सिने पर चूसते हुए उसके चूंचे सूट उतार चुसने चाटने लगता हूं।
फिर उसकी चूत चाटने लगा। फिर जम कर उसकी 4 बार चुदाई की। फिर हम आकर अपनी अपनी जगह सो गए। फिर कुछ दिन बाद रिजल्ट आ गया उसके 97% नंबर आए थे मैं एकदम भौचक्का रह गया।

सब बहुत खुश थे। फिर रात को सोते टाईम।

छोटी: 97% नंबर आ गया मेरा अब मुझे प्यार करेंगे ना।

मै: करता तो हूं तुमसे प्यार। अब कैसे करूं।

छोटी: जैसे दीदी को करते हैं।

मैं: कैसे।
छोटी:(मेरे सीने पर हाथ फेरने लगी और मेरे पेट पर अपनी एक जांघ रख दी।) ऐसे करो मुझे प्यार।

मैं: ठीक है तुमने रख दिया अब सो जाओ।

छोटी: आप ऐसे करो।

मैं:( उसे डांटते हुए) ज्यादा पागल मत बनो नही तो मै फिर तुमसे बात करना बन्द कर दूंगा।

छोटी:(रोने लगती है) आप अपना वादा तोड़ रहे हैं , नही प्यार करना था तो वादा क्यों किया।

मै:(उसे चुप कराते हुए) अरे मै अपना वादा नही तोड़ रहा हूं,, लेकिन तुम अभी छोटी हो इस सबके लिए, अभी उम्र ही क्या हुई है तुम्हारी।

छोटी: अगले महीने मैं 18 की हो जाऊंगी फिर देखती हूं आप कैसे मुझे प्यार नही करते।

फिर कुछ दिन बाद चेकअप के लिए ले जाते हैं तो डॉक्टर बताती है कि ट्विंस हैं। और मुझे वजाइनल मसाज के लिए बोलती है दिन में दो से तीन बार।
सभी काफी खुश हुऐ ट्विंस का सुनकर। मैं आन्या को बोलता हूं। फिर रात को छोटी के सोने के बाद मैं आन्या के पास आता हूं।

तान्या: क्या हुआ।

मैं: मसाज करने आया हूं दिन में तो टाईम नही मिलता

फिर मै ऑयल से आन्या के चूत को मसाज देने लगता हूं।

तान्या: मुझे भी सीखा दो दिन में टाइम निकाल मै कर दूंगी।

फिर छोटी का बर्थ डे कल आने वाला था। तो मैंने सारी बातें आन्या और तान्या को बताई।

आन्या: मेरी मानो तो थोड़ा प्यार उसे भी दे दो आखिर अपने जीजा पर उसका भी तो हक है।

फिर काफी मनाने पर मैं मान गया।

फिर शाम को केक काट खाना खा ऊपर आ गए। ऊपर आते ही आन्या ने पुरा कमरा सुहाग रात की तरह सजा रखा था। छोटी ने लहंगा चोली पहन रखा था।
मुझे उसे देख लगा कि आज फिर मेरी सुहाग रात है। वो मुझे किस करने लगी मेरे होंठ चूसने लगी दोनों बहनें वहीं बैठी थी। फिर मैंने उसके गर्दन को चूसा चूमा फिर उसके चूंचे चुसे पेट और नाभी चूसी उसका लहंगा उतार उसकी चूत चाटने लगा वो सिसकारियां भरते हुए झड़ गई। फिर कुछ देर मैंने अपना लन्ड उसके चूत पर रगड़ा और फिर मैने धीरे से अपना सुपाड़ा उसकी चूत में घुसा दिया। वो चीख पड़ी। फिर धीरे धीरे मैंने पुरा लन्ड घुसा दिया वो रोने लगी उसके चूत से खून निकल आया। फिर मै उसे धीरे धीरे चोदने लगा उस रात उसे दो बार जोड़ जोर से चोदा। अगले दिन उसकी चूत सूज गई थी फिर उसने कभी चुदाई के लिए नही बोला। Jija sali xxx sex story

फिर वो चली गई।

अब 9वा महिना चल रहा था अब आन्या निचे मां के पास सोती थी और मै और तान्या ऊपर सोते थे। एक रात हम चुदाई कर बाहों मे बाहें डाल बाते कर रहे थे। वो रोने लगती हैं।

मैं: क्या हुआ क्यों रो रही हो।

तान्या: मम्मी बता रही थी की मेरी शादी के लिए रिश्ता आया है। अब मुझे मेरी बहन से अलग होना पड़ेगा, मैं उसके बिना नही जी सकती मै मर जाऊंगी, मुझे अपने बहन के बच्चों के साथ खेलना है उनको प्यार देना है।

मैं:(चूमते हुए) चुप हो जाओ।

तान्या:(और रोने लगती है) आप मुझसे शादी कर लोगे तो सारी समस्या ही खत्म हो जाएगी। प्लीज कर लो ना।

मैं चुप हो जाता हूं।

फिर मै अकेले में अपनी मां को ये बताता हूं।

मां: मैं तो उसे अपनी बहू पहले ही मान चुकी हूं, अब मेरी दो दो बहु हो जायेगी।

फिर पापा और मैं चुपके से उसके मम्मी पापा से बात कर लेते हैं।
वो बहुत खुश होते हैं। फिर मुझे एक बेटा और एक बेटी जुड़वा होते हैं। फिर जब वे दोनों अपने नाती को देखने आते हैं तो तान्या को पता चलता है कि मै उससे शादी करना चाहता हूं। वो और आन्या काफी खुश होती हैं। फिर उसके और मेरे मम्मी पापा डिसाइड करते हैंकी। उसकी शादी मेरे घर पर होगी और मै अपने ससुराल से अपने घर बरात ले कर आऊंगा।

फिर 2 महीने बाद हमारी शादी थी। मैं अपने ससुराल 10 दिन पहले चला जाता हूं। वहा मैं छोटी के साथ सोता हूं, एक रात वो मुझे रिझाने लगती है। मुझे चुसने लगी चूमने लगी। मैने उसे मना किया।

छोटी: मेरी दोनो बहनों को तुम चोदते हो , तो मुझमें क्या काटा लगा है।

फिर इतना बोल वो मेरा हाथ अपने लोअर मे सीधा अपनी चूत पर रख लेती है। मैं अपनी बीच की पुरी ऊंगली उसकी चूत मे डाल देता हूं वो आह आह करने लगती है।
मैं उसकी जमकर 2 बार चुदाई करता हूं। फिर मैं अपनी बारात ले अपने ही घर ले आता हूं फिर हमारी शादी होती है और हम हंसी खुशी रहने लगते हैं।

अगर ये कहानी आप यहां तक पढ़ चूके तो आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

सलाह एवम सुझाव के लिए नीचे कमेंट करें धन्यवाद।

Read More Jija Sali Sex Stories

See also  ससुराल मे सबने मुझे चोदा

Leave a Comment